पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव की तैयारियां पूरी

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/01/03 03:53

जोधपुर। 29वां पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव 2019 की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। जिला प्रशासन, जिला उद्योग केंद्र, उद्यम प्रोत्साहन संस्थान जयपुर तथा नोडल एजेंसी मरूधरा इंडस्ट्रील एसोसिएशन के सहयोग से रावण का चबूतरा मैदान में 4 से 13 जनवरी तक होने वाले इस उत्सव में इस बार अनेक नूतन अभिनव कार्यक्रम शामिल किए जाएंगे। चार जनवरी को शाम पांच बजे उद्योग एवं राजकीय उपक्रम मंत्री परसादीलाल मीणा इस मेले का उद्घाटन करेंगे। 

उत्सव संयोजक सुनील परिहार ने पत्रकारों को बताया कि मेला स्थल पर तैयारियों को लगभग अंतिम रूप दे दिया गया है। इस उत्सव की प्रगति इस तथ्य से ही प्रतिलक्षित होती है कि जहां वर्ष 1991 में मात्र 80 स्टॉल्स के साथ यह उत्सव प्रारम्भ हुआ था वहीं इस साल उत्सव स्थल पर लगभग 792 से अधिक स्टॉल्स के साथ राजस्थान के लगभग सभी जिलों के अलावा विभिन्न राज्यों देहली, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, जम्मू कश्मीर, हरियाणा, तमिलनाडू, उड़ीसा, हिमाचल प्रदेश, आसाम, गुजरात, पंजाब, पश्चिमी बंगाल, मणिपुर, दमन, कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश एवं उत्तरांचल आदि के लघु कुटीर औद्योगिक व हस्तशिल्प इकाइयों ने भाग लेकर अपने उत्पादों का प्रदर्शन एवं विक्रय करेंगे। 

उत्सव-2019 में 14 डोम बनाकर 591 स्टॉल्स का निर्माण किया गया है इसके अलावा टेन्टेज में 122 स्टॉल्स का निर्माण करवाया गया है एवं 59 एक्सक्लूजिव स्टॉल्स 20 नि:शुल्क स्टॉल्स का निर्माण भी किया गया है। उत्सव- 2019 में प्रतिवर्ष की भांति भव्य केन्द्रीय पंडाल सुसज्जित किया गया है जिसमें अनेक उत्कृष्ठ हस्तशिल्प कृतियां, औद्योगिक उत्पाद एवं दैनिक उपयोगी सामग्री का आकर्षक रूप से प्रदर्शन किया गया है। इसके अतिरिक्त केन्द्रीय पंडाल के बाहर दस्तकार/हस्तशिल्पी एवं बुनकरों द्वारा अपने हुनर के जीवन्त प्रदर्शन के लिए पारम्परिक झोपड़ीनुमा स्टॉल्स का भी निर्माण किया गया है। इस बार उत्सव में जोधपर से निर्यात होने वाले हस्तशिल्प उत्पादों को उत्सव के केन्द्रीय पंडाल में प्रदर्शित किया जाएगा। इसके साथ ही जोधपुर से नियत किए जाने वाले अन्य उत्पादों को भी उत्सव के केन्द्रीय पंडाल में प्रदर्शित किया जाएगा। 

इस बार हस्तशिल्प उत्सव में 5 जनवरी की शाम आकर्षण का केन्द्र रहेगी। अंतरराष्ट्रीय हास्य कवि सम्मेलन दर्शकों को गुदगुदाने के लिए विशेष रूप से आयोजित किया जा रहा है। इसमें अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कवि शैलेष लोढां, अरूण जैमिनी, जगदीश सोलंकी, संजय झाला व हासीम फिरोजाबादी जेसे दिग्गज कवियों को भी आमंत्रित किया गया है। इससे पहले दोपहर में संगोष्ठी कक्ष में खुली परिचर्चा का आयोजन किया जा रहा है। 

