राजस्थान: पहले दिन करीब 74 % लाभार्थियों को लगा टीका, सभी 33 जिलों के लिए कुल 16613 हेल्थ वर्कर थे रजिस्टर्ड

जयपुरः राजस्थान में पहले दिन करीब 74 फीसदी लाभार्थियों को कोरोना वायरस का टीका लगाया गया. सभी 33 जिलों के लिए कुल 16613 हेल्थ वर्कर  रजिस्टर्ड थे. इसमें से 12258 हेल्थ वर्कर्स को कोरोना का टीका लगा. अजमेर में 700,अलवर में 670, बांसवाड़ा में 371, बारां 242, बाड़मेर में 214, भरतपुर में 218, भीलवाड़ा में 527, बीकानेर में 191, बूंदी में 300,चित्तौड़गढ़ में 302, चूरू में 237, दौसा में 205, धौलपुर में 270, डूंगरपुर में 372, गंगानगर में 329, हनुमानगढ़ में 285, जयपुर में 1303, जैसलमेर में 108, जालोर में 293, झालावाड़ में 257, झुंझुनूं में 229, जोधपुर में 908, करौली में 355, कोटा में 372, नागौर में 524, पाली में 426, प्रतापगढ़ में 157, राजसमंद में 290, सवाई माधोपुर में 200 सीकर में 242, सिरोही 197, टोंक में 202 और उदयपुर में 762 हेल्थ वर्कर के  टीका लगाया गया. इस दौरान इक्का-दुक्का जगह वैक्सीन का माइनर एडवर्स इफेक्ट सामने आया. कुछ हेल्थ वर्कर्स में हल्के बुखार,सिरदर्द, घबराहट की दिक्कतें सामने आई.

जयपुर में वैक्सीनेशन का पहला दिनः
जयपुर में 21 सेन्टरों पर पहले दिन 62 फीसदी टीकाकरण रहा. 2100 रजिस्टर्ड हेल्थ वॉरियर्स में से 1303 को टीका लगा. इस दौरान 3 हेल्थ वॉरियर्स को एईफआई की दिक्कते सामने आई. एसएमएस अस्पताल में शत प्रतिशत ऑफलाइन टीकाकरण हुआ. अस्पताल में एक ही सेंटर पर कुल 100 बेनिफिशरी ने टीका लगाया. इसके अलावा एसएमएस मेडिकल कॉलेज में 46 बेनिफिशरी को टीका लगाया गया. एसआर गोयल अस्पताल में 49, जेके लोन अस्पताल में 100, एसडीएमएच में 100, बीडीएम कोटपूतली में 60, जनाना अस्पताल में 26, मनीपाल में 76, महिला चिकित्सालय में 58, जयपुर हॉस्पिटल में 66, ईएसआई में 12, कांवटिया अस्पताल में 37, गणगौरी अस्पताल में 54 लोगों को टीका लगा.

ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर लगाया टीका:
इसके अलावा महात्मा गांधी हॉस्पिटल में 50,फोर्टिस में 80, इटरनल में 80, आरयूएचएस में 60, जयपुरिया अस्पताल में 50, मेट्रो मास 60, नारायणा में 80, जेएनयू में 59 बेनिफिशरी ने कोरोना का टीका लगाया. राजधानी में 354 लोगों को ऑनलाइन फॉर्मेट में रजिस्ट्रेशन से टीका लगा, जबकि 430 बेनिफिशरी ने ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर टीका लगाया.

और पढ़ें