Live News »

विधानसभा में हुई वेब पोर्टल, डैश बोर्ड और मोबाइल एप्प की लांचिंग, पेपर लेस की दिशा में बड़ा कदम

विधानसभा में हुई वेब पोर्टल, डैश बोर्ड और मोबाइल एप्प की लांचिंग, पेपर लेस की दिशा में बड़ा कदम

जयपुर: 'पेपर लेस' और 'ग्रीन एसेम्बली ' की दिशा में राजस्थान की विधानसभा आगे बढ़ रही है. आज राज्य की विधानसभा में वेब पोर्टल, डैश बोर्ड और मोबाइल एप्प की लांचिंग हुई. लोकसभा के स्पीकर ओम बिरला ने नवाचारों को लांच किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, विधानसभा के अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल मौजूद रहे. प्रबोधन कार्यक्रम में लांचिंग की गई. 1952 से सदन की कार्यवाही का वृतांत को डिजीटाइज्ड करने में राजस्थान की विधानसभा प्रथम है. 

राजस्थान की विधानसभा तकनीक के क्षेत्र में अग्रणी रही है. साल 1997 में राज्य की विधानसभा देश में पहली थी जिसने सबसे पहले वेबसाइट लांच की थी. आज नवाचार के साक्षी बने लोकसभा के स्पीकर ओम बिरला, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल समेत प्रमुख विधायक और पूर्व विधायक मौजूद रहे. 

वेब पोर्टल का महत्व - -
- राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केन्द्र के सहयोग से बनी नवीन वेबसाइट तैयार हुई
- प्रतिवर्ष करोड़ों के कागज की संख्या को रोकने के लिये वेबसाइट का महत्व
- कागज की बचत मुख्य एंजेडा
- वार्षिक प्रतिवेदन, निष्पादन, आय व्यय ऑनलाइन 

1952 से सदन की कार्यवाही वृतांत का उद्घाटन - -
- डिजीटाइज्ड स्तर पर कार्यवाही वृतांतो का विवरण 
- पहली विधानसभा से 1998 तक के डिजीटाइज्ड वृतांत उपलब्ध होंगे
- तिथिवार, विषयवार, सदस्य वार, विशिष्ट तरह के खोज की सुविधा उपलब्ध रहेगी
- यह करने वाली देश की पहली विधानसभा है राजस्थान विधानसभा 

---मोबाइल एप्प---
- एंड्रायड प्लेटफार्म पर मोबाइल एप तैयार
- विधानसभा के प्रश्न, उत्तर, कार्यवाही, वृतांत, सदस्यों से सबंधित जानकारी, कार्यसूची समेत अनेक जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी
- रियल टाइम में अपडेट रहेगी

डैशबोर्ड - - - - 
- ग्रीन एसेम्बली नाम से विधानसभा सचिवालय के लिये डैशबोर्ड 
- कागजों की बचत के लिये डीजीटाइज व्यवस्था
- विधानसभा के कार्मिक अब ऑनलाइन व्यवस्था के तहत कार्य करेंगे
- विधानसभा सचिवालय की सभी शाखाएं डैशबोर्ड को उपयोग करेगी

राजस्थान की विधानसभा का गौरवशाली इतिहास रहा है. समय समय पर इसने खुद को बदला और ढाला है. सबसे बड़ा बदलाव उस वक्त हुआ था जब विधानसभा नये और विराट भवन में शिफ्ट हुई थी. अब 'ग्रीन विधानसभा ' की ओर राज्य विधानसभा आगे बढ़ रही है. ईकोफ्रेंडली और हाईटैक विधानसभा का उद्देश्य एक ही पुराने ढर्रे को बदलकर नये युग में ढ़ालना.

