Live News »

गर्मी बढ़ने के साथ ही बढ़ने लगी राजधानी की प्यास, जलदाय विभाग ने बढ़ाई बीसलपुर बांध से पेयजल की सप्लाई

गर्मी बढ़ने के साथ ही बढ़ने लगी राजधानी की प्यास, जलदाय विभाग ने बढ़ाई बीसलपुर बांध से पेयजल की सप्लाई

जयपुर: गर्मी बढ़ने के साथ ही अब राजधानी की प्यास भी बढ़ने लगी है. बढ़ती गर्मी को देखते हुए जलदाय विभाग ने जयपुर शहर में बीसलपुर बांध से पेयजल सप्लाई की मात्रा बढ़ा दी है. अब बीसलपुर से जयपुर शहर के लिए 35 एमएलडीअतिरिक्त पानी की सप्लाई की जाएगी. 

सीएम गहलोत का बड़ा फैसला- प्रदेश में 21 अप्रैल से मॉडिफाइड लॉक डाउन होगा लागू, शुरू होंगे उद्योग, खुलेंगे सरकारी दफ्तर 

गर्मी में तापमान बढ़ने के साथ बढ़ी पानी की मांग:
जलदाय विभाग के प्रमुख सचिव राजेश यादव के निर्देश के बाद अतिरिक्त मुख्य अभियन्ता ने बुधवार को जयपुर शहर के दोनों अधीक्षण अभियन्ताओं से वार्ता की और उन्हें बीसलपुर बांध से 35 एमएलडी पानी बढ़ाने को कहा गया. गर्मी में तापमान बढ़ने के साथ ही शहर में पेयजल के साथ-साथ पानी की अतिरिक्त मांग बढ़ी है. जयपुर शहर में बीसलपुर से यह बढ़ा हुआ पानी गुरुवार से लिया जाएगा. 

राज्य में खुली खाद, बीज और कीटनाशकों की दुकानें, हाईकोर्ट ने जनहित याचिका का किया निस्तारण 

अतिरिक्त पानी की आवश्यकता का विश्लेषण किया गया:
अतिरिक्त मुख्य अभियन्ता देवराजसोलंकी ने बताया कि अधीक्षण अभियन्ताओं के साथ वार्ता में प्रत्येक पम्पिंग स्टेशन पर अतिरिक्त पानी की आवश्यकता का विश्लेषण किया गया. शहर के उत्तर सर्किल में 10 एमएलडी तथा दक्षिण सर्किल में 25 एमएलडी पानी बढ़ाए जाने का निर्णय लिया गया है. जयपुर शहर में वर्तमान में 72 पम्पिंग स्टेशन बीसलपुर परियोजना से जुड़े हुए हैं. पूर्व में 23 मार्च को बीसलपुर बांध से 40 एमएलडी पानी बढ़ाया गया था. 

और पढ़ें

Most Related Stories

Independence Day 2020: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पहुंचे राजभवन, राज्यपाल कलराज मिश्र से की शिष्टाचार भेंट

Independence Day 2020:  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पहुंचे राजभवन, राज्यपाल कलराज मिश्र से की शिष्टाचार भेंट

जयपुर: राज्यपाल कलराज मिश्र से शनिवार को यहां राजभवन में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुलाकात की. राज्यपाल कलराज मिश्र से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की यह शिष्टाचार भेंट थी. दोनों ने एक दूसरे को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामना दीं.

अब फिर से प्रगाढ़ होंगे गहलोत-कलराज के आत्मीय संबंध:
आपको बता दें कि शुक्रवार को सरकार ने सदन में विश्वास मत हासिल कर लिया और मुख्यमंत्री ने लोकतंत्र की उच्च परम्परा निभाई. सभी मतभेद भुलाकर आज राज्यपाल से मिलने पहुंचे. सीएम गहलोत ने कल विधानसभा में भी राज्यपाल की तारीफ की थी. कलराज मिश्र को भला और बेहतरीन इंसान बताया था. सीएम गहलोत ने कहा था कि कांग्रेसी भी कलराज मिश्र की तारीफ करते हैं. आज यह मुलाकात देख लोकतंत्र भी मुस्कुरा रहा है. अब फिर से गहलोत-कलराज के आत्मीय संबंध प्रगाढ़ होंगे.

