Live News »

VIDEO: सदन में सामने आई पानी पॉलिटिक्स, विभागीय लापरवाही पर जवाब नहीं दे पाए जलदाय मंत्री

VIDEO: सदन में सामने आई पानी पॉलिटिक्स, विभागीय लापरवाही पर जवाब नहीं दे पाए जलदाय मंत्री

जयपुर: जलदाय विभाग की कारगुजारियों का खामियाजा प्रदेश की जनता को भुगतना पड़ रहा है और खराब मीटर के कारण मुख्यमंत्री की फ्री पानी देने की घोषणा पूरी नहीं हो पा रही है. राज्य विधानसभा में भी आज यह मामला गूंजा, लेकिन जलदाय मंत्री बीडी कल्ला कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सके.

चुनाव से पहले बिल नहीं वसूलने का ऐलान:
लोकसभा चुनाव से पहले सरकार ने 15 हजार लीटर तक पानी का उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं से बिल नहीं वसूलने का ऐलान किया था. अब पीएचईडी ने नया सर्कुलर जारी कर कहा है कि 15 हजार लीटर से कम पानी का उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं के मीटर बंद या खराब होने पर इसका लाभ नहीं मिलेगा. मीटर सर्विसेज चार्ज तय कर दिए हैं. 15 एमएम के कनेक्शन के 22 रुपए, 20 एमएम कनेक्शन के 55 और 25 एमएम कनेक्शन के 110 रुपए उपभोक्ता को चुकाने पड़ेंगे. जिन उपभोक्ताओं के मीटर खराब या बंद है या जिनके मीटर लगे हुए नहीं है, उनकाे औसत बिल ही देना होगा. 

खराब मीटर से जनता पर भार:
राजधानी जयपुर में भी खराब मीटर के कारण लाखों जनता को अपनी जेब खाली करनी पड़ रही है. मालवीय नगर विधायक कालीचरण सराफ ने शून्यकाल में विधानसभा में यह मामला उठाया. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने 15 हजार लीटर पानी तक का उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं को छूट का फैसला किया था, लेकिन जलदाय विभाग की लापरवाही के कारण जनता को पैसा देना पड़ रहा है. सराफ ने कहा कि छूट सिर्फ चालू मीटर पर मिलेगी, जबकि मीटर लगाने की जिम्मेदारी जलदाय विभाग की है. राजधानी में चार लाख 71 हजार कनेक्शन है और  2 लाख 61 हजार मीटर बंद है. 

बीडी कल्ला का गोलमाल जवाब:
इस सवाल के जवाब में मंत्री बीडी कल्ला ने गोलमाल जवाब दिया, जिसके कारण न केवल विपक्ष असंतुष्ट रहा, स्पीकर डॉक्टर सीपी जोशी भी संतुष्ट नहीं हो पाए. जलदाय मंत्री बीडी कल्ला ने दिया जवाब कि अब तक 35 हजार मीटर बदले जा चुके हैं. जैसे-जैसे मीटर उपलब्ध होंगे, खराब मीटर बदल देंगे. जिनके अभी मीटर लगा हुआ है, उन्हें तही लाभ मिलेगा, जिनके मीटर नहीं लगा उन्हें लाभ नहीं मिल रहा है. मंत्री के इस जवाब के बाद कालीचरण सराफ पूछते रहे कि कब तक मीटर लग जाएंगे, लेकिन मंत्री बीडी कल्ला ने साफ नहीं किया कि कब तक तमाम मीटर लग जाएंगे? स्पीकर सीपी जोशी भी जनता की परेशानी से चिंतित नजर आए. उन्होंने मंत्री बीडी कल्ला को आसन्न से निर्देश दिया कि जिनके मीटर नहीं लगा है, इसके बारे में विभाग सोचे. स्पीकर ने कहा कि मीटर जब खराब हुआ था, तब तक जो पानी का उपयोग हो रहा था, उस आधार पर भी छूट दी जा सकती है. 

अधूरी रह गई बड़ी घोषणा:
विधानसभा में भी खराब मीटर का मामला पेश हो चुका है, लेकिन जलदाय विभाग के अधिकारियों की नींद टूटने का नाम नहीं ले रही है. दरअसल विभाग के अधिकारी राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में खराब मीटर बदलने में नाकाम रहे हैं और इसका सीधा खामियाजा जनता को भुगतना पड़ रहा है. जलदाय विभाग की इस लापरवाही के कारण मुख्यमंत्री की बड़ी घोषणा भी अधूरी रह गई है. 