...फर्स्ट इंडिया के लिये योगेश शर्मा की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

Coronavirus Update: राजस्थान में चार नए पॉजिटिव मामले आने से संख्या पहुंची 54, देशभर में 984 केस आए सामने

Coronavirus Update: राजस्थान में चार नए पॉजिटिव मामले आने से संख्या पहुंची 54, देशभर में 984 केस आए सामने

जयपुर: भीलवाड़ा में शनिवार को कोरोनावायरस के तीन नए पॉजिटिव रोगी जांच में सामने आए. उधर शनिवार दोपहर तक जयपुर से जांच रिपोर्ट टेस्टपोट में कोरोना वायरस पॉजिटिव रोगियों के इलाज में लगे चिकित्सकों में नए उत्साह का संचार किया. भीलवाड़ा में लगातार दूसरे दिन 2 पॉजिटिव रोगियों की जांच रिपोर्ट इलाज के बाद नेगेटिव आई है. ऐसे में पांच करुणा पॉजिटिव लोगी अब कोरोना के कठिन घेरे से बाहर आ गए. उधर भीलवाड़ा में तीन पॉजिटिव रोगी और मिलने के साथ ही अब कुल पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढ़कर 24 हो गई है. 

VIDEO: कोरोना के खिलाफ जंग में रक्त की आपूर्ति, अशोक गहलोत की प्रेरणा से मोबाइल रक्तदान शिविर शुरु 

भीलवाड़ा में जल्द ही स्थापित होगी टेस्टिंग लैब:
भीलवाड़ा में कोरोनावायरस की जांच के लिए जल्द ही टेस्टिंग लैब स्थापित की जाएगी करीब दो करोड़ ₹64 लाख की राशि इस पर खर्च की जाएगी. उधर कोरोनावायरस की जंग जीतने के लिए जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस फाइटर्स हर गांव में नियुक्त करने की तैयारी शुरू कर दी है. भीलवाड़ा में दोस्तीय स्क्रीनिंग भी कराई जाएगी. भीलवाड़ा कलेक्‍टर राजेन्‍द्र भट्ट ने बताय कि यह फाईटर कोरोना व्‍यवस्‍था में 3 स्‍तरों ग्राम, पंचायत व ब्‍लॉक स्‍तर पर काम करेगें. वहीं आज अजमेर में भी एक 23 वर्षीय युवक कोरोना पॉजिटिव मिला है. अजमेर में अभी तक एक भी मरीजी पॉजिटिव नही था. लेकिन आज सुबह की जांच में एक मरीजी कि रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई. 

राजस्थान में 54 हुई मरीजों की संख्या:
जानकारी के अनुसार 23 वर्षीय युवक को कोरोना पॉजिटिव हुआ है. यह युवक पंजाब से 22 मार्च को अजमेर आया था. यह युवक सेल्समैन का काम करता है. हालांकि अधिकारियों ने युवक के बारे में किसी तरह की जानकारी साझा नही की है. ऐसे में अब प्रदेश में चार मरीजों को मिलाकर कुल मरीजों की संख्या 54 हो गई है. 

 22 आरएएस अफसरों के तबादले, रिक्त चल रहे 21 पदों पर तैनात किए अधिकारी 

देशभर में 984 लोग आए वायरस की चपेट में:
वहीं देश में अबतक कुल 984 लोग जानलेवा कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं. 24 घंटे में 149 नए केस सामने आए हैं. वहीं, 19 लोगों की अबतक मौत हुई है. हालांकि 84 लोग ठीक भी हुए हैं. संक्रमित मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा केरल में है. वहीं महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर है. भारत में कोरोना वायरस अभी दूसरी स्टेज पर है.
 

VIDEO: कोरोना के खिलाफ जंग में रक्त की आपूर्ति, अशोक गहलोत की प्रेरणा से मोबाइल रक्तदान शिविर शुरु

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जन्मदिन 3 मई को है. हर बार रक्तदान शिविर भी आयोजित होते है, लेकिन इस बार इन शिविरों को पहले ही आयोजित किया जा रहा है, कारण है कोरोना. समाजसेवी संगठनों को साथ मिलकर गहलोत के समर्थकों ने मोबाइल रक्तदान शिविर शुरु कर दिये है जिससे अस्पतालों में आपात हालात के दौरान रक्त कि कमी आड़े नहीं आये. सी एम गहलोत की प्रेरणा से ही साथी सेवा संस्थान निभा रहा है सामाजिक सरोकार. 