बारां के शाहाबाद में नदी में बहे तीन लोग, संतुलन बिगड़ने की वजह से हुआ हादसा, एक की मौत

गहलोत सरकार ने किया विश्वास मत हासिल:
आपको बता दें कि पिछले एक माह से राजस्थान में सियासी संकट जारी था. इस बीच शुक्रवार को 15वीं राजस्थान विधानसभा का पांचवां सत्र शुरू हुआ. जिसमें गहलोत सरकार ने विधानसभा में विश्वास मत हासिल किया. ध्वनि मत से सदन में विश्वास मत पारित हुआ. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सदन में विश्वास मत जीता. अब 21 अगस्त तक सदन की कार्यवाही स्थगित की गई.

लाल किले से बोले पीएम मोदी, हमारे वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन के लिए जी-जान से जुटे 

राजस्थान में मौसम विभाग का रेड अलर्ट जारी, कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

 राजस्थान में मौसम विभाग का रेड अलर्ट जारी, कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

जयपुर: मौसम विभाग ने शनिवार को राजस्थान में रेड अलर्ट जारी किया है. प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. मौसम विभाग ने अजमेर, सिरोही, जालोर, पाली, जोधपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है. इससे पहले शुक्रवार को राजस्थान की राजधानी जयपुर समेत कई ​जिलों में मूसालाधार बारिश हुई.

भादो ने किया तरबतर:
शुक्रवार को राजस्थान की राजधानी जयपुर में जमकर मेघ बरसे. जिसकी वजह से सडकों पर पानी भर गया. कहीं पर बिजली के पोल गिरे तो कहीं पर पेड़ गिरने की खबर सामने आई है. जयपुर के कानोता में बोलेरो बहने की वजह से 3 लोगों की मौत हो गई. बोलेरो में 6 लोग सवार बताए जा रहे थे. जिसमें तीन लोगों को बचा लिया गया, जबकि 3 लोगों की बहने की वजह से मौत हो गई. जयपुर के परकोटे में भादों ने तरबतर कर दिया, नीचले इलाकों में पानी भर गया.

जयपुर में आफत की बारिश, कानोता बांध में बोलेरो बहने से 3 लोगों की मौत, बारिश ने पूरे शहर को किया जाम   

जयपुर में आफत की बारिश:
गाड़ियां पानी में तरने लगी. आपको बता दें कि जयपुर में 10 घंटे में दोपहर एक बजे तक 10 घंटे में 10.7 इंच बारिश हुई. जिले के जमवारामगढ़ में सबसे ज्यादा 10 इंच बारिश हुई. शुक्रवार की सुबह राजधानी के लोगों के लिए बारिश आफत बनकर आई. बरसात में कई कच्चे मकान ढह गए. जयपुर में आसमान से आफत बनकर बरसी बारिश ने पूरे शहर को जाम कर दिया. शहर बारिश के पानी में जलमग्न हो गया. हर गली, हर सड़क, हर बाजार पानी से भरा दिखाई दिया. सबसे बुरे हालात परकोटे में देखने को मिले. 

सचिवालय में आज पारंपरिक सादगी के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस समारोह

सचिवालय में आज पारंपरिक सादगी के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस समारोह

सचिवालय में आज पारंपरिक सादगी के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस समारोह

जयपुर: सचिवालय में आज स्वतंत्रता दिवस समारोह पारंपरिक सादगी के साथ मनाया. सीएम गहलोत करीब सुबह 11.50 पर सचिवालय प्रांगण में अपनी पत्नी सुनीता गहलोत के साथ आए और सबसे पहले बापू की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की. उनके साथ मंत्री सालेह मोहम्मद, ममता भूपेश, सुखराम विश्नोई और सीएस राजीव स्वरूप ने भी पुष्पांजलि अर्पित की. इसके बाद गहलोत ने ध्वजारोहण किया और परेड की सलामी ली. फिर उन्होंने बापू की प्रतिमा के पास पौधरोपण किया.