... संवाददाता योगेश शर्मा, ऐश्वर्य प्रधान के साथ नरेश शर्मा की रिपोर्ट 

और पढ़ें

Most Related Stories

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग

 आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग

जयपुर: हिंदू कैलेंडर के अनुसार हर साल ज्येष्ठ महीने में सूर्य रोहिणी नक्षत्र में आ जाता है. जिससे गर्मी बढ़ने लगती है.  इस बार ज्येष्ठ महीने के शुक्लपक्ष की तृतीया तिथि यानी 25 मई को सूर्य कृतिका से रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेगा और 8 जून तक इसी नक्षत्र में रहेगा. सूर्य के नक्षत्र बदलते ही नौतपा शुरू हो जाएगा. यानी 9 दिनों तक तेज गर्मी रहेगी. इसकी वजह यह है कि इस दौरान सूर्य की लंबवत किरणें धरती पर पड़ती हैं. लेकिन इस बार शुक्र तारा अस्त होने से इसका प्रभाव कम रहेगा. 

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज 

नौतपा के दौरान महिलाएं हाथ पैरों में मेहंदी लगाती हैं:
परंरपरा के अनुसार नौतपा के दौरान महिलाएं हाथ पैरों में मेहंदी लगाती हैं. क्योंकि मेहंदी की तासीर ठंडी होने से तेज गर्मी से राहत मिलती है. इन दिनों में पानी खूब पिया जाता है और जल दान भी किया जाता है ताकि पानी की कमी से लोग बीमार न हो. इस तेज गर्मी से बचने के लिए दही, मक्खन और दूध का उपयोग ज्यादा किया जाता है. इसके साथ ही नारियल पानी और ठंडक देने वाली दूसरी और भी चीजें खाई जाती हैं. 

25 मई से 2 जून तक रहेगा नौतपा: 
25 मई को सुबह करीब 8.10 पर सूर्यदेव रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेंगे. सूर्य जब रोहिणी नक्षत्र में होकर वृष राशि के 10 से 20 अंश तक रहता है तब नौतपा होता है. इस नक्षत्र में सूर्य करीब 15 दिनों तक रहेगा. लेकिन शुरुआती 9 दिनों में गर्मी बहुत बढ़ जाती है.  इसलिए इन 9 दिनों के समय को ही नौतपा कहा जाता है. ये समय 25 मई से 2 जून तक रहेगा. इसके अलावा ज्येष्ठ महीने के शुक्लपक्ष में चंद्रमा जब आर्द्रा से स्वाती तक 10 नक्षत्रों में रहता हो तो नौतपा होता है. रोहिणी के दौरान बारिश हो जाती है तो इसे रोहिणी नक्षत्र का गलना भी कहा जाता है. 

आखिरी दो दिन तेज हवा-आंधी चलने व बारिश होने के भी योग:
इस बार नौतपा के दौरान 31 मई को शुक्र ग्रह वक्री होकर अपनी ही राशि में अस्त हो जाएगा और सूर्य के साथ रहेगा. रोहिणी नक्षत्र का का स्वामी ग्रह चंद्रमा है. सूर्य के साथ शुक्र भी वृषभ राशि में रहेगा. शुक्र रस प्रधान ग्रह है, इसलिए वह गर्मी से राहत भी दिलाएगा. इसलिए देश के कुछ हिस्सों में बूंदाबांदी और कुछ जगहों पर तेज हवा और आंधी-तूफान के साथ बारीश होने की संभावना ज्यादा है. नौतपा के आखिरी दो दिन तेज हवा-आंधी चलने व बारिश होने के भी योग बन रहे हैं. वराहमिहिर के बृहत्संहिता ग्रंथ में ने बताया है कि ग्रहों के अस्त होने से मौसम में बदलाव होता है. 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर 

देश के रेगिस्तानी और पर्वतीय इलाकों में ज्यादा बारीश की संभावना:
इस साल संवत्सर के राजा बुध है और रोहिणी का निवास संधि में है. इससे बारीश तो समय पर आ जाएगी लेकिन कहीं पर ज्यादा तो कहीं पर कम बारिश हो सकती है. इस बार देश के रेगिस्तानी और पर्वतीय इलाकों में ज्यादा बारीश हो सकती है. बारीश के कारण अनाज और धान की पैदावार अच्छी रहेगी. धान्य, दूध व पेय पदार्थों में तेजी रहेगी. जौ, गेहूं, राई, सरसों, चना, बाजरा, मूंग की पैदावार आशानुकूल होगी. 