22 आरएएस अफसरों के तबादले, रिक्त चल रहे 21 पदों पर तैनात किए अधिकारी 

समर्थकों ने किया रक्तदान शिविर का आयोजन:
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना के प्रकोप को थामने के लिये हर वो स्टेप उठाये है जो जरुरी थे यहीं कारण है कि वो देशभर में मिसाल बने. उन्हीं की प्रेरणा से उनके कट्टर समर्थकों ने रक्तदान शिविर के आयोजन शुरु कर दिये. जबकि यह होने थे 3 मई को अशोक गहलोत के जन्मदिन पर. अब जयपुर कि सड़कों पर चलती फिरती सैनिटाइज मोबाइल रक्त दान वैन देखी जा सकती है.

Coronavirus Updates: देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 930 हुई, अब तक 21 लोगों की मौत

लोगों की जीवटता देखने लायक:
कोरोना वायरस के कारण हर व्यक्ति को अप्रिय हालात से गुजरना पड़ रहा है. इसके बावजूद लोगों की जीवटता देखने लायक है, रक्तदान शिविर आयोजित किये जा रहे जिससे अस्पतालों को रक्त की कमी से नहीं जूझना ना पड़े , मौजूदा हालात में रक्त दाता अस्पताल तक नहीं पहुंच पा रहे,जितना रक्त एकत्रित होना चाहिये था उतना नहीं हो पी रहा. यहीं कारण है कि मोबाइल रक्तदान वैन उन तक पहुंच रही है, साथी सेवा संस्थान की यह पहल वाकई अहम है ऐसे वक्त में जब रक्त की आपूर्ति अस्पतालों में होती रहनी चाहिये.

...फर्स्ट इंडिया के लिये योगेश शर्मा की  रिपोर्ट

22 आरएएस अफसरों के तबादले, रिक्त चल रहे 21 पदों पर तैनात किए अधिकारी

22 आरएएस अफसरों के तबादले, रिक्त चल रहे 21 पदों पर तैनात किए अधिकारी

जयपुर: प्रदेश में कोरोना वायरस की रोकथाम के बड़े उपायों के तहत गहलोत सरकार ने 22 Ras तबादलों के जरिये जिले और उपखंड स्तर पर रिक्त पदों को भरा है. सीएम गहलोत ने कल की वीसी में जब कलेक्टरों के रिक्त पद भरने के लिए कहा तो उसकी कार्रवाई के तहत आज ये तबादले किए गए हैं. इसके जरिए उपखंड स्तर पर 11 एसडीओ को इधर-उधर किया गया है जबकि 2 अतिरिक्त कलेक्टरों 3 सहायक कलेक्टर दो जिला परिषद सीईओ और तीन अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को बदला है. कुल 22 में से 21 अधिकारियों को तबादले करके रिक्त स्थानों को भरा गया है.

Coronavirus Updates: देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 930 हुई, अब तक 21 लोगों की मौत

कल वीसी में दी थी कलेक्टरों ने सीएम गहलोत को जानकारी:
कोरोना की रोकथाम की दिशा में अहम कड़ी माने जा रहे एसडीओ जैसे पद भी अभी तक रिक्त थे. कल वीसी में जब यह बात सामने आई तो तुरंत मुख्यमंत्री गहलोत ने इन्हें भरने के निर्देश दिए. इसके तहत कार्मिक विभाग ने आज सुबह तक कलेक्टरों से रिक्त पदों की जानकारी मांगी और शाम तक इन पदों को भरने के लिए 22 आर ए एस की तबादला सूची जारी कर दी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में शुक्रवार को वीसी में कलक्टरों ने जिलों में पद रिक्त होने की जानकारी दी थी. सीएम की मंजूरी के बाद 24 घंटे में ही शनिवार को कार्मिक विभाग ने जिलों में रिक्त चल रहे उपखंड अधिकारी के 11, 2 अतिरिक्त कलेक्टरों 3 सहायक कलेक्टर्स दो जिला परिषद सीईओ और तीन जिला परिषद अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को इधर उधर कर दिया.

लॉक डाउन की अवधि के टिकट का मिलेगा पूरा रिफंड, रेलवे प्रशासन ने यात्रियों के लिए दी राहत

जयपुर में तैनात 10 अफसरों को जिलों में भेजा:
कार्मिक विभाग की ओर से जारी तबादला सूची में जयपुर में तैनात 10 अफसरों को जिलों में रिक्त चल रहे उपखंड पर भेज दिया गया है. वहीं जयपुर से बाहर भेजे गए करीब 12 अधिकारियों में 5 महिला RAS अधिकारी शामिल हैं.