इसमें रीकों के मैनेजिंग डाईरेक्टर गौरव गोयल, राजस्थान राज्य प्रदूषण निवारण बोर्ड के चेयरमैन सुदर्शन सेठी, उद्योग आयुक्त डॉ. के के पाठक एवं एमडीआरएफ.सी उर्मिला राजोरिया भाग लेंगे। इसमें उद्योगों से जुड़ी परियोजनाओं की समस्याओं पर खुली परिचर्चा होगी। मेले में श्रम विभाग द्वारा युवाओं के कौशल व श्रम कल्याण की योजनाओं के प्रचार प्रसार के लिए व्यवस्था की गई है। इस आयोजन की मख्य थीम तकनीकी शिक्षा एवं कषि क्षेत्र को रखा गया है आधारित संगोष्ठियां इस उत्सव के दौरान आयोजित की जाएगी।  इसी तरह 7 जनवरी को उद्यान विभाग के सौजन्य से रोज शो एवं 12 जनवरी को पशुपालन विभाग के सौजन्य से श्वान प्रदर्शनी डॉग जोशन शो का आयोजन किया जाना प्रस्तावित है। 

उत्सव के दौरान आकर्षण के रूप में निफ्ट एवं फुटवियर डिजाइन एण्ड डेवपलमेंट इंस्टीटयूट् जोधपुर द्वारा संयुक्त रूप से फैशन शो आयोजित किया जाना प्रस्तावित है। उत्सव के दौरान चित्रकला, मेहन्दी, रंगोली आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाएगा। इसके साथ ही प्रतिदिन विभिन्न प्रकार के उत्कृष्ट सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इन सांस्कृतिक कार्यक्रमों में 12 जनवरी को विशेष आर्कषण के रूप में मेगा बॉलीवुड सांस्कृतिक संध्या में बॉलीवुड के प्रख्यात गायक शानअपनी प्रस्तुति देंगे। मेले में सुरक्षा की दृष्टि से विशेष प्रबन्ध किए गए है। आगुन्तकों पर नजर रखने के लिए मचान का निर्माण किया गया है, सुरक्षा कर्मी वहां से 24 घन्टे आगुन्तकों की गतिविधियों पर नजर रखेंगे। उत्सव में इस बार सुरक्षा के दृष्टिकोण को ध्यान में रखते सभी मार्गों एवं डोम्स में सीसी टीवी कैमरे लगा कर रिकॉर्डिग की व्यवस्था की गई है, साथ ही कंट्रोल रूम में नजर रखने हेतु एक टीवी स्क्रीन भी लगाई जाएगी। 

उत्सव के दौरान रेजिडेन्सी रोड़ पर यातायात बाधित न हो, इस दृष्टि से उत्सव का मुख्य द्वार कलपतरू सिनेमा के सामने निर्मित किया गया है, अंदर प्रवेश करते ही आगुन्तकों के लिए बायी ओर के खुले स्थान में वाहन पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। इसी प्रकार पाल रोड से बरकतुल्ला स्टेडियम के मुख्य द्वार से भी वाहनों का प्रवेश दिया गया है। द्वार के दायीं ओर चार पहिया वाहन एवं बायी ओर दुपहिया वाहन की पार्किग कर प्रवेश की व्यवस्था की गई है तथा पैदल आने वाले आगुन्तकों के लिए पालरोड के स्टेडियम द्वार से प्रवेश की व्यवस्था रखी गई है।

आयोजन में इस बार राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विकास संस्थान, महिला व बाल विकास विभाग, नाबार्ड, कृषि विभाग, पुलिस विभाग, खनन विभाग, जोधपुर विद्युत वितरण निगमत, राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम, पॉलिटेक्निक महाविद्यालय, महिला पोलीटेक्निक महाविद्यालय, राजस्थान वित निगम, नगरनिगम, जोधपुर विकास प्राधिकरण इत्यादि संस्थानों एवं विभाग से सहयोग प्राप्त किया गया है। एम्स, आईआईटी, राजस्थान आयुर्वेद विश्वविद्यालय, आईटीआई सहित अन्य शैक्षणिक संस्थानों एवं विभागों ने उत्सव में सकारात्मक सहभागिता निभाई है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in