VIDEO: Valentine's Day पर जंगलात में रोमांस परवान पर, नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में बाघ नाहर और बाघिन रंभा के बीच रोमांस

VIDEO: Valentine's Day पर जंगलात में रोमांस परवान पर, नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में बाघ नाहर और बाघिन रंभा के बीच रोमांस

जयपुर: वेलेंटाइन वीक में सिर्फ इंसानों के बीच ही नहीं वरन खूंखार वन्यजीवों के बीच भी प्रेम पनपता दिखाई दे रहा है. तीन अलग-अलग जगह वन्यजीवों के जोड़े इन दिनों वेलेंटाइन्स पेयर के तौर पर पर्यटकों को न केवल रोमांचित कर रहे हैं वरन प्रेम का संदेश भी देते दिखाई दे रहे हैं. जी हां नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में बाघ नाहर और बाघिन रंभा सरिस्का में बाघ युवराज और बाघिन ब्रोकन टेल और झालाना लेपर्ड सफारी में बहादुर और पूजा के बीच इन दिनों प्यार परवान पर है. 

जंगलात में इन दिनों माहौल काफी रोमांस से भरा:
प्रदेश के जंगलात में इन दिनों माहौल काफी रोमांस से भरा है. नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में लंबे अरसे बाद बाघ और बाघिन को एक साथ रखा गया है. कोशिश ये है कि यहां बाघों का प्रजनन कराया जाए ताकि यहां नए शावकों का जन्म हो और इससे नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में बाघों के कुनबा आगे बढ़ सके. यही कारण है कि इन दिनों बाघ नाहर और बाघिन रंभा को मेटिंग के लिए प्रेरित किया जा रहा है. वेलेंटाइन वीक में रंभा के हीट पर होने से इस बात की उम्मीद जगी है कि यह जोड़ा जल्द ही खुशखबरी दे सकता है.

बाघ ST 21 और बाघिन ST 9 को देखा जा रहा है साथ:
उधर सरिस्का टाइगर रिजर्व में वेलेंटाइंस वीक के मौके पर बाघ एसटी 21 यानी युवराज और बाघिन एसटी 9 को साथ देखा जा रहा है. दोनों के बीच इन दिनों प्यार परवान पर है और दोनों के व्यवहार में आए बदलाव और बॉडी लैंग्वेज से ऐसा लग रहा है कि st9 जल्द खुशखबरी दे सकती है. झालाना लेपर्ड रिजर्व की बात करें तो यहां नर लेपर्ड बहादुर और मादा लेपर्ड पूजा को इन दिनों साथ देखा जा रहा है दोनों की पर्यटकों को लगातार साइटिंग हो रही है. दोनों का रूमानी अंदाज और एक दूसरे के साथ प्यार बांटने से उम्मीद जगी है कि यह जोड़ा भी जल्द ही लेपर्ड रिजर्व से खुशखबरी देगा.

जयपुर में पहली बार हुआ था सफल प्रजनन:
वन विभाग के अधिकारियों की माने तो दो साल पहले नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में बाघिन रंभा ने दो शावकों को जन्म दिया था. करीब 14 साल के अंतराल में जयपुर में पहली बार बाघ का सफल प्रजनन हुआ था, लेकिन बदकिस्मती से लेप्टोस्पाइरोसिस की वजह से यहां जन्मे दोनों शावक इस दुनिया से विदा ले चुके हैं. उसके बाद कोरोना काल मे बाघों के प्रजनन के लिए कोई प्रयास नही किये जा सके. लेकिन कोरोना के बाद नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क की फ़िज़ाओं में बदलाव देखने को मिला है यहां मौजूद बाघिन रंभा और बाघ नाहर दोनों हीट पर हैं और इत्तेफाक ये है दोनों की मेटिंग भी वेलेंटाइन वीक में कराया जा रहा है. हालांकि बाघिन रंभा की उम्र 18 साल हो चुकी है, और बाघ नाहर की उम्र भी 17 साल हो चुकी है, लेकिन दोनों बाघ बाघिन की अच्छी केमिस्ट्री देखने को मिल रही है. दोनों एक दूसरे के पास आते हैं, एक दूसरे को दुलारते हैं ,  फुफकारते हैं, उसके बाद हल्का दहाड़ते हैं. 13 फरवरी से दोनों को साथ रखना शुरू किया गया है दोनों ही एक दूसरे के साथ से काफी खुश नजर आ रहे हैं. ऐसे में अगर नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क के इस टाइगर कपल का मिलन सफल रहता है तो यहां फिर ने बाघ शावकों के जन्म की उम्मीद को पंख लगेंगे. 

जंगलात से इन दिनों आ रही हैं लगातार अच्छी खबर:
दरअसल जंगलात से इन दिनों लगातार अच्छी खबर आ रही हैं. रणथंभौर, धौलपुर, करौली में  तीन अलग-अलग बाघिन अपने शावकों के साथ दिखाई दी हैं. इधर लेपर्ड रिजर्व में भी पिछले 1 वर्ष में 10 नए शावकों का जन्म हुआ है और अब बायोलॉजिकल पार्क में बाघ बाघिन की बाघ की ब्रीडिंग कराए जाने के प्रयास से लगता है कि  प्रदेश में बिग कैट्स के लिए एक मुफीद माहौल तैयार हो रहा है. इत्तेफाक से  वैलेंटाइंस वीक में बिग कैट्स के जोड़ों का एक साथ दिखना बाघ और लेपर्ड्स के कुनबे के बढ़ने के संकेत दे रहे हैं जोकि वाइल्डलाइफ टूरिज्म के हिसाब से बेहतर माने जा सकते हैं. 

और पढ़ें