Rajasthan Lockdown: कोरोना से बचाव के लिए प्रदेश के कई जिलों में लॉकडाउन का असर, तो कालाबाजारी करने पर 2 दुकानें सीज 

Rajasthan Lockdown: कोरोना से बचाव के लिए प्रदेश के कई जिलों में लॉकडाउन का असर, तो कालाबाजारी करने पर 2 दुकानें सीज 

जयपुर: 21 दिन के लॉकडाउन का शनिवार को चौथा दिन है, कोरोना से बचाव के लिए केन्द्र और राज्य सरकार ने ये कदम उठाया है. इसी को देखते हुए प्रदेश के सभी जिलों में लॉकडाउन का असर देखा जा रहा है, तो कहीं पर कोरोना पॉजिटिव ज्यादा मिलने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया है. प्रदेश के भीलवाडा में आठ दिन से कर्फ्यू जारी है. वहीं राजधानी जयपुर के रामगंज में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद 7 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया है. चलिए जानते है लॉकडाउन के बाद प्रदेश के जिलों के हालात के बारे में...

बारां के छबड़ा में दो दुकानों को 24 घण्टों के लिए किया सीज
लोक डाउन के चलते जहा छबड़ा में कुछ दुकानदारों द्वारा खाद्यय सामग्री की कालाबाज़ारी करने व सामग्री को मन माने दामों पर बेचने की शिकायत पर नायब तहसीलदार ने कार्यवाही करते हो अलीगंज बाजार स्तिथ बनवारी साहू व वार्ड 28 की एक किराने की दुकान पर कार्यवाही करते हुए अगले 24 घण्टों तक के लिए दोनो दुकानों को सीज किया गया.

लॉक डाउन की अवधि के टिकट का मिलेगा पूरा रिफंड, रेलवे प्रशासन ने यात्रियों के लिए दी राहत

नायब तहसीलदार ने बताया कि दोनों दुकानदारों के विरुद अलग अलग उपभोक्ताओं द्वारा पोर्टल पर आटे के कट्टों समेत अन्य सामग्री को ज्यादा कीमत पर बेचान करने की शिकायत की गई थी जिस पर कार्यवाही करते हुवे दोनो की दुकानों को सीज किया गया. प्रशासन की कार्यवाही से जहा किराना व्यापारियों में हड़कम्प मच गया तो वही पुलिस की सख्ती के चलते लोक डाउन में बाजार बंद रहे तो वहीं छबड़ा सब्जी मंडी को खाली करा दिया गया. सब्जी विक्रेताओं को वार्ड वार्ड गली गली में जाकर सब्जी और फल फ्रूट बेचने के निर्देश दिए गए. कानून का उलंघन करने पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी.

जोधुपर में भामाशाह आये आगे:
जोधपुर के भामाशाहों से लेकर कई समाजसेवियों ने बढ़-चढ़कर कोरोनावायरस के बाद लॉक डाउन के चलते प्रभावित हुए जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए आगे आए हैं और आर्थिक सहायता के अलावा भोजन के पैकेट इत्यादि बनाकर वितरण करने में मदद कर रहे हैं. इसी बीच प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव करण सिंह उचियारड़ा ने भी आगे आकर 11 लाख रुपए का चेक मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा कराने के लिए जिला कलेक्टर को सौंपा है.

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव करण सिंह उचियाडा का कहना है कि राजस्थान में हमारी सरकार लगातार बेहतर से बेहतर सुविधाएं मुहैया करा रही है, तो वहीं कोरोना वायरस से निपटने के लिए तमाम इंतजाम किए गए हैं मगर ऐसे में हमारा भी दायित्व बनता है कि बढ़-चढ़कर मुख्यमंत्री सहायता कोष के जरिए जो जरूरतमंद है उनकी मदद की जा सके इसी भावना को ध्यान में रखकर हम लोग प्रतिदिन 1000 भोजन के पैकेट तैयार करेंगे और साथ ही 11 लाख 11 हजार 11 रुपए का चैक मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिया है और जयपुर में स्थित हमारा एक होटल आइसोलेशन सेंटर के लिए  जिला कलेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री को पत्र भेजा है.

