जयपुर प्रदेशभर में बच्चों के वैक्सीनेशन की शुरुआत, मुख्यमंत्री गहलोत बोले,  तीसरी लहर को लेकर हमारी पूरी तैयारियां 

प्रदेशभर में बच्चों के वैक्सीनेशन की शुरुआत, मुख्यमंत्री गहलोत बोले,  तीसरी लहर को लेकर हमारी पूरी तैयारियां 

प्रदेशभर में बच्चों के वैक्सीनेशन की शुरुआत, मुख्यमंत्री गहलोत बोले,  तीसरी लहर को लेकर हमारी पूरी तैयारियां 

जयपुर: प्रदेशभर में 15+ एजग्रुप का वैक्सीनेशन मुख्यमंत्री अशोक  गहलोत ने गणगौरी बाजार स्कूल से विधिवत शुरू किया. कार्यक्रम में CM गहलोत ने संबोधित करते हुए कहा कि मुझे आज काफी प्रसन्नता है. 15+ एजग्रुप के वैक्सीनेशन अभियान का शुभारंभ हो गया है.CM गहलोत ने कहा कि ओमिक्रॉन ने पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया. हमने कोरोना की पहली और दूसरी लहर को देखा. पहली लहर में लोगों में डर था, दूसरी लहर में हाहाकार के हालात पैदा किए. पूरे देश में हालात भयावह हो गए थे, लेकिन राजस्थान ने अनूठा उदाहरण पेश किया. कोरोना मैनेजमेंट में सरकार ने कोई कमी नही छोड़ी. ऑक्सीजन की व्यवस्था की, चार्टर प्लेन से दवाएं मंगवाई. ताकि लोगों की जिंदगी बचाई जा सके. गहलोत ने आश्वस्त किया कि राजस्थान में सब तैयारियां की जा चुकी है. अब कोई भी लहर आये, संसाधनों की कमी नही होगी.

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि कोरोना वायरस ने दुनिया को हिला कर रख दिया. पहली लहर में लोगों में भय था,दूसरी लहर में हाहाकार मचा. ऑक्सीजन को लेकर हमने दबाव बनाया. भीलवाड़ा और रामगंज मॉडल की दुनियाभर में तारीफ हुई. तीसरी लहर को लेकर हमारी तैयारियां पूरी. पहली और दूसरी लहर में जो कदम उठाए. उसी के अनुरूप केंद्र सरकार ने भी कदम उठाए. हमने बूस्टर डोज़ की मांग उठाई.

कार्यक्रम में चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा ने संबोधित करते हुए कहा कि लंबे समय से बच्चों में वैक्सीनेशन का इंतजार था जो आज पूरा हुआ, ये CM गहलोत के प्रयासों का ही परिणाम है. हालांकि हमने 12+ के वैक्सीनेशन की मांग उठाई थी जो काफी जरूरी है. मीणा ने फिर मांग उठाई, सभी बच्चों का वैक्सीनेशन होना चाहिए. मंत्री परसादी लाल मीणा ने कहा कि हर बच्चे का वैक्सीनेशन होना चाहिए. मंत्री मीणा ने CM गहलोत से PM को पत्र लिखने का आग्रह किया. मीणा ने कहा कि 31 जनवरी तक सभी को वैक्सीनेशन कराना अनिवार्य है, 10 जनवरी से बुजुर्गों को प्रिकॉशन डोज़ लगनी चाहिए.

इस मौके पर मंत्री महेश जोशी ने संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना प्रबंधन में राजस्थान देशभर में अव्वल रहा, CM गहलोत के प्रयासों का ही परिणाम है. हमारा राजस्थान पूरी दुनिया में कोरोना प्रबंधन के लिहाज से जाना जाने लगा.

कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने संबोधित करते हुए कहा कि CM गहलोत लगातार बच्चों के वैक्सीनेशन की बात उठा रहे थे. आखिरकार केंद्र को बच्चों के अलावा बूस्टर डोज की घोषणा की. अब 12 से 15 साल तक के बच्चों को भी वैक्सीन लगनी चाहिए.

और पढ़ें