सीएम गहलोत ने फहराया तिरंगा, कहा- सरकार गिराने के मंसूबों पर कल पानी फिर गया 

इस मौके पर कई अधिकारी रहे मौजूद:
उनके बाद सीएस राजीव स्वरूप ने भी पौधरोपण किया. फिर सीएम पत्नी सुनीता गहलोत के साथ सचिवालय प्रांगण से रवाना हुए. इस मौके पर सीएम प्रमुख सचिव कुलदीप रांका, आईएएस कुंजीलाल मीणा, जीएडी सचिव प्रीतम बी यशवंत, विशिष्ट सचिव मोहनलाल यादव, सचिव भवानीसिंह देथा, संयुक्त सचिव रविन्द्र गोस्वामी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र ने किया ध्वजारोहण, सभी प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी 

इस बार कोरोना के चलते समारोह संक्षिप्त रखा गया:  
इस बार कोरोना के चलते समारोह संक्षिप्त रखा गया था. समारोह के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया. इस बार पुरस्कार वितरण व सीएम का उदबोधन, सांस्कृतिक कार्यक्रम और अन्य कार्यक्रम स्थगित रखे गए थे. साथ ही भीड़ न जुटने के निर्देशों के चलते इस बार कर्मचारियों के भी बैठने की व्यवस्था नहीं रखी गई थी. 

राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र ने किया ध्वजारोहण, सभी प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी

राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र ने किया ध्वजारोहण, सभी प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी

जयपुर: राजभवन में आज 74वां स्वतंत्रता दिवस मनाया गया. राज्यपाल कलराज मिश्र ने ध्वजारोहण किया. राष्ट्रगान के बाद राज्यपाल ने मौजूद सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी. सभी को मिठाई वितरण किया गया. इस मौके पर राज्यपाल ने राजभवन परिसर में पौधरोपण भी किया. 

सीएम गहलोत ने फहराया तिरंगा, कहा- सरकार गिराने के मंसूबों पर कल पानी फिर गया 

राज्य की प्रथम महिला सत्यवती मिश्रा भी मौजूद रहीं: 
राज्य की प्रथम महिला सत्यवती मिश्रा भी इस दौरान साथ में मौजूद रहीं. राज्यपाल ने 2 पौधे लगाए और सभी अधिकारियों-कर्मचारियों से भी पौधे लगाने और उनके संरक्षण का आह्वान किया. राज्यपाल ने सभी विश्वविद्यालयों में भी आज व्यापक पैमाने पर पौधरोपण करने के निर्देश दिए हुए हैं.

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर गोविंद डोटासरा ने किया झंडारोहण, कहा- राजस्थान में सरकार गिराने की कोशिश हुई लेकिन सफल नहीं हुए 

सीएम गहलोत ने फहराया तिरंगा, कहा- सरकार गिराने के मंसूबों पर कल पानी फिर गया

जयपुर: 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आज राजधानी जयपुर में राज्यस्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एसएमएस स्टेडियम में झंडारोहण किया. झंडारोहण कार्यक्रम में पीसीसी चीफ गोविंद डोटासरा सहित कई दिग्गज नेता मौजूद रहे. स्वतंत्रता दिवस पर वे कई अन्य कार्यक्रमों में भी शिरकत कर रहे हैं. 

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर गोविंद डोटासरा ने किया झंडारोहण, कहा- राजस्थान में सरकार गिराने की कोशिश हुई लेकिन सफल नहीं हुए 

नेहरू ने देश में विकास की शुरुआत की: 
इस दौरान अपने संबोधन में सीएम गहलोत ने प्रदेश वासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता सेनानियों ने लाठियां-गोलियां खाई और आजादी के बाद भी देश ने संघर्ष किया. तब बिजली, पानी व सड़कें नहीं थी. बिजली क्या होती है लोग ये समझते ही नहीं थे. तब नेहरू ने विकास की शुरुआत की. उस दौर में भी देश की सबसे बड़ी संस्थाएं खड़ी की गई. बड़े बांध व कारखाने बनवाए गए और देश की नींव पक्की की गई है. 

पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे: 
मुख्यमंत्री गहलोत ने अपने संबोधन में कहा कि देश में आर्थिक स्थिति सही नहीं है. मनमोहन सिंह के समय भी आर्थिक मंदी थी. लेकिन तब शानदार प्रबंधन के कारण हालात खराब नहीं होने दी. अब तो पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं ऊपर से अब देश पर कोरोना की मार है. सीएम ने कहा कि कोरोना में प्रदेश ने शानदार प्रबंधन किया. पक्ष-विपक्ष, सामाजिक संस्थाओं, जन प्रतिनिधियों, पुलिस व आम जनता के सहयोग से काम किया. प्रदेश में अब टेस्टिंग की क्षमता 40 हजार प्रतिदिन है. कोरोना मैनेजमेंट में राजस्थान सिरमौर है. 

Independence Day 2020: लाल किले से पीएम मोदी बोले- भारत को आत्मनिर्भर बनना ही है 

देश में सैकड़ों भाषा बोली जाती है फिर भी देश अखण्ड:
उन्होंने कहा कि सरकार ने कोरोना संकट में किसी को भूखा नहीं सोने दिया. भोजन, अनाज व नकद सहायता दी गयी. देश में सैकड़ों भाषा बोली जाती है फिर भी देश अखण्ड है. ऐसा कांग्रेस पार्टी की नीतियों के कारण ही संभव हुआ है. लेकिन आज संवैधानिक संस्थाएं कमजोर हो रही है. CBI, ED व इनकम टैक्स का दुरुपयोग हो रहा है. ऐसे में देश में लोकतंत्र कायम रखने का संकल्प होना चाहिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि मनरेगा योजना ने सबसे ज्यादा सेवा की. प्रदेश में अंग्रेजी स्कूल खोले जा रहे हैं. हमारी सरकार चुनावी वादे पूरे करेगी. इसके साथ ही सीएम गहलोत ने कहा कि सरकार गिराने के मंसूबों पर कल पानी फिर गया है. प्रदेशवासी निश्चिंत रहें, आपके काम होंगे. 


 

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर गोविंद डोटासरा ने किया झंडारोहण, कहा- राजस्थान में सरकार गिराने की कोशिश हुई लेकिन सफल नहीं हुए

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर गोविंद डोटासरा ने किया झंडारोहण, कहा- राजस्थान में सरकार गिराने की कोशिश हुई लेकिन सफल नहीं हुए

जयपुर: प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में 74 वें स्वाधीनता दिवस के मौके पर आज झंडारोहण हुआ. पीसीसी के नए अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने झंडारोहण कर पीसीसी में सेवा दल की सलामी ली. 

Independence Day 2020: लाल किले से पीएम मोदी बोले- भारत को आत्मनिर्भर बनना ही है 

पीसीसी के झंडारोहण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रतापसिंह खाचरियावास, डॉ.महेश जोशी, वैभव गहलोत, डॉ.चंद्रभान, अमीन कागजी, जाहिदा खान, मुमताज मसीह,रूपेश कांत समेत कांग्रेस के कई दिग्गज नेता मौजूद रहे.  झंडारोहण से पहले राष्ट्रीय गीत वंदे मातरम और राष्ट्रगान भी हुआ. 

राजस्थान में सरकार गिराने की कोशिश हुई लेकिन सफल नहीं हुए: 
इस दौरान पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने उपस्थित नेताओं को संबोधित करते हुए कहा कि देश की आजादी में कांग्रेस के नेताओं का अहम योगदान है. अब लोकतंत्र को धनबल के दम पर खत्म किया जा रहा है. राजस्थान में सरकार गिराने की कोशिश हुई लेकिन सफल नहीं हुए. 