Corona Update: गायिका कनिका कपूर की तीसरी रिपोर्ट भी आई कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल में जारी है इलाज

झुंझुनूं के सुल्ताना में करीब 500 अन्नपूर्णा किट हो रहे हैं तैयार:
कोरोना वायरस से उपजे संकट के बीच जरूरतमंदों की मदद के लिए सुल्ताना के ग्रामीणों ने पहल की हैं. ग्रामीणों ने सुल्ताना में जरूरतमंदों की मदद के लिए सुल्ताना पुलिस के सहयोग से एक कंट्रोल रूम बनाया हैं, जहां रोजाना खाद्य सामग्री के किट तैयार किए जा रहे हैं इन कीट में 10 किलो आटा चीनी चावल तेल चाय मसाले बिस्किट समेत अन्य जरूरत का सामान हैं, इसे कोविड सहायता समिति नाम दिया गया हैं जिसका उद्देश्य हैं कि किसी को भी भूखा नही सोने देंगे हर जरूरतमंद तक भोजन पहुंचे और अन्य कोई जरूरत हो वह भी की जा सकें.

इस सम्बंध में सुल्ताना चौकी प्रभारी एएसआई मक्खन लाल के नेतृत्व में एक टीम बनाई जो जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री मुहैया करवाएगी. जरूरतमंदों  के लिए अन्नपूर्णा किट बनाए गए हैं जिनमे 10 किलो आटा समेत चीनी,चावल,दाल, तेल,मसाले और बिस्किट को शामिल किया गया हैं, इस अन्नपूर्णा खाद्य सामग्री के लिए भामाशाहों और सुल्ताना व्यापार मंडल ने मदद की हैं. सुल्ताना में 25 मार्च को चिड़ावा डिप्टी आरपी शर्मा के सानिध्य में जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री के किट वितरण शुरू कर दिया गया.

Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 54, तो भीलवाड़ा से किसी भी व्यक्ति को बाहर ना जाने देने के निर्देश

टीम की और से रोजाना 10 से 15 जरूरतमंद परिवारों को राशन सामग्री का वितरण किया जा रहा हैं. सुल्ताना चौकी प्रभारी मक्खन लाल रोजाना ग्रामीणों को साथ लेकर झुग्गीयों में पहुंचकर खाद्य सामग्री की जानकारी लेकर जरूरतमंद परिवारों को राशन सामग्री का वितरण करवा रहे हैं. सुल्ताना के ग्रामीणों और पुलिस की इस अनूठी पहल को सराहना मिल रही हैं.

लॉक डाउन की अवधि के टिकट का मिलेगा पूरा रिफंड, रेलवे प्रशासन ने यात्रियों के लिए दी राहत

लॉक डाउन की अवधि के टिकट का मिलेगा पूरा रिफंड, रेलवे प्रशासन ने यात्रियों के लिए दी राहत

जयपुर: कोरोना महामारी के चलते देशभर में लॉक डाउन की अवधि के बीच जब ट्रेनों का संचालन बंद हो चुका है. ऐसे में रेलवे प्रशासन ने यात्रियों को पहले से बुक टिकटों के लिए पूरी राशि रिफंड करने का फैसला लिया है. रेलवे प्रशासन ने यह राहत उन यात्रियों के लिए भी दी है, जिन्होंने पहले से अपना टिकट स्वयं के स्तर पर रद्द करवा लिया है. हालांकि ऐसे टिकटों के रद्द करने पर कैंसिलेशन चार्ज काट लिया गया है, लेकिन अब रेलवे प्रशासन ने आज जारी आदेशों में कहा है कि ऐसे यात्री कैंसिलेशन चार्ज के तौर पर काटी गई राशि रिफंड कराने के लिए भी आवेदन कर सकेंगे.

Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 54, तो भीलवाड़ा से किसी भी व्यक्ति को बाहर ना जाने देने के निर्देश

यात्रा के टिकटों की पूरी राशि मिलेगी:
21 मार्च से 14 अप्रैल तक की अवधि के रद्द हुए टिकटों की पूरी राशि यात्रियों को रिफंड की जाएगी. जिन यात्रियों ने रेलवे स्टेशनों की टिकट विंडो से टिकट खरीदे हैं, उन्हें टिकट डिपॉजिट रिसिप्ट फॉर्म भरना होगा. जबकि जिन यात्रियों ने ऑनलाइन टिकट बुक किए हैं, उनकी राशि अपने आप खाते में क्रेडिट हो जाएगी. टिकट कैंसिलेशन के लिए टिकट डिपॉजिट रिसिप्ट भरने की अंतिम तिथि 21 जून 2020 रखी गई है.

Corona Update: गायिका कनिका कपूर की तीसरी रिपोर्ट भी आई कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल में जारी है इलाज

Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 54, तो भीलवाड़ा से किसी भी व्यक्ति को बाहर ना जाने देने के निर्देश

Rajasthan Corona Update:  प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 54, तो भीलवाड़ा से किसी भी व्यक्ति को बाहर ना जाने देने के निर्देश

जयपुर: प्रदेशभर में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है. प्रदेश में पिछले 12 घंटे में 4 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 54 पहुंच गया है. भीलवाड़ा में 3 मामले सामने आये है, जबकि अजमेर जिले में एक मामला सामने आया है. प्रदेश के भीलवाड़ा में कोरोना वायरस की वजह से हालत खराब है. भीलवाड़ा में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 24 पहुंच गई है. भीलवाड़ा के बांगड़ हॉस्पिटल में कार्यरत टाइपिस्ट कोरोना कोरोना की चपेट में आ गया है, एसीएस मेडिकल रोहित कुमार सिंह ने जानकारी दी. 

सीएम गहलोत का बड़ा फैसला:
प्रदेश के भीलवाड़ा जिले में कोरोना वायरस के बढते पॉजिटिव मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ा फैसला लिया है. सीएम गहलोत ने भीलवाड़ा जिला कलेक्टर को निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी व्यक्ति को भीलवाड़ा से बाहर ना जाने दें. भीलवाड़ा को कोरोना का एपिकसेंटर बनने से रोकें. भीलवाड़ा में मास लेवल पर स्क्रीनिंग की जाए, ताकि दूसरी जगह संक्रमण न फैल सके.

Lockdown: पैदल यात्रा को मजबूर हुए लोग, भामाशाहों ने राहगीरों के लिए जुटाया भोजन-पानी

अजमेर के क्लॉक टावर थाना क्षेत्र में कर्फ्यू:
अजमेर में कोरोना वायरस एक पॉजिटिव मरीज मिलने से चिकित्सा विभाग में हड़कंप मच गया है. यह मरीज  अजमेर के डिग्गी बाजार का बताया जा रहा है. मोहम्मद को शुक्रवार को भर्ती किया गया था. शनिवार को उसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मरीज को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है. अजमेर के क्लॉक टावर थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगाया गया है. यात्री और भिखारियों को रेलवे स्टेशन और आसपास के क्षेत्र में शिफ्ट किया गया है. करीब 200 से 300 लोगों को राइक्वे म्यूजियम में शिफ्ट किया गया है.

रामगंज में दहशत का माहौल:
जयपुर के रामगंज में दूसरा पॉजिटिव मरीज सामने आने से क्षेत्र में दहशत का माहौल है. ओमान से लौटे पॉजिटिव मरीज का दोस्त मोहम्मद हनीफ भी कोरोना की चपेट में आ गया है. ये पॉजिटिव मरीज भी खुद को पूरी तरह स्वस्थ्य बताकर अपने दोस्तों से मिलता रहा है. देखते ही देखते हनीफ भी कोरोना की चपेट में आ गया. जयपुर में इस तरह ट्रांसमिशन का यह पहला केस सामने आया है, जब बाहर से आए किसी पॉजिटिव ने स्थानीय को बीमारी की चपेट में ले लिया. ये प्रक्रिया ही कोरोना की थर्ड स्टेज कहलाती है. चिकित्सा विभाग के लिए रामगंज केस एक बड़ी चुनौती बन गया है. अब दोनों मरीजों के कांटेक्ट पर्सन को तलाशना बेहद मुश्किल काम है. हालांकि, CMHO प्रथम नरोत्तम शर्मा की टीम फील्ड में जुटी हुई है. 

