हैमिल्टन WWC: बांग्लादेश से करो या मरो मैच में ढिलाई बरतने से बचना होगा भारतीय टीम को

WWC: बांग्लादेश से करो या मरो मैच में ढिलाई बरतने से बचना होगा भारतीय टीम को

WWC: बांग्लादेश से करो या मरो मैच में ढिलाई बरतने से बचना होगा भारतीय टीम को

हैमिल्टन: अब तक उतार चढ़ाव वाला प्रदर्शन करने वाली भारतीय टीम को आईसीसी महिला विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जीवंत रखने के लिये बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को यहां होने वाले मैच में हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी.

भारतीय टीम अभी तक निरंतर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायी है. उसने पांच मैचों में दो मैच जीते हैं लेकिन उसे तीन मैचों में हार का सामना भी करना पड़ा. इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले दोनों मैचों में उसे हार झेलनी पड़ी थी. भारत की परेशानी यह है कि टीम इकाई के तौर पर प्रदर्शन नहीं कर पा रही है. कभी बल्लेबाज चलते तो गेंदबाज अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पाते और जब गेंदबाज उम्मीद जगाते हैं तब बल्लेबाज असफल हो जाते हैं.

भारत ने पिछले मैच में आलराउंडर दीप्ति शर्मा को बाहर करके शैफाली वर्मा को मौका दिया था:

आस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले मैच में बल्लेबाजों ने अच्छा खेल दिखाया लेकिन गेंदबाज नहीं चले जिससे आस्ट्रेलियाई टीम ने 278 रन का रिकार्ड लक्ष्य हासिल कर दिया था. उससे पहले इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय टीम 134 रन पर आउट हो गयी थी. भारत ने पिछले मैच में आलराउंडर दीप्ति शर्मा को बाहर करके शैफाली वर्मा को मौका दिया था लेकिन इससे कोई फायदा नहीं हुआ. बल्लेबाजी में शानदार लय हासिल करने वाली हरमनप्रीत कौर का ऑफ स्पिनर के रूप में अभी तक उपयोग नहीं किया गया है.

यह देखना होगा कि बांग्लादेश के खिलाफ महत्वपूर्ण मैच के लिये शैफाली पर विश्वास बनाये रखा जाता है या यास्तिका भाटिया फिर स्मृति मंधाना के साथ पारी का आगाज करती हैं.

भारत अब ऐसी स्थिति में है कि वह बांग्लादेश को हल्के से लेने की गलती कतई नहीं कर सकता है:

आस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच का सकारात्मक पहलू कप्तान मिताली राज का फिर से रन बनाना रहा. वह इससे पहले दो मैचों में नहीं चल पायी थी. मंधाना भी बांग्लादेश के खिलाफ बड़ी पारी खेलने की कोशिश करेगी. भारत अब ऐसी स्थिति में है कि वह बांग्लादेश को हल्के से लेने की गलती कतई नहीं कर सकता है और आलराउंडर स्नेह राणा भी ऐसा मानती हैं. स्नेह राणा ने कहा कि माहौल सकारात्मक है. हार के बाद मनोबल टूट जाता है लेकिन हम कल के मैच से पहले अच्छी मानसिक स्थिति में हैं. हम जीत के लिये खेलेंगे, रन रेट उसके बाद आता है.

हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि पिछले मैच में हमने जो गलतियां की थी, उन्हें न दोहराएं:

उन्होंने कहा कि बांग्लादेश यहां तक अच्छे प्रदर्शन के दम पर पहुंचा है. वह लगातार सुधार कर रहा है. इस विश्व कप में कोई भी मैच आसान नहीं है. बांग्लादेश ने अब तक सभी टीम को कड़ी चुनौती दी है जबकि वह पाकिस्तान को हराने में सफल रहा है. वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछले मैच में बांग्लादेश 141 रन का लक्ष्य हासिल नहीं कर पाया था. उसकी गेंदबाजी अच्छी है लेकिन बल्लेबाजी उसके लिये चिंता का विषय है. बांग्लादेश की कप्तान निगार सुल्ताना ने कहा कि हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि पिछले मैच में हमने जो गलतियां की थी, उन्हें न दोहराएं.

टीम इस प्रकार हैं :

बांग्लादेश: निगार सुल्ताना (कप्तान), सलमा खातून, रुमाना अहमद, फरगना हक, जहांआरा आलम, शमीमा सुल्ताना, फहीमा खातून, ऋतु मोनी, मुर्शिदा खातून, नाहिदा अख्तर, शर्मिन अख्तर, लता मंडल, शोभना मोस्तरी, फरिहा तृष्णा, सुरैया आज़मिन, संजीदा अख्तर मेघला.

भारत: मिताली राज (कप्तान), हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, शैफाली वर्मा, यास्तिका भाटिया, दीप्ति शर्मा, ऋचा घोष, स्नेह राणा, झूलन गोस्वामी, पूजा वस्त्राकर, मेघना सिंह, रेणुका सिंह ठाकुर, तानिया भाटिया (विकेटकीपर), राजेश्वरी गायकवाड़ पूनम यादव.

मैच भारतीय समयानुसार सुबह 6.30 बजे शुरू होगा. सोर्स-भाषा  

और पढ़ें