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज

जयपुर: कोरोना महामारी के बीच लॉकडाउन की बंदिशों के साथ आज जयपुर सहित प्रदेशभर में ईदुल फितर ईद की नमाज अदा की गयी. जयपुर की स्थापना के बाद ये पहला मौका है जब इस गुलाबीशहर में ईद की सामुहिक नमाज नही हुई. दिल्ली रोड़ स्थित ईदगाह में चीफ काजी और जौहरी बाजार स्थित जामा मस्जिद में मौलना मुफती अमजद अली ने ईद की नमाज अदा करायी. 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर 

5-5 नमाजियों को नमाज की अनुमति दी गयी थी: 
दोनों ही जगहों पर प्रशासन की ओर से केवल 5—5 नमाजियों को नमाज की अनुमति दी गयी थी. प्रशासन की गुजारिश पर ईदगाह में सुबह 6 बजे तो वही जामा मस्जिद में सुबह सवा 6 बजे नमाज अदा करायी गयी. नमाज के बाद मुल्क और मुल्म की अवाम को कोरोना से निजात के लिए खास दुआ भी की गयी. वहीं नमाज के नमाजियों ने मौके पर मौजुद पुलिसकर्मियों को ईद की मुबारकबाद देते हुए उनके जज्बे लिए सलाम किया.

आज शुरू हुईं घरेलू उड़ान सेवा, इन दो राज्यों को छोड़कर पूरे देश में संचालन बहाल 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर

जयपुर: सादुलपुर थाने के एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई का सुसाइड केस मामले की सीबीआई जांच की मांग को लेकर राजस्थान हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर हुई है. याचिका में पूरे मामले की सीबीआई या एसआईटी से जांच करवाने की मांग की गई है. 

आज शुरू हुईं घरेलू उड़ान सेवा, इन दो राज्यों को छोड़कर पूरे देश में संचालन बहाल 

पूरे मामले की जांच सीबीआई से होनी जरूरी:  
याचिकाकर्ता अधिवक्ता सोनिया गिल का कहना है पूरे मामले की जांच सीबीआई से होनी जरूरी है ताकि राजनीतिक दवाब के बिना सच्चाई सामने आ सके. इसी के साथ एसएचओ पर दवाब बनाने वाले पुलिस अधिकारियों, राजनीतिक व्यक्तियों पर कार्रवाई करने की मांग की गई है. याचिका में गिल ने पुलिस अधिकारियों, कांस्टेबलों की समस्याओं के निस्तारण के लिए भी आवश्यक कदम उठाया उठाने की भी गुहार लगायी है. 

राजकीय सम्मान के साथ हुआ SHO विष्णुदत्त विश्नोई का अंतिम संस्कार, नम आंखों से हजारों लोगों ने दी अंतिम विदाई

Rajasthan Corona Updates: चित्तौड़गढ़ में एक मरीज की मौत, राजस्थान में 152 नए केस आये सामने, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 6894

Rajasthan Corona Updates: चित्तौड़गढ़ में एक मरीज की मौत, राजस्थान में 152 नए केस आये सामने, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 6894

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढते जा रहे है. राजस्थान में दोपहर 2 बजे तक चित्तौड़गढ़ में एक मरीज की मौत हो गई. जबकि 152 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. सर्वाधिक 27 केस अकेले जोधपुर में सामने आये है. अजमेर में  19, बाड़मेर में छह, भीलवाड़ा में एक केस, बीकानेर में तीन, दौसा में एक, धौलपुर में तीन केस, डूंगरपुर में चार, जयपुर में 24, जैसलमेर में एक केस, झुंझुनूं में एक,कोटा में एक, नागौर में पांच, पाली सात केस, राजसमंद में 24, सीकर में तीन, सिरोही में तीन केस, उदयपुर में 18 और अन्य राज्य का एक मरीज पॉजिटिव सामने आया. राजस्थान में अब तक 161 लोगों की मौत हो गई. वहीं कुल मरीजों की संख्या 6 हजार 894 पहुंच गई.

