कौन पहुंचेगा राजस्थान विधानसभा के बाल सत्र, किस बच्चे को मिलेगा ये अवसर? देश के पहले Digital Baal Mela 2021 में होने जा रहा विशेष सत्र

कौन पहुंचेगा राजस्थान विधानसभा के बाल सत्र, किस बच्चे को मिलेगा ये अवसर? देश के पहले Digital Baal Mela 2021 में होने जा रहा विशेष सत्र

कौन पहुंचेगा राजस्थान विधानसभा के बाल सत्र, किस बच्चे को मिलेगा ये अवसर? देश के पहले Digital Baal Mela 2021 में होने जा रहा विशेष सत्र

जयपुर: फ्यूचर सोसाइटी और एलआईसी द्वारा प्रायोजित रचनात्मक मंच 'डिजिटल बाल मेला 2021' सीजन- 2 के आरंभ के साथ ही ये मंच इति​हास के पन्नों पर अपना नाम दर्ज करने के सफर पर निकल चुका है. बच्चों को राजनीति और सरकार का अद्धभूत ज्ञान देने वाला ये मंच अब बच्चों के सामाजिक विषयों पर भी ​संज्ञान बढ़ा रहा है. डिजिटल बाल मेला के शुरू होने के साथ ही इस मंच पर बच्चों की एंट्री आनी शुरू हो गई है. बच्चे लगातार अपनी एंट्री भेज रहे है और बाल मेला के मुखर बनने की दौड़ में चल पड़े है. देशभर में परचम लहरा रहा ये मंच अब ना सिर्फ बच्चों बल्कि उनके माता—पिता को भी काफी आकर्षित कर रहा है. अपने व्यस्त जीवन में बच्चों को समय नहीं दे पा रहे माता—पिता के लिए ये मंच एक सौगात लेकर आया है जिसमें वो अपने बच्चे को बिना घर से बाहर निकले उनकी प्रतिभा को दुनिया के सामने रख सकते है. ये वाकई में एक अनूठा प्रयास है जिसने देशभर के बच्चों को एक—दूसरे से जोड़ दिया है. जहां देश के कोने—कोने से आये बच्चे राजनेताओं और देश की हस्तियों संग अपने मन की बात साझा कर रहे हैं.

जाहिर है कि डिजिटल बाल मेला प्रतियोगिता में विजेता को 14 नवंबर बाल दिवस के खास मौके पर राजस्थान विधानसभा के विशेष बाल सत्र में जाने का मौका देगा. ये मंच बच्चों के लिए एक नया इतिहास रचने जा रहा है. जहां देश में पहली बार बच्चे राजस्थान विधानसभा के बाल सत्र में अपनी मौजुदगी देंगे. ऐसे में ना सिर्फ बच्चे इस सत्र में शामिल होंगे बल्कि विधानसभा की कार्यशैली को भी करीब से जानेंगे. राजनेताओं और अफसरों द्वारा किये जा रहे कार्यो का संज्ञान लेंगे. ऐसे में ये मंच ना​ सिर्फ उन्हे नई सीख देगा बल्कि भविष्य के लिए एक मिसाल भी बनेगा.

कौन पहुंचेगा राजस्थान विधानसभा बाल सत्र, किस बच्चे को मिलेगा ये सुनहरा मौका?
डिजिटल बाल मेला 2021 के सीजन2 की थीम 'बच्चों की सरकार कैसी हो' में बच्चों को राजस्थान विधानसभा के विशेष बाल सत्र में जाने का मौका मिलेगा. लेकिन ऐसे में हर बच्चे के मन में ये सवाल आता है कि आखिर बच्चे राजस्थान विधानसभा कैसे पहुंचेंगे.तो बच्चों आपको बता दें कि डिजिटल बाल मेला के विधानसभा बाल सत्र में जाने के लिए बच्चों को डिजिटल बाल मेला की सभी प्रतियोगिताओं में भाग लेना होगा. जिसके लिए बच्चे सबसे पहले डिजिटल बाल मेला की वेबसाइड पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाए. इसके बाद वो बाल मेला से जुड़ी हर एक प्रतियोगिता में भाग लेने को तैयार हो.

डिजिटल बाल मेला इस सीजन मे कई प्रतियोगिता आयोजित करने जा रहा है जिसके सही जवाब बच्चों को राजस्थान विधानसभा में जाने का सुनहरा मौका देगा.ऐसे में यदि आपके मन में ये सवाल है कि आप किस तरह इन प्रतियोगिताओं में अपना बेहतर प्रदर्शन कर सकते है लेकिन क्योंकि इससे पहले बच्चों को अपना रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है तो बच्चे स्टेप टू स्टेप जान सकते है कि वो डिजिटल बाल मेला कि प्रतियोगिता में कैसे भाग ले:

डिजिटल बाल मेला 2021 में भाग लेने की प्र​क्रिया बिल्कुल सरल है जिसमें बच्चे "बच्चों की सरकार कैसे हो" के जरिए बताएंगे उनकी सरकार कैसी हो.

भाग लेने के लिए बच्चों को सबसे पहले डिजिटल बाल मेला की वेबसाइट पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना है.इसके लिए बच्चे डिजिटल बाल मेला की बेवसाइड www.digitalbaalmela.com पर जाएं जहां आपको अपना नाम, माता—पिता का नाम, अपनी कक्षा,विद्यालय का नाम, अपनी उम्र और अपना पता इन सभी की जानकारी देनी है.

