बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर CONGRESS अलर्ट, प्रदेश कांग्रेस कमेटी की वर्चुअल बैठक आयोजित

बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर CONGRESS अलर्ट, प्रदेश कांग्रेस कमेटी की वर्चुअल बैठक आयोजित

जयपुर: कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व ने राजस्थान की गहलोत सरकार की ओर से कोरोना महामारी रोकथाम के लिए किए गए प्रयास किए सराहना की. आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से वर्चुअल बैठक आयोजित की गई. प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महासचिव और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अजय माकन, सीएम अशोक गहलोत ,पीसीसी चीफ डोटासरा,सचिन पायलट, स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा समेत मंत्री परिषद के सदस्य,संगठन के पदाधिकारी , निवर्तमान जिला कांग्रेस अध्यक्ष शामिल हुए. कोविड महामारी के मुकाबले को लेकर भी सीएम गहलोत ने केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि जब भी केंद्र में कांग्रेस सरकार रही, चाहे बाढ़ आई हो या भूकंप या फिर सूखा कभी भी राज्यों के बीच भेदभाव नहीं किया गया. 18 से 45 साल के लोगों के बीच फ्री टीकाकरण कार्यक्रम की कांग्रेस के राष्ट्रीय मुक्त ने बैठक में सराहना की. ऑक्सीजन की कमी, इंजेक्शन,अन्य मेडिकल सामग्री समेत कई मुद्दों पर वर्चुअल बैठक में बातचीत हुई.

चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना को लेकर भी जागरूकता का कार्य करें:

कोरोना महामारी की दूसरी भयावह लहर से कैसे निपटा जाए. इसे लेकर कांग्रेस के अंदर आज विचार और मंथन हुआ. प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन ने सत्ता और संगठन की वर्चुअल बैठक बुलाई. वर्चुअल बैठक में सीएम गहलोत ने कहा कि सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं को जनता तक पहुंचाने का काम संगठन के कार्यकर्ता करे,चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना को लेकर भी जागरूकता का कार्य करें,कोरोना महामारी से बचाव को लेकर भी जन जागरण करें,कोविड महामारी के मुकाबले को लेकर भी सीएम ने केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि जब भी केंद्र में कांग्रेस सरकार रही,चाहे बाढ़ आई हो या भूकंप या फिर सूखा,कांग्रेस नीत केंद्र सरकार ने कभी राज्यों के बीच भेदभाव नहीं किया,राजीव गांधी के समय जब सूखा पड़ा तब हर राज्य की बिना किसी भेदभाव के मदद की गई. पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने बैठक का संचालन किया और बताया कि कैसे प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने सहायता केंद्र स्थापित किए.

मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के सामने आए तीखे तेवर:

स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बैठक में चिकित्सा विभाग का प्रेजेंटेशन रखा और बताया कि कैसे गहलोत सरकार कर रही कोरोना से राज्य में मुकाबला. बैठक में मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के तीखे तेवर सामने आए. केंद्र सरकार के खिलाफ तीखे तेवर दिखाते हुए खाचरियावास ने कहा कि केंद्र यूं ही अगर करता रहा राज्य सरकार के साथ सौतेला व्यवहार तो हमें अपने अपने घरों से ही बैठकर विरोध स्वरूप धरना देना चाहिए और केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध करना चाहिए. खाचरियावास ने यह भी कहा कांग्रेस कार्यकर्ताओं को इलाज में तरजीह भी मिलनी चाहिए. पीसीसी संगठन महासचिव ललित तूनवाल और जसवंत गुर्जर  ने पीसीसी कंट्रोल रूम की गतिविधियों को लेकर जानकारी दी. करीब 2 घंटे चली वर्चुअल बैठक में सीएम रह चुके सचिन पायलट ने कहा कि  ने कहा कि यह समय राजनीति का नहीं है,बीजेपी के 25 सांसद क्या कर रहे यह वो जाने,अभी समय है मानव कल्याण का. सोनिया गांधी और राहुल गांधी के बताए मार्ग पर हमें चलना है,हमारी सरकार कोरोना पीड़ितों की लिए अच्छा कार्य कर रही. पीसीसी चीफ डोटासरा की कही बातों से मैं सहमत हूं कि और ब्लॉक स्तर पर कोरोना मैनेजमेंट की मॉनिटरिंग होनी चाहिए. जिससे आम आदमी की पीड़ा का निवारण किया जा सके.

ऑक्सीजन की उपलब्धता, इंजेक्शन अन्य मदद के उपाय:

 मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि इस बारे में सरकारी स्तर पर समितियों का निर्माण किया हुआ है. सीएमएचओ की अध्यक्षता में कमेटियां बनी हुई है. ऑक्सीजन की उपलब्धता, इंजेक्शन अन्य मदद के उपाय किए जा रहे. डॉ रघु शर्मा ने कहा कि बीजेपी नेता भ्रामक प्रचार कर रहे , केंद्र अपनी जिम्मेदारियों से भाग रहा है. पीसीसी चीफ डोटासरा ने भी केंद्र की नीतियों की आलोचना की. डोटासरा ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे पीड़ित लोगों की हर संभव मदद करे. कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के दिशा निर्देश के बाद यह वर्चुअल बैठक आयोजित की गई. फ्री कोविड टीकाकरण की अशोक गहलोत की घोषणा के बाद कांग्रेस सत्ता और संगठन इस बैठक में मंत्री परिषद के सदस्य और कोंग्रेस के पदाधिकारियों के बीच अलग ही जोश नजर आ रहा था.

...फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट

और पढ़ें