सुबह 9 बजे तक आये थे 52 नए केस:
राजस्थान में रविवार सुबह 9 बजे तक 52 नये पॉजिटिव केस सामने आये थे. सर्वाधिक 18-18 केस अजमेर और जयपुर में सामने आये है. बाड़मेर में दो, बीकानेर में दो, दौसा में एक, डूंगरपुर में चार, झुंझुनूं में एक, जोधपुर में एक, कोटा में एक, नागौर में चार पॉजिटिव केस मिले है. राजस्थान में अब तक 161 लोगों की मौत हो चुकी है. पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 6794 पहुंच गया है. हालांकि इनमें से 3804 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके है. 3373 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. फिलहाल राजस्थान में 2829 कोरोना के एक्टिव पॉजिटिव केस है. इनमें से 1505 प्रवासी राजस्थानी शामिल है.  

SHO विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण, DGP ने प्रारम्भिक तथ्यात्मक रिपोर्ट मुख्यमंत्री गहलोत को दी 

शनिवार को सामने आये थे 248 मरीज:
राजस्थान में शनिवार को 7 मरीजों की मौत हो गई थी. जबकि 248 नए पॉजिटिव केस सामने आये थे.चित्तौडगढ़ में 1, जयपुर,कोटा और नागौर में 2-2 मरीजों की मौत हो गई. राजस्थान में कुल मौतों का आंकड़ा 160 पहुंच गया था. कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 6 हजार 742 पहुंच गई थी. इन पॉजिटिव मरीजों में 1478 प्रवासी राजस्थानी शामिल है. सर्वाधिक 40 मरीज अकेले नागौर जिले में सामने आये. अजमेर में 6,अलवर में 5,बांसवाड़ा में 1, बाड़मेर में 6,भरतपुर में 1, भीलवाड़ा में 12, बीकानेर में 3, चित्तौडगढ़ में 1, चूरू में 4, धौलपुर में 2, डूंगरपुर में 12,जयपुर में 22,जालोर में 13, झालावाड़ में 7, झुंझुनूं में 8, जोधपुर में 26, कोटा में 14,पाली में 23, राजसमंद में 19, सीकर में 2, सिरोही में 4, टोंक में 3, उदयपुर में 14 मरीज जांच में पॉजिटिव मिले  थे. 

मौसम विभाग ने राजस्थान में लू चलने का अलर्ट किया जारी, हरियाणा और दिल्ली में भीषण की संभावना 

SHO विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण, DGP ने प्रारम्भिक तथ्यात्मक रिपोर्ट मुख्यमंत्री गहलोत को दी 

जयपुर: चूरू जिले के सरदारपुर एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण मामले में  DGP ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को रिपोर्ट दी है. सीएम गहलोत को प्रारम्भिक तथ्यात्मक रिपोर्ट दी गई है. सीएम गहलोत ने विष्णुदत्त के परिजनों के लिए मदद के निर्देश दिए है. वहीं विधायक कृष्णा पूनिया ने मुख्यमंत्री से बात की है. कृष्णा ने भी अपनी तरफ से CM के सामने बात रखी है. कृष्णा पूनिया ने मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है.

विष्णुदत्त विश्नोई को श्रद्धांजलि:
बीकानेर के खाजूवाला में एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई को श्रद्धांजलि दी गई है. बिश्नोई धर्मशाला खाजूवाला में श्रद्धांजलि सभा आयोजित हुई. विश्नोई की आत्महत्या की CBI जांच की मांग की गई. मुख्यमंत्री के नाम SDM को ज्ञापन सौंपा गया है. श्री गुरु जंभेश्वर मंदिर चैरिटेबल ट्रस्ट के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपा. 

COVID-19: देश में 24 घंटे में 6767 नए केस और 140 मरीजों की मौत, कुल मरीजों की संख्या हुई 1 लाख 31 हजार 868

परिजनों और सरकार में सहमति के बाद शव का पोस्टमार्टम:
चूरू के राजगढ़ में SHO विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण में परिजनों और सरकार में सहमति के बाद शव का पोस्टमार्टम किया गया है. पुलिस सम्मान के साथ शव परिजनों को सुपुर्द किया गया है. इससे पहले जनप्रतिनिधियों और पुलिस अधिकारियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की. IG जोस मोहन, कलेक्टर संदेश नायक, SP तेजस्विनी गौतम, उप नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, सांसद राहुल कस्वां, पूर्व सांसद रामसिंह कस्वां पूर्व विधायक मनोज न्यांगली भी ने विष्णुदत्त विश्नोई को श्रद्धांजलि अर्पित की. 

