ताइपे, फिजी फिजी में हिंसक झड़प: ताइवान और चीन के बीच आरोप -प्रत्यारोप का दौर शुरु

फिजी में हिंसक झड़प: ताइवान और चीन के बीच आरोप -प्रत्यारोप का दौर शुरु

फिजी में हिंसक झड़प: ताइवान और चीन के बीच आरोप -प्रत्यारोप का दौर शुरु

ताइपे: फिजी में हाल ही में ताइवान के राष्ट्रीय दिवस समारोह में चीनी दूतावास के अधिकारियों और ताइवान सरकार के कर्मचारियों के बीच हिंसक झड़प को लेकर दोनों देशों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. चीन और ताइवान दोनों ने आठ अक्टूबर की घटना की पुष्टि की है लेकिन दोनों ने संघर्ष शुरू होने को लेकर एक दूसरे के दावे को खारिज कर दिया है.  संघर्ष में ताइवान के एक कर्मचारी के सिर में चोट आई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, वहीं एक चीनी राजनयिक भी घायल हो गये. 

ताइवान के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार प्रतिद्वंद्वी देशों की सरकारों के कर्मियों के बीच तनाव का यह विरल उदाहरण है जो उस समय पैदा हुआ जब समारोह में एकत्रित ताइवानी लोगों ने चीन के राजनयिकों को अतिथियों की तस्वीरें लेने से रोका. मंत्रालय की प्रवक्ता जोने ओउ ने ट्वीट किया कि हम फिजी में हमारे राजदूतों के खिलाफ की गई कार्रवाई के लिए चीन की कड़ी निंदा करते हैं. मंत्रालय ने कहा कि फिजी सरकार के समक्ष ताइवान औपचारिक रूप से विरोध दर्ज कराएगा. 

वहीं फिजी में चीनी दूतावास ने सोमवार को जारी एक बयान में कहा कि ताइवान का दावा तथ्यों से मेल नहीं खाता. उसने बताया कि उसका एक कर्मचारी भी घायल हुआ है. बयान में कहा कि उसी शाम फिजी में ताइपे व्यापार कार्यालय के कर्मचारियों ने चीनी दूतावास के कर्मचारियों के खिलाफ हिंसक व्यवहार किया, जो समारोह स्थल के बाहर सार्वजनिक क्षेत्र में अपने आधिकारिक कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे थे, जिससे एक चीनी राजनयिक को चोट आई और वह घायल हो गए.फिलहाल मामला बढ़ता जा रहा है ऐसे में कहां जाकर रुकेगा कुछ कहा नहीं जा सकता है. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें