नई दिल्ली संकट में फंसी वोडाफोन आइडिया, जून में गंवाये 42.8 लाख ग्राहक, एयरटेल और जियो के उपभोक्ता बढ़े

संकट में फंसी वोडाफोन आइडिया, जून में गंवाये 42.8 लाख ग्राहक, एयरटेल और जियो के उपभोक्ता बढ़े

संकट में फंसी वोडाफोन आइडिया, जून में गंवाये 42.8 लाख ग्राहक, एयरटेल और जियो के उपभोक्ता बढ़े

नई दिल्ली: संकट में फंसी वोडाफोन आइडिया लि. (वीआईएल) ने जून में 42.8 लाख मोबाइल ग्राहक गंवाए. इसका फायदा रिलायंस जियो और भारती एयरटेल को हुआ. भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के आंकड़ों के अनुसार, जून में रिलायंस जियो के ग्राहकों की संख्या में 54.6 लाख की बढ़ोतरी हुई. वहीं भारती एयरटेल की ग्राहक संख्या में 38.1 लाख का इजाफा हुआ.

आंकड़ों के अनुसार, समीक्षाधीन महीने में वोडाफोन आइडिया के ग्राहकों की संख्या 42.8 लाख घटकर 27.3 करोड़ रह गई. इससे कर्ज के बोझ तले दबी दूरसंचार कंपनी की दिक्कतें और बढ़ी है, जो बाजार में टिके रहने के लिए संघर्ष कर रही है. जून में रिलायंस जियो के मोबाइल ग्राहकों की संख्या 54.6 लाख बढ़कर 43.6 करोड़ हो गई. मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली दूरसंचार कंपनी वायरलाइन कनेक्शन जोड़ने में भी सबसे आगे रही. माह के दौरान कंपनी ने वायरलाइन श्रेणी में 1.87 लाख नए ग्राहक जोड़े.

भारती एयरटेल के जून में मोबाइल ग्राहकों की संख्या 38.1 लाख बढ़कर 35.2 करोड़ पर पहुंच गई. आंकड़ों के अनुसार, जून, 2021 के अंत तक देश में कुल फोन ग्राहकों की संख्या मासिक आधार पर 0.34 प्रतिशत बढ़कर 120.2 करोड़ हो गई. इस दौरान शहरी क्षेत्रों में फोन ग्राहकों की संख्या बढ़ी, जबकि ग्रामीण इलाकों में कनेक्शनों में मामूली गिरावट आई. ट्राई ने कहा कि जून महीने में 440 ऑपरेटरों से मिली सूचना के आधार पर ब्रॉडबैंड ग्राहकों की संख्या बढ़कर 79.27 करोड़ पर पहुंच गई, जो मई अंत तक 78.02 करोड़ थी. इसमें मासिक आधार पर 1.60 प्रतिशत की वद्धि हुई.

ब्रॉडबैंड बाजार में पांच शीर्ष सेवाप्रदाताओं की बाजार हिस्सेदारी 98.7 प्रतिशत है. इनमें रिलायंस जियो इन्फोकॉम लि. (43.99 करोड़), भारती एयरटेल (19.71 करोड़), वोडाफोन आइडिया (12.14 करोड़), बीएसएनएल (2.26 करोड़) और एट्रिया कन्वर्जेंस (19.1 लाख) शामिल हैं. ट्राई का जून माह के लिये ग्राहकों की संख्या का यह कार्ड ऐसे समय आया है जब निजी क्षेत्र की तीन दूरसंचार कंपनियों में से एक वोडाफोन आइडिया अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा है. (भाषा)

और पढ़ें