Independence Day 2020: पीएम मोदी ने लगातार 7वीं बार लाल किले पर तिरंगा फहराकर बनाया अनोखा रिकॉर्ड 

जनता की सेवा करना ही हमारा मुख्य उद्देश्य:
उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता ने बड़ी उम्मीदों के साथ कांग्रेस की सरकार बनवाई थी. ऐसे में जनता की सेवा करना ही हमारा मुख्य उद्देश्य है. उन्होंने कहा कि राजस्थान के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के कामों में सरकार कोई कमी नहीं आने देगी सरकार में कार्यकर्ताओं को पूरा सम्मान दिया जाएगा. 
 

Horoscope Today, 15 August 2020: शनिवार को इन छह राशि वालों के बदलेंगे भाग्य

Horoscope Today, 15 August 2020: शनिवार को इन छह राशि वालों के बदलेंगे भाग्य

जयपुर: दैनिक राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है. राशिफल की जानकारी करते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विश्लेषण किया जाता है. दैनिक राशिफल में सभी 12 राशियों के भविष्य के बारे में बताया जाता है. ऐसे में आप इस राशिफल को पढ़कर अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं. 

15 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय  

मेष ( Aries):-  आज के दिन कुछ खबर या फोनकाल आपक मूड बदल सकती है जब किसी काम के बन जाने का समाचार आपको मिलेगा. यदि आप आजीविका या कार्यक्षेत्र में ज्यादा उलझनें महसूस कर रहे हों तो उसके लिए भी आपका रास्ता साफ होने जा रहा है. 

वृष ( Taurus):- आज अपने कारोबार से प्रॉफिट बटोरने का दिन है सुबह से ही अच्छे मैसेज और फोनकाल आपके लिए और भी फायदेमन्द साबित हो सकती है. यदि समय मिल जाये तो सायंकाल का समय पार्टी-दावत में जाने के लिए भी अनुकूल है. 

मिथुन (Gemini):-  पिछले कई महीनों से आप तनावग्रस्त और परेशानी के माहौल में रहने के कारण आपकी हिम्मत और गतिविधि फ्रीज हो गई थी लेकिन आज का दिन इन सबके दबाव से मुक्त रहेगा और किसी अच्छे प्रोजेक्ट की शुरुआत सायंकाल तक हो सकती है.  

कर्क ( Cancer):- कुछ बढ़ते हुए काम का बोझ आपको आज सारे दिन बिजी रखेगा. अपने आथिर्क नियोजन को पूरी तरह एक्सप्लाइंट करके कोष खजाने को मजबूत बनायें चूंकि अभी आगे भी खर्च बढ़ चढ़ कर होगा. 

सिंह (Leo):- बिजनेस फील्ड में आपको आज अच्छा सहयोग मिलने जा रहा है. किसी प्रकार का कन्ट्रेक्ट या लम्बा चलने वाला काम आपके लिए धन कमाने का स्रोत बन सकता है. 

कन्या ( Virgo):- इधर कई प्रकार की हैक्टिक हालत रही जिसके कारण आप कुछ अस्वस्थ भी अपने को महसूस कर रहे हैं. आज के दिन अचानक ही सभी मसले एक एक करके हल होते नजर आयेंगे और लाभ मार्ग में आने वाली रूकावटें भी सिमटती जायेंगी.  

तुला ( Libra):- इन दिनों कई प्रकार के प्रस्ताव आपके पास विचाराधीन हैं. अगर अपने ही बलबूते पर आगे पैर बढ़ाना चाहते हैं तो फिर फाइनेंस की प्राब्लम आपको मजबूर करती है कि अकेले कुछ नहीं होगा. अत: अपने बदले हुए दौर को संभालने के लिए सोच समझ कर ही कोई कदम रखें. 

वृश्चिक ( Scorpio):- एक आदर्श वाक्य आपका सहारा बनता है कि भाग्य कर्म से जुड़ा है और कर्म कोई भी छोटा नहीं है. आज के दिन आपको अपने ही इस फॉर्म्यूले को साकार करने की नौबत आ सकती है. 

