Valentine Day Special: उदयपुर अंचल में आदिवासी समुदाय के युवक-युवतियां खास अंदाज में करते हैं प्यार का इजहार

Valentine Day Special: उदयपुर अंचल में आदिवासी समुदाय के युवक-युवतियां खास अंदाज में करते हैं प्यार का इजहार

उदयपुर: यूं तो पूरी दुनिया में प्यार के इजहार के दिन के रूप में यानि वैलेंटाइन डे के लिए 14 फरवरी का दिन मुकर्रर हैं लेकिन दक्षिणी राजस्थान के आदिवासी बाहुल्य उदयपुर अंचल में वैलेंटाइन डे का मतलब उस दिन से हैं जिस दिन प्रेमी, प्रेमिका द्वारा गाये गये गाने के तहत रखी गई 7 शर्तों को पूरा करें. फर्स्ट इंडिया न्यूज उदयपुर की टीम ने आदिवासी अंचल के इस खास और अनूठे पल को हमारे दर्शकों के लिए संकलित किया हैं क्योंकि इस अंचल के युवक और युवतियों के शर्मीले मिजाज के चलते ऐसे आयोजन को कवर कर पाना बेहद ही मुश्किल हो जाता हैं. तो आईए आपको भी बताते हैं कि आखिर कैसे आदिवासी अंचल में सेलिब्रेट होता हैं वैलेंटाइन डे----

Valentine Day 2020: वैलेंटाइन डे मनाने के पीछे यह रोचक कहानी जानकर हैरान रह जाएंगे आप, जानिए इसके बारे में सब कुछ 

युवतियां अपने प्रेमी से 7 मांगे पूरी करने का वायदा लेती हैं: 
प्यार, इश्क और मोहब्बत जैसे शब्द यूं तो किसी भी व्यक्ति के जीवन के किसी भी क्षण को तरोताजा बनाने के लिए बेहद ही खास होते है लेकिन दुनिया में प्यार के इजहार के लिए 14 फरवरी यानि वैलेंटाइन डे के दिन को मुकर्रर किया गया हैं. इस दिन लोग अपने किसी खास को प्यार का इजहार करना बेहद ही पंसद करते है लेकिन क्या आपको बता है कि आदिवासी बाहुल्य उदयपुर अंचल में आदिवासी समुदाय के युवक युवतियां भी खास अंदाज मे अपने प्यार को बयां करते हैं. यह अंदाज गुलाब का फूल देना या फिर कोई गिफ्ट देने से जुडा नही हैं बल्कि आदिवासी युवक और युवतियां जंगलों में एक खास गीत गाते हैं. ठेठ आदिवासी भाषा में गाये जाने वाले इस गीत में युवतियां अपने प्रेमी से 7 मांगे पूरी करने का वायदा लेती हैं. यदि प्रेमी उन वायदों को पूरा करने का भरोसा दिलाता हैं तो मेवाड में प्रसिद्ध लेजम के रुमाल के आदान प्रदान के साथ ही दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगता हैं. यही नहीं यदि एक बार दोनों के बीच प्यार पनप जाये तो फिर किसी भी सूरत में दोनों एक दूसरे शादी करते हैं. 

पुलवामा आतंकी हमले को एक साल पूरा, राहुल गांधी ने पूछे तीन सवाल 

आदिवासी भाषा में गाये जाने वाले गीत की 7 मांगे.....
1. युवती कहती है कि युवक उसकी जिंदगीभर सुरक्षा करें.
2. जिंदगी हर पल-हर क्षण साथ निभाने का वायदा मांगती हैं. 
3. किसी अन्य युवती अथवा औरत से दोस्ती नही करने की मांग.
4. परिवार को मिल जुल कर साथ रखने का वायदा. 
5. शराब अथवा अन्य कोई नशा नहीं करने का वायदा. 
6. माता-पिता की हर मुसीबत में सहायता करने का वायदा. 
7. मजदूरी का पैसा अय्याशी में नहीं उठाने का वायदा.

दरअसल आदिवासी अंचल में आम युवक युवतियों की तरह गुलाब का फूल देना या फिर किसी अन्य तरह की गिफ्ट देने का चलन नहीं है बल्कि यहां के युवा पारंपरिक मान्यताओं के आधार पर ही अपने प्यार को आगे बढ़ाते हैं. यही नही आदिवासी अंचल में प्यार के ये किस्से किसी गार्डन या रेस्टोरेंट के बजाए सूदूर जंगलों में गांवों की सरहदों के पास परवान चढ़ते हैं जहां आस पास के गांवों से आने वाले युवक युवतियों का परिचय होता हैं. 

VIDEO: सरकार के पैमाने पर फेल परिवहन विभाग! एक भी आरटीओ राजस्व लक्ष्य पूरा करने में सफल नहीं 

प्यार के हर किस्से की कहानी अनूठी और निराली:
बहरहाल प्यार के हर किस्से की कहानी अनूठी और निराली होती है लेकिन आदिवासी अंचल में पाश्चात्य संस्कृति की धमक से परे अपनी मान्यताओं और पंरपराओं की सीमाओं में बंधकर प्यार को परवान चढ़ाना एक अल्हड अंदाज हैं जो शायद आम लोगों की जानकारियों से सर्वधा दूर ही रहा है. 

और पढ़ें