दबंग छवि और बेहद जबांज ऑफिसर थे विष्णुदत्त:
चूरू जिले के सादुलपुर थानाधिकारी विष्णुदत्त बिश्नोई ने शनिवार को आत्महत्या कर ली. जानकारी के अनुसार विश्नोई ने अपने क्वार्टर में फांसी का फंदा लगाकर जीवनलीला समाप्त की है. हालांकि आत्महत्या के कारणों का अभी कोई पता नहीं चला है. वहीं पुलिस अधिकारी अभी कुछ भी बोलने से दूरी बना रहे हैं. बता दें कि बिश्नोई ईमानदार ऑफिसर के साथ पुलिस विभाग में दबंग छवि व बेहद जबांज ऑफिसर थे. 

एक पिता की अनूठी पहल, प्रवासी बेटे के आइसोलेशन के लिए बना दिया सर्व सुविधाओं युक्त ढाई दिन का झोपड़ा

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 52 नये पॉजिटिव केस आए सामने, सर्वाधिक 18-18 केस अजमेर और जयपुर में आए सामने

 Rajasthan Corona Updates:  पिछले 12 घंटे में 52 नये पॉजिटिव केस आए सामने, सर्वाधिक 18-18 केस अजमेर और जयपुर में आए सामने

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढते जा रहे है. राजस्थान में रविवार सुबह 9 बजे तक 52 नये पॉजिटिव केस सामने आये है. सर्वाधिक 18-18 केस अजमेर और जयपुर में सामने आये है. बाड़मेर में दो, बीकानेर में दो, दौसा में एक, डूंगरपुर में चार, झुंझुनूं में एक, जोधपुर में एक, कोटा में एक, नागौर में चार पॉजिटिव केस मिले है. राजस्थान में अब तक 161 लोगों की मौत हो चुकी है. पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 6794 पहुंच गया है. हालांकि इनमें से 3804 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके है. 3373 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. फिलहाल राजस्थान में 2829 कोरोना के एक्टिव पॉजिटिव केस है. इनमें से 1505 प्रवासी राजस्थानी शामिल है.  

शनिवार को सामने आये थे 248 मरीज:
राजस्थान में शनिवार को 7 मरीजों की मौत हो गई थी. जबकि 248 नए पॉजिटिव केस सामने आये थे.चित्तौडगढ़ में 1, जयपुर,कोटा और नागौर में 2-2 मरीजों की मौत हो गई. राजस्थान में कुल मौतों का आंकड़ा 160 पहुंच गया था. कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 6 हजार 742 पहुंच गई थी. इन पॉजिटिव मरीजों में 1478 प्रवासी राजस्थानी शामिल है. सर्वाधिक 40 मरीज अकेले नागौर जिले में सामने आये. अजमेर में 6,अलवर में 5,बांसवाड़ा में 1, बाड़मेर में 6,भरतपुर में 1, भीलवाड़ा में 12, बीकानेर में 3, चित्तौडगढ़ में 1, चूरू में 4, धौलपुर में 2, डूंगरपुर में 12,जयपुर में 22,जालोर में 13, झालावाड़ में 7, झुंझुनूं में 8, जोधपुर में 26, कोटा में 14,पाली में 23, राजसमंद में 19, सीकर में 2, सिरोही में 4, टोंक में 3, उदयपुर में 14 मरीज जांच में पॉजिटिव मिले  थे. 

SHO विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण, परिजनों और सरकार में सहमति के बाद हुआ पोस्टमार्टम, पुलिस सम्मान के साथ शव किया सुपुर्द

शुक्रवार को 267 नए पॉजिटिव केस आए सामने:
इससे पहले शुक्रवार को 267 नए पॉजिटिव केस सामने आए. इसमें सर्वाधिक 30 केस पाली जिले से सामने आये. इसके अलावा अजमेर में 6, बांसवाड़ा में 9, बाड़मेर में 14, भरतपुर में 4 पॉजिटिव, भीलवाड़ा-7, बीकानेर चित्तौड़गढ़ में 1-1, चूरू-4, दौसा-2 पॉजिटिव, धौलपुर-8, डूंगरपुर-27, जयपुर-29, जैसलमेर-3, जालोर-6 पॉजिटिव, झुंझुनूं-6, जोधपुर-21, कोटा-20, नागौर-27, प्रतापगढ़-2 पॉजिटिव, राजसमंद-1, सीकर-8, सिरोही-18,उदयपुर- 12 पॉजिटिव, एक पॉजिटिव मरीज दूसरे राज्य का भी सामने आया. 

उत्तर प्रदेश में कल से 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ खुलेंगे सरकारी दफ्तर, सुबह 9 से शाम 7 बजे तक 3 शिफ्ट में होगा काम 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत, 248 नए पॉजिटिव केस आए सामने, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 6742

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत, 248 नए पॉजिटिव केस आए सामने, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 6742

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढते जा रहे है. राजस्थान में पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत हो गई, जबकि 248 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. चित्तौडगढ़ में 1, जयपुर,कोटा और नागौर में 2-2 मरीजों की मौत हो गई. राजस्थान में कुल मौतों का आंकड़ा 160 पहुंच गया है. कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 6 हजार 742 पहुंच गई है. इन पॉजिटिव मरीजों में 1478 प्रवासी राजस्थानी शामिल है. सर्वाधिक 40 मरीज अकेले नागौर जिले में सामने आये. अजमेर में 6,अलवर में 5,बांसवाड़ा में 1, बाड़मेर में 6,भरतपुर में 1, भीलवाड़ा में 12, बीकानेर में 3, चित्तौडगढ़ में 1, चूरू में 4, धौलपुर में 2, डूंगरपुर में 12,जयपुर में 22,जालोर में 13, झालावाड़ में 7, झुंझुनूं में 8, जोधपुर में 26, कोटा में 14,पाली में 23, राजसमंद में 19, सीकर में 2, सिरोही में 4, टोंक में 3, उदयपुर में 14 मरीज जांच में पॉजिटिव मिले है. 

संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या हुई 155: 
राज्य में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या 155 हो गयी है. जबकि अब तक अकेले जयपुर में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा 76 हो गया है. वहीं, जोधपुर में 17 और कोटा में 15 रोगियों की मौत हो चुकी है. हालांकि अधिकारियों का कहना है कि ज्यादातर मामलों में रोगी किसी न किसी अन्य गंभीर बीमारी से भी पीड़ित थे.

दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू 

शुक्रवार को 267 नए पॉजिटिव केस आए सामने:
इससे पहले शुक्रवार को 267 नए पॉजिटिव केस सामने आए. इसमें सर्वाधिक 30 केस पाली जिले से सामने आये. इसके अलावा अजमेर में 6, बांसवाड़ा में 9, बाड़मेर में 14, भरतपुर में 4 पॉजिटिव, भीलवाड़ा-7, बीकानेर चित्तौड़गढ़ में 1-1, चूरू-4, दौसा-2 पॉजिटिव, धौलपुर-8, डूंगरपुर-27, जयपुर-29, जैसलमेर-3, जालोर-6 पॉजिटिव, झुंझुनूं-6, जोधपुर-21, कोटा-20, नागौर-27, प्रतापगढ़-2 पॉजिटिव, राजसमंद-1, सीकर-8, सिरोही-18,उदयपुर- 12 पॉजिटिव, एक पॉजिटिव मरीज दूसरे राज्य का भी सामने आया. 

घट गई एयर कनेक्टिविटी! अब मात्र 13 शहरों के लिए चलेंगी जयपुर से फ्लाइट, अहमदाबाद और चेन्नई के लिए कोई फ्लाइट नहीं

घट गई एयर कनेक्टिविटी! अब मात्र 13 शहरों के लिए चलेंगी जयपुर से फ्लाइट, अहमदाबाद और चेन्नई के लिए कोई फ्लाइट नहीं

जयपुर: सोमवार से देश में हवाई अड्डों पर घरेलू फ्लाइट्स का संचालन शुरू हो जाएगा. जयपुर हवाई अड्डे से कुल 21 फ्लाइट संचालित होंगी. हालांकि यह जरूर होगा कि कई प्रमुख शहरों के लिए जयपुर से अब सीधी फ्लाइट नहीं मिलेंगी. फ्लाइट्स की संख्या में कमी के चलते यात्रियों को परेशानी झेलनी होगी. कौन-कौन से शहरों के लिए नहीं मिलेगी सीधी फ्लाइट, चलिए जानते है. देश में हवाई सेवाओं का संचालन फिर से शुरू होना यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है. अब फिर से एक से दूसरे शहर तक पहुंचना सुगम हो जाएगा. हालांकि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार ने यात्रियों से जरूरी होने पर ही यात्रा करने की अपील की है.