धनु (Sagittarius):- एक्सपेरीमेंट और प्रयोग करते रहना आपकी फितरत में है. बड़ी जल्दी आप मोर्चे से हटकर दूसरे मोर्चे पर डट जाने की उतावली करते हैं.  बेहतर होगा कि आप रोज रोज अपना प्लान न बदलें और एक जगह डटे रहें. 

मकर ( Capricorn):- नये नये बदलाव आपके सामने पेश होंगे. बेहतर यही होगा कि आप अपने स्वार्थ की पूर्ति न करके किसी ऐसे काम को स्वीकार करें जिसके चलते आपका यश भी फैले और समाज में कोई आपको याद करता रहे. 

कुंभ ( Aquarius):- काफी लम्बे अरसे के बाद ऐसा मौका मिलता है जब सब कुछ ठीक-ठाक ढंग से आगे बढ़ने का संतोष बना रहे. धन की वसूली से लेकर कागज पत्र आदि के काम को दिन के समय निपटा सकते हैं. किसी लेन-देन के कारण उत्पन्न हुए डिस्प्यूट को हल कर सकते हैं. 

मीन ( Pisces):- कुछ ऐसे अवसर आपको मिल सकते है जब लोग आपकी महत्वाकांक्षा को साकार करने में अपना सहयोग देना चाहते हैं. यदि आप अपने जॉब या नौकरी का फील्ड बदलना चाहते हैं तो फिर यह सोच लें पुरानी जगह के मुकाबले नई जगह पर कितना अधिकार सुख मिलेगा.  

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री


 

15 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

15 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

जयपुर: पंचांग का हिंदू धर्म में शुभ व अशुभ देखने के लिए विशेष महत्व होता है. पंचाम के माध्यम से समय एवं काल की सटीक गणना की जाती है. यहां हम दैनिक पंचांग में आपको शुभ मुहूर्त, शुभ तिथि, नक्षत्र, व्रतोत्सव, राहुकाल, दिशाशूल और आज शुभ चौघड़िये आदि की जानकारी देते हैं. तो ऐसे में आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल... 

शुभ मास- भाद्रपद मास कृष्ण पक्ष:   
शुभ तिथि एकादशी नन्दा संज्ञक तिथि दोपहर 2 बजकर 21 मिनट तक तत्पश्चात द्वादशी तिथि रहेगी. एकादशी तिथि मे विवाह आदि मांगलिक, यज्ञोपवीत ,गृह आरम्भ, प्रवेश, देव कार्य आदि कार्य शुभ व सिद्ध होते हैं. 

मृगशिर "मृदु " संज्ञक नक्षत्र प्रातः 6 बजकर 36 मिनट तक तत्पश्चात आर्द्रा "तीक्ष्ण" संज्ञक नक्षत्र रहेगा. मृगशिर नक्षत्र मे यथा आवश्यक मांगलिक कार्य,पौष्टिक, देवकृत्य इत्यादि कार्य सिद्ध होते हैं. मृगशिर नक्षत्र मे जन्म लेने वाला जातक उत्साही, चपल, सुमार्ग पर चलने वाला, सुन्दर, धनवान, बुद्धिमान होता है. 

चन्द्रमा - सम्पूर्ण दिन रात्रि मिथुन राशि में संचार करेगा |

व्रतोत्सव - अजा एकादशी व्रत सबका, भारतीय स्वंतंत्रता दिवस

राहुकाल - प्रातः 9 बजे से 10.30 बजे तक

दिशाशूल - शनिवार को पूर्व दिशा मे दिशाशूल रहता है. यात्रा को सफल बनाने लिए घर से अदरक या उरद दाल खा कर निकले.       

आज के शुभ चौघड़िये - प्रातः 7.39 मिनट से प्रातः 9.17 मिनट तक शुभ, दोपहर 12.31  मिनट से सायं 5.23  तक चर, लाभ, और अमृत  का चौघड़िया  

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

Open Covid-19