बात दें कि इस प्रतियोगिता में 6 से 16 साल के बच्चे शामिल हो सकते है. और डिजिटल बाल मेला की हर एक प्रतियागिता में हिस्सा ले सकते है.इसके बाद प्रतियोगिता के आॅप्शन पर जाकर अपनी वीडियो वहां अपलोड करें.आपको बता दें कि बाल मेला में भाग लेने के लिए बच्चों को अपने 2 से 3 मिनट का वीडियो बनाना होगा. जिसमें 'बच्चों की सरकार कैसी हो' पर बात करेंगे. इसके संदर्भ में ही बच्चों को अपना एक वीडियो तैयार करना है जिसमें वो सरकार से सवाल, सरकार को अपने सुझाव, या अपने विचार रख सकते है इसके अलावा यदि वो मंत्री होते तो किस क्षेत्र मे काम करते और एक मंत्री होने पर क्या जिम्मे​दारियां पूरी करते. ये सब बच्चों को वीडियों में देना है.

इस प्रतियोगिता में नन्हें बच्चों को बताना होगा कि उनकी की सरकार कैसी हो? प्रतियोगिता में बच्चे अपनी सरकार के बारे में क्या सोचते हैं? बच्चे अपनी सरकार से क्या—क्या उम्मीद करते हैं? वे अपनी सरकार को क्या सुझाव देते हैं? जैसे अनेक सवालों के जवाब बच्चों को देने होंगे और बाल मेला के इस टास्क को सकुशल पूरा करने वाले कुछ चुनिंदा बच्चे इस सीजन के विजेता घोषित किए जाएंगे. 

इसी के साथ डिजिटल बाल मेला 2021 में अपनी सरकार बनाने जा रहे बच्चों के लिए प्रश्नोतरी प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी. इन दिनों बच्चे हर रोज राजनेताओं संग संवाद कर रहे है. राजनीति के करीब आ रहे बच्चे उनसे उनके अनुभवो पर बात कर रहे है राजनीति में आने के लिए अपने आपको कैसे तैयार किया जाता है और वही किस तरह जनता की रक्षा उनकी सुरक्षा को अपना पहला कर्तव्य मानकर अपना फर्ज निभाना होता है. ये सभी बातें बच्चे मंत्रियों, विधायकों और देश की कई बड़ी हस्तियों संग सीधा संवाद कर जान रहे है.

अब बच्चों को इसी तरह अपनी सरकार बनाने के लिए अपनी योजना बनानी होगी. जहां वो घर बैठे—बैठे कुछ सवालों का जवाब देंगे.ये सवाल कुछ इस तरह होंगे जैसे कि यदि वो देश के प्रधानमंत्री होते तो क्या योजनाएं लेकर आते किस तरह देश के विकास में उन्नति लाते. इसके अलावा यदि उन्हें किसी राज्य का मुख्यमंत्री बनाया जाए तो वो अपने क्षेत्र में क्या बदलाव लाते. राजनीति से जुड़े इन्हीं प्रश्नों का बच्चों को विचार कर जवाब देना है.

हर दिन बच्चे बनेंगे लीडर:
डिजिटल बाल मेला 2021 में आयोजित की गई क्विज और प्रश्नोतरी के बाद बच्चों में हर दिन एक लीडर की घोषणा की जाएगी. जिसके लिए बच्चों को हर दिन बाल मेला द्वारा राजनेताओं संग संवाद में भाग लेना होगा.इस प्रतियोगिता में शामिल हो रहे बच्चों को राजनीति मे कदम रखने का एक सुनहरा अवसर मिलेगा जिसमें वो राजनेताओं से सवाल कर सकते है, उन्हें सुझाव दे सकते है, उनके द्वारा किये जा रहे कार्यो के बारे में बात कर सकते है अपने विचार उनसे साझा कर सकते है. ऐसे में संवाद में जिस भी बच्चे का प्रश्न अच्छा होगा,विचार अच्छा होगा, सुझाव अच्छा होगा उसे ही उस दिन का लीडर घोषित किया जाएगा.

27 जून से शुरू हो रहा है डिजिटल बाल मेला 2021 की क्विज प्रतियोगिता का सफर:
डिजिटल बाल मेला के मंच पर होने जा रही देश की पहली राजनीतिक प्रतियोगिता इसी महीने 27 जून से शुरू होने जा रही है. जी हां अपने रजिस्ट्रेशन को सुनिश्चत करके बच्चे इस प्रतियोगिता से बड़ा मौका पा सकेंगे.ऐसे में 27 जून से वो हर रोज क्विज का जवाब देंगे और डिजिटल बाल मेला की विजेता बनने के सफर में अपना पहला कदम रखेंगे. देशभर के बच्चे इस प्रतियोगिता में शामिल हो सकते है रविवार 27 जून से शुरू हो रही ये प्रतियोगिता हर दिन बच्चों को राजनीतिक और सरकार से जुड़े संज्ञान का अध्याय कराने जा रही है. जो 'बच्चों की सरकार कैसी हो' में बच्चों को बड़े मुकाम पर पहुंचाएगी.

बड़ा मौका!! पहली बार देश भर के 'विजेता बच्चे सीधे पहुंचेगे विधानसभा'
Social Media पर पूछे जाएंगे सवाल, सबसे ज्यादा सही जवाब देने पर 14 नवंबर को विजेता बच्चों को मिलेगा बाल सत्र में शामिल होने का उपहार, साथ ही मिलेगा अपनी बात कहने का अधिकार. जी हां इस प्रतियोगिता में शामिल होने वाले बच्चों को सीधे विधानसभा जाने का मौका मिलेगा. ऐसे में जो बच्चे क्विज का सबसे सही जवाब देंगे उन्हें विधानसभा के विशेष सