मुंबई करण जौहर के घर पर आयोजित दावत में महाराष्ट्र का क्या कोई मंत्री भी शामिल था?: शेलार

करण जौहर के घर पर आयोजित दावत में महाराष्ट्र का क्या कोई मंत्री भी शामिल था?: शेलार

करण जौहर के घर पर आयोजित दावत में महाराष्ट्र का क्या कोई मंत्री भी शामिल था?: शेलार

मुंबई: भाजपा नेता आशीष शेलार ने बृहस्पतिवार को बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) से पूछा कि बॉलीवुड निर्माता-निदेशक करण जौहर के घर पर आयोजित दावत में क्या महाराष्ट्र का कोई एक मंत्री भी मौजूद था? इस दावत में शामिल होने के बाद अभिनेत्री करीना कपूर और कुछ अन्य कलाकार कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं.यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए शेलार ने कहा, “मैं जानना चाहता हूं कि क्या यहां करण जौहर के आवास पर आयोजित ‘डिनर पार्टी’ (रात्रि भोज) में महाराष्ट्र का कोई मंत्री मौजूद था. सीमा खान और करीना कपूर जैसी हस्तियों ने उपस्थित लोगों के बारे में जो विवरण बताए हैं उनमें विसंगति है. क्या यह कुछ नाम छिपाने की कोशिश है?"

दावत में सिर्फ आठ लोगों ने शिरकत की:

उन्होंने कहा, “ बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के अधिकारियों की ओर से मेरे साथ साझा की गई जानकारी के अनुसार, सीमा खान ने उन सभी लोगों के नामों का खुलासा नहीं किया जो जौहर के घर पर आयोजित ‘डिनर पार्टी’ मौजूद थे. मुझे लगता है कि इसे आठ दिसंबर को आयोजित किया गया था. भाजपा नेता ने कहा,उन्होंने जिन नामों के बारे में नहीं बताया, वे तब सामने आए जब करीना कपूर ने संपर्कों का पता लगाने के लिए बीएमसी अधिकारियों से संपर्क किया. यह उस दावत में शामिल होने वाले लोगों की सही संख्या के बारे में संदेह पैदा करता है. उन्होंने कहा कि मीडिया में बीएमसी अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि दावत में सिर्फ आठ लोगों ने शिरकत की थी.

अब तक ऐसी कोई फुटेज हासिल नहीं की गई:

पूर्व मंत्री ने कहा, “मैंने बीएमसी को एक पत्र लिखकर पूछा कि क्या उन्होंने रीजेंसी बिल्डिंग के सीसीटीवी फुटेज को हासिल कर लिया है जहां जौहर रहते हैं. अगर ऐसा नहीं किया गया है तो इसमें देरी क्यों की जा रही है क्योंकि इससे वहां मौजूद मेहमानों की संख्या का पता चल जाएगा. मुझे बीएमसी अधिकारियों ने बताया है कि अब तक ऐसी कोई फुटेज हासिल नहीं की गई हैअभिनेत्री करीना कपूर, अमृता अरोड़ा और सीमा खान इस सप्ताह के शुरू में कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई. वे जौहर के घर आयोजित दावत में गईं थीं. सोर्स-भाषा

और पढ़ें