close ads


कोरोना के विरुद्ध एकजुटता के साथ युद्ध, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सांसद और विधायकों के साथ वीसी 

कोरोना के विरुद्ध एकजुटता के साथ युद्ध, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सांसद और विधायकों के साथ वीसी 

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेशभर में सांसद और विधायकों से चर्चा कर रहे है. लॉक डाउन 3 के तहत जारी किए गए विभिन्न दिशा निर्देशों और कोरोना महामारी से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सांसद और विधायकों का पक्ष जाना. उदयपुर के सांसद अर्जुन लाल मीणा और जिले के सभी विधायकों ने इस मौके पर अपने-अपने क्षेत्रों में आ रही परेशानियों और अन्य मसलों से मुख्यमंत्री को अवगत कराया. इस मौके पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी सभी सांसद और विधायकों को आश्वस्त किया है कि किसी भी तरीके की कोई परेशानी लोगों को नहीं होने दी जाएगी, साथ ही उन्होंने जनप्रतिनिधियों से आह्वान किया कि कोरोना जैसी महामारी से निपटने में सभी एकजुटता के साथ कार्य करें.

सीपी जोशी ने उठाया प्रवासियों का मुद्दा:
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की वीसी में विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी भी जुड़े है. सीपी जोशी ने सीएम को इस पहल पर धन्यवाद दिया है. सीपी जोशी ने कहा कि नेताओं की जिम्मेदारी है कि लोगों के मन से डर निकाले. सावधानी जरूर रखें, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क के बिना काम नहीं चलेगा. राज्य में एक भी मरीज वेंटिलेटर पर नहीं है. विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि बिहेवियर चेंज जरूरत और इसमें नेता महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है. सीएम गहलोत और सीपी जोशी की वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये वार्ता हुई, जिसमें सीपी जोशी ने प्रवासियों का मुद्दा उठाया है.

COVID-19: कोरोना की चपेट में आये एयर इंडिया के कर्मचारी, 5​ पायलट समेत 7 पॉजिटिव

सीएम गहलोत का जताया आभार:
मुख्यमंत्री गहलोत के संवाद में 17 मई के बाद की रणनीति को लेकर चर्चा कर रहे है. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने सुझाव देते हुए नई परिपाटी शुरू करने के लिए सीएम गहलोत का आभार जताया है. कटारिया ने अन्य राज्यों से आ रहे श्रमिकों की परेशानी का मुद्दा उठाया है. कहा कि राज्य की सीमा पर उन्हें घंटों इंतजार करना पड़ता है. पैदल चल रहे लोगों के लिए वाहन और भोजन की व्यवस्था सरकार करवाए. कुछ मुद्दों पर कटारिया ने नाराजगी भी जताई है. कोरोना सेंटर में बड़े चिकित्सकों के नहीं जाने पर कटारिया ने नाराजगी जताई है. कटारिया ने कहा कि कहा कि दिल्ली ने कुछ नहीं दिया इस तरह के बयान देना गलत है. जवाब में हमें भी बयान बाजी करनी पड़ती है. विधानसभा में जब हम कह चुके है, राजनीति से ऊपर उठकर हम सरकार के साथ है. चिकित्सक और पुलिसकर्मियों पर हमला करने वालों के खिलाफ संगीन केस बनाए जाएं.

श्रमिकों और मजदूरों को रोजगार मिले:
सीएम अशोक गहलोत की सांसद-विधायकों के साथ वीसी में पाली सांसद पीपी चौधरी ने कहा कि विदेशों में फंसे लोगों को लेकर केंद्र प्रयास कर रहा है. 14800 विद्यार्थियों को पहले फेज में लाने की व्यवस्था की है. विदेश में रहे विद्यार्थियों को लाने का सेकंड फेज 15 से शुरू होगा. दूसरी तरफ कहा कि सभी कलेक्टर्स सांसद विधायकों को हर नई एडवाइजरी भेजें. जो भी निर्णय लो वह निर्णय फास्ट होना चाहिए. पास का सिस्टम सरलीकृत होना चाहिए.ऑनलाइन और ऑफलाइन पास का सिस्टम होना चाहिए. वीसी में साथ ही पीपी चौधरी ने कहा कि श्रमिकों और मजदूरों को रोजगार मिले. पीपी चौधरी ने कहा कि आप प्रधानमंत्री तक भी बात रखें. मुख्यमंत्री ने मुस्करा कर कहा कि आपकी बात पहुंच जाएगी.

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 3753 कोरोना संक्रमित, जयपुर में एक की मौत, 11 नए पॉजिटिव आये सामने   

और पढ़ें