राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेश में कोरोना हालात की जानकारी दी

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेश में कोरोना हालात की जानकारी दी

जयपुर: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को दूसरी बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विभिन्न राज्यों के राज्यपालों और उपराज्यपालों से कोरोना के हालातों को लेकर चर्चा की. राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेश में कोरोनावायरस की स्थिति और राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे बचाव के उपायों को लेकर जानकारी दी. वीडियो कॉन्फ्रेंस में राज्यपाल ने बताया कि राज्य में ग्राम पंचायत स्तर पर कम्युनिटी किचन के माध्यम से जरूरतमंदों को भोजन की व्यवस्था की जा रही है.

CORONA: डिप्टी सीएम सचिन पायलट की VC, कांग्रेस के कंट्रोल प्रभारियों से लिया फीडबैक 

किसानों को फसल कटाई की अनुमति दी गई:
राज्य में रेड क्रॉस सोसाइटी द्वारा समन्वय करते हुए जरूरतमंदों को भोजन, मास्क, सैनिटाइजर का वितरण किया जा रहा है. राज्यपाल ने 40 लाख रुपए की राशि रेड क्रॉस सोसाइटी के फंड से जारी की है. वीसी में राज्यपाल ने बताया कि राज्य के विभिन्न जिलों में प्रवासी श्रमिकों के लिए 256 रिलीफ कैंप लगाए गए हैं, जिनमें 22 हजार से अधिक श्रमिकों के रहने और भोजन की व्यवस्था की गई है. राज्य में किसानों को खड़ी फसल की कटाई के लिए हार्वेस्टर के माध्यम से कटाई करने की अनुमति दी गई है.

लॉकडाउन के बावजूद भी बजरी माफियाओं के हौसले बुलंद, अवैध पत्थरों की निकासी पर वन विभाग ने जब्त किया ट्रैक्टर ट्रॉली

राज्यपाल ने आध्यात्मिक गुरुओं से की बातचीत :
राज्यपाल ने शुक्रवार को जयपुर शहर के चीफ काजी खालिद उस्मानी और बिशप ओसवाल जोसेफ से बातचीत की. राज्यपाल ने कहा कि धर्मगुरू लोगों को सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए कहें. स्वास्थ्यकर्मियों व पुलिस का पूरा सहयोग करने के लिए भी अपील करें. राजपाल कलराज मिश्र ने प्रदेशवासियों से 5 अप्रैल को पीएम मोदी की अपील का समर्थन करने को कहा है. उन्होंने कहा कि रात 9 बजे सभी लोग घर की लाइट बंद कर दरवाजे या बालकनी पर आएं और मोमबत्ती, दीपक, मोबाइल की लाइट या टॉर्च जलाएं, जिससे सामूहिक शक्ति का संचार हो सके.

और पढ़ें