मैच जीतने के बाद भी विराट कोहली को आखिर क्यों आईं रोहित और बुमराह की याद, जानिए क्या है पूरा मामला

मैच जीतने के बाद भी विराट कोहली को आखिर क्यों आईं रोहित और बुमराह की याद, जानिए क्या है पूरा मामला

मैच जीतने के बाद भी विराट कोहली को आखिर क्यों आईं रोहित और बुमराह की याद, जानिए क्या है पूरा मामला

सिडनी: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने रविवार को कहा कि रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह जैसे खिलाड़ियों के बिना ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 श्रृंखला जीतना उनके लिए बहुत मायने रखता है. कोहली ने बड़े शॉट लगाने में माहिर हार्दिक पंड्या के कौशल की तारीफ की. पंड्या ने 22 गेंद में 42 रन की नाबाद पारी खेलकर भारत को छह विकेट से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई. तीन मैचों की इस श्रृंखला में भारतीय टीम 2-0 से आगे है. श्रृंखला का तीसरा मैच मंगलवार को खेला जाएगा.

रोहित चोटिल, बुमराह को टेस्ट श्रृंखला के लिए दिया गया विश्रामः 
कोहली ने मैच के बाद कहा कि यह जीत काफी मायने रखती है. टी20 क्रिकेट में हम एक टीम की तरह खेले. टीम में रोहित और बुमराह जैस सीमित ओवरों के अनुभवी - विशेषज्ञ खिलाड़ी नहीं है, फिर भी हम अच्छा कर रहे है. इससे मुझे खुशी है और टीम पर फख्र है. रोहित के मांसपेशियों में इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान खिंचाव आ गया था जबकि बुमराह को चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला के लिए विश्राम दिया गया है.

विराट कोहली ने कहा- चार-पांच वर्षों में भरोसेमंद खिलाड़ी हो सकता है पंड्याः
भारतीय कप्तान ने कहा कि अपनी शानदार बल्लेबाजी से मैन ऑफ द मैच बने पंड्या आने वाले वर्षों में टीम के भरोसेमंद खिलाड़ी बन सकते है. कोहली ने कहा कि वह (पंड्या) 2016 में टीम में अपनी प्रतिभा के दम पर आया. वह प्रतिभावान है. उसे यह पता है कि यह उसका समय है. वह अगले चार-पांच वर्षों में ऐसा भरोसेमंद खिलाड़ी हो सकता है जो कही से भी मैच जीता सकता है. उसकी योजना सहीं है और मुझे यह देख कर खुशी होती है. उन्होंने कहा कि उसे इसका अंदाजा है कि उसके लिए फिनिशर (आखिरी ओवरों में टीम को जीत दिलाने की भूमिका) की भूमिका और मैच जीताऊ पारी खेलना जरूरी है. वह अपने पूरे दिल से खेलता है. उसमें में प्रतिस्पर्धात्मक भावना है और शीर्ष स्तर पर इसे दिखाने का कौशल भी है.

भारतीय कप्तान कोहली ने की टी नटराजन और शार्दुल ठाकुर की तारीफ, कहा-उन्होंने अच्छी गेंदबाजी कीः
भारतीय कप्तान कोहली ने कहा कि एकदिवसीय श्रृंखला को 1-2 से गंवाने के बाद खिलाड़ी ने एकजुटता के साथ टी20 श्रृंखला में वापसी की. उन्होंने टी20 में भारतीय टीम की मजबूती का श्रेय आईपीएल को दिया. उन्होंने कहा कि हाल में हर किसी ने कम से कम 14 मैच खेले है, ऐसे में उन्हें उनकी योजना के बारे में पता है. नटराजन शानदार रहे और शार्दुल ने भी आज अच्छी गेंदबाजी की. हार्दिक ने बेहतरीन तरीके से मैच खत्म किया जबकि सलामी बल्लेबाज शिखर ने अर्धशतक लगाया. यह पूरी तरह से टीम प्रयास था.

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मैथ्यू वेड ने कहा- जब हार्दिक इस लय में हो तो कुछ और रन से भी ज्यादा फर्क नहीं पड़ताः
ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 194 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया लेकिन चोटिल आरोन फिंच की जगह मैच में कप्तानी करने वाले मैथ्यू वेड ने कहा कि उनकी टीम को कुछ और रन बनाने चाहिए थे. उन्होंने लक्ष्य का बचाव करने में असफल रहने पर गेंदबाजों पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा कि कप्तानी करना अच्छा रहा, हार्दिक के बल्लेबाजी से पहले यह और भी अच्छा था. मुझे लगता है हमें कुछ और रन बनाने चाहिए थे. लेकिन जब हार्दिक इस लय में हो तो कुछ और रन से भी ज्यादा फर्क नहीं पड़ता. पारी का अगाज करते हुए 32 गेंद में 58 रन बनाने वाले इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा कि दुर्भाग्य से, हमने गेंद के साथ आखिर तक अच्छा प्रदर्शन नहीं किया.
सोर्स भाषा

और पढ़ें