सर्जिकल स्ट्राइक-2 की विदेश सचिव ने प्रेस कांफ्रेंस कर की पुष्टि, और कहा...

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/26 11:52

नई दिल्ली। पुलवामा हमले के बाद भारतीय सेना ने दूसरी बार सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तान में मौजूद जैश ए मोहम्मद के 5-6 आतंकी ठिकानों को उड़ा दिया। विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कांफ्रेंस कर इस खबर की पुष्टि की गई है। विदेश सचिव ने कहा कि जैश ए मोहम्मद 20 साल से पाकिस्तान में सक्रिय है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना से सिर्फ आतंकी कैंपो को निशाना बनाया था इससे पब्लिक को कोई नुकसान नही हुआ है। हालांकि, विदेश सचिव ने आंकड़े नहीं बताए की कितने इस एक्शन में कितने आतंकी मारे गए हैं, लेकिन सुत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इस कार्रवाई में 300 आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि हुई है।

विदेश सचिव ने कहा कि भारत की कार्रवाई में जैश के शीर्ष कमांडर मारे गए है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को जैश के आतंकियों की और हमले की जानकारी थी। वीके गोखले ने कहा कि बिना पाक की जानकारी के आतंकी हमले संभव नहीं हो सकते। 
सूत्रों की मानें तो वायुसेना ने कुल 21 मिनट तक इस ऑपरेशन को चलाया। इस दौरान 12 मिराज विमानों ने 1000 किलो बम PoK में कई आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया। सूत्रों की मानें तो इस ऑपरेशन में 300 आतंकी ढेर हुए हैं।

इस स्ट्राइक के बाद बॉर्डर पर चौकसी बढ़ा दी गई है। गृह मंत्रालय के सूत्रों की मानें तो BSF को भारत पाकिस्तान की सीमा पर अलर्ट रहने को कहा गया है। इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर भी बीएसएफ तैनात है। 

समाचार एजेंसी एएनआई ने भारतीय वायुसेना के सूत्रों के हवाले से कहा, '26 फरवरी की तड़के भारतीय लड़ाकू विमान मिराज 2000 के एक समूह ने एलओसी पारकर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में आतंकी कैंप पर बमबारी की और उसे पूरी तरह से नष्ट कर दिया। आतंकी कैंप पर 1000 किलो बम गिराए गए। इस अभियान में 12 मिराज विमानों ने हिस्सा लिया। 

इससे पहले पाकिस्‍तानी सेना ने भारतीय वायुसेना पर नियंत्रण रेखा के उल्लंघन का आरोप लगाया। पाकिस्‍तानी सेना के प्रवक्‍ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया कि 'भारतीय वायु सेना के विमानों ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन करते हुए मुजफ्फराबाद सेक्‍टर में घुस आए। पाकिस्तान वायु सेना ने तुरंत कार्रवाई की। भारतीय विमान वापस चले गए। ' बता दें कि यह जगह पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में  पड़ता है। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in