जयपुर से चार एयरलाइंस की कुल 21 फ्लाइट होंगी संचालित:
सोमवार से जयपुर एयरपोर्ट से घरेलू फ्लाइट उड़ान भरने लगेंगी. जयपुर से चार एयरलाइंस की कुल 21 फ्लाइट संचालित होंगी. गौरतलब है कि लॉक डाउन से पहले जयपुर एयरपोर्ट से 63 फ्लाइट संचालित हो रही थी, जिनमें 7 इंटरनेशनल और 56 घरेलू फ्लाइट थी. जबकि अब केवल 21 फ्लाइट ही शुरू होंगी. नए शेड्यूल में समस्या यह है कि कई शहरों के लिए अब सीधी फ्लाइट नहीं मिल सकेंगी. जयपुर से अहमदाबाद, चेन्नई, जैसलमेर, देहरादून, भोपाल, लखनऊ आदि प्रमुख शहरों के लिए कोई फ्लाइट नहीं मिलेगी. इन शहरों के लिए अब यात्रियों को दिल्ली में फ्लाइट बदलने की जरूरत होगी.

भाई ने किया रिश्तों को शर्मसार, दोस्तों के साथ मिलकर नाबालिग बहन का रेप कर उतारा मौत के घाट 

एयरलाइन्स नहीं बना सकी यात्रियों की जरूरत के मुताबिक शेड्यूल
- जयपुर से अहमदाबाद के लिए रोजाना अच्छा हवाई यात्री भार रहता है
- लॉक डाउन से पहले जयपुर से अहमदाबाद के लिए रोज 4 फ्लाइट चल रही थी
- 1 इंडिगो, 1 गो एयर और 2 फ्लाइट स्पाइसजेट की हो रही थी संचालित
- लेकिन अब एक भी एयरलाइन ने अहमदाबाद के लिए नहीं दिया शेड्यूल
- भोपाल के लिए लॉक डाउन से पहले स्पाइसजेट और एयर इंडिया की 2 फ्लाइट चल रही थी
- लेकिन अब एक भी फ्लाइट नहीं चलेगी भोपाल के लिए
- चेन्नई के लिए जयपुर से कोई भी सीधी फ्लाइट नहीं मिलेगी
- इन शहरों को जाने के लिए पहले दिल्ली की फ्लाइट लेनी होगी
- इसके बाद दिल्ली से कनेक्टिंग फ्लाइट से यात्री दूसरे शहर तक पहुंच सकेंगे

कितनी कम हुई फ्लाइट्स
- मुंबई के लिए पहले रोज 9 फ्लाइट चल रही थी, अब मात्र 2 फ्लाइट मिलेंगी
- बेंगलुरु के लिए पहले रोज 6 फ्लाइट थी, अब मात्र 3 फ्लाइट मिलेंगी
- हैदराबाद के लिए पहले 6 फ्लाइट थी, अब मात्र 2 फ्लाइट मिलेंगी
- कोलकाता के लिए पहले 4 फ्लाइट थी, अब मात्र 1 फ्लाइट मिलेगी
- पुणे के लिए पहले तीन फ्लाइट थी, अब दो फ्लाइट मिलेंगी
- दिल्ली के लिए पहले 7 फ्लाइट थी, अब 4 फ्लाइट मिलेंगी

समर शेड्यूल में कई नए शहरों के लिए होनी थी फ्लाइट शुरू:
नए शेड्यूल में उन शहरों के लिए भी फ्लाइट संचालित नहीं होंगी, जिनके लिए एयरलाइंस ने समर शेड्यूल में प्रस्ताव दिए थे. दरअसल 31 मार्च से शुरू होने वाले समर शेड्यूल में कई नए शहरों के लिए फ्लाइट शुरू होनी थी. चंडीगढ़ और इंदौर के लिए इंडिगो को फ्लाइट शुरू करनी थी. इंडिगो एयरलाइन श्रीनगर और गोवा के लिए भी फ्लाइट शुरू करने के लिए शेड्यूल दे चुकी थी. लेकिन इन शहरों के लिए फिलहाल फ्लाइट शुरू नहीं होगी. कुल मिलाकर कोरोना महामारी ने एविएशन सेक्टर को करीब 1 साल पीछे धकेल दिया है. लॉक डाउन से पहले की गति पकड़ने के लिए एयरलाइंस को करीब 1 साल तक का समय लग सकता है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू 

Open Covid-19