Rajasthan Lockdown: मजदूरों के लिए सबसे बड़ी राहत भरी खबर, शुरू होगी राजस्थान रोडवेज बस सेवा

7 थाना इलाकों में कर्फ्यू:
जयपुर के रामगंज इलाके में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद शुक्रवार को रामगंज समेत शहर के 7 थाना इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है. इनमें रामगंज, सुभाष चौक, माणक चौक और कोतवाली के संपूर्ण क्षेत्र में तथा गलता गेट, ब्रह्मपुरी व नाहरगढ़ थाना इलाके के चादीवारी क्षेत्र में कर्फ्यू लगाया गया है. इसके बाद पुलिस और सतर्क हो गई है.

फर्स्ट इंडिया की तरफ से अपील, घरों में रहे, कोरोना कर रहा है तीसरी स्टेज में प्रवेश

 फर्स्ट इंडिया की तरफ से अपील, घरों में रहे, कोरोना कर रहा है तीसरी स्टेज में प्रवेश

जयपुर: मित्रों, आज से कोरोना वायरस तीसरी स्टेज में प्रवेश कर रहा है. यहां से 8 दिन सब से ज्यादा महत्वपूर्ण होंगे। इन दिनों में हम सबको विशेष ख्याल रखना होगा. हम सब को सोशल डिस्टेन्सिंग के साथ अब फिजिकल डिस्टेन्सिंग की पालना करना होगा. एक दूसरे से उचित दूरी बनाए रखनी है. मास्क और सेनेटाइजर का मुकम्मल इस्तेमाल करना है. 

किसी भी हाल में खुद को संक्रमण में नहीं फंसने देना है. बिल्कुल भी लापरवाही नहीं करनी है. अगर आगामी 4 दिन हमने खुद को सुरक्षित रख लिया तो आधी जंग जीत लेंगे. हमको कोरोना को हराना है. ये जंग जीतना ही है. अपने लिए और अपने घरवालों के लिए। खुद को सुरक्षित रखना है। कोरोना से बचना है.

सबसे कारगर उपाय
1. एक दूसरे से कम से कम 4 से 6 फ़ीट की दूरी बनाएं.

2. मास्क और सेनेटाइजर का यूज़ करें.

3. बार-बार हाथों को धोएं. 

4. दिनभर में कम से कम 5 बार गर्म पानी पिएं.

5. घर पर सुबह शाम नमक वाले पानी से गरारे करें.

6. शरीर को गर्म रखें.

7. फ्रिज के पानी और ठंडी चीज़ों का सेवन भूल कर भी न करें.

8. खुद को सर्दी खांसी से बचाएं.

9. घर पर अदरख, काली मिर्च और लौंग का काढ़ा बनाएं, इसमे एक चम्मच शहद मिला कर चाय की तरह गरमा गरम ही पिएं.

10. घर पर बच्चों और बुजुर्गों का विशेष ख्याल रखें.

सबसे जरूरी है कि हमें घबराना नहीं है. मनोबल को बढ़ाए रखना है. कही सुनी बातों पर खुद का मूल्यांकन नहीं करना है. 

Rajasthan Lockdown: मजदूरों के लिए सबसे बड़ी राहत भरी खबर, शुरू होगी राजस्थान रोडवेज बस सेवा

Rajasthan Lockdown: मजदूरों के लिए सबसे बड़ी राहत भरी खबर, शुरू होगी राजस्थान रोडवेज बस सेवा

जयपुर: कोरोना लॉकडाउन के बीच मजदूरों के लिए सबसे बड़ी राहत की खबर है. मजदूरों को उनके राज्य में ले जाने के लिए राजस्थान रोडवेज की बस सेवा शुरू हुई है.राजस्थान के जिस जिले से निकल रहे मजदूर,उन्हें उनके राज्य की सीमा तक बस छोड़ेंगी. इसी तरह दूसरे राज्य की सीमा से प्रदेश के नागरिकों को बस लेकर प्रदेश पहुंचेगी. जिला कलक्टर बसों को कहां जाना और कैसे जाना है यह तय करेंगे. भारत सरकार के निर्देशों के बाद एसीएस होम ने आदेश जारी किए है. रोडवेज एमडी नवीन जैन ने सभी आगार प्रबंधकों को निर्देश दिए है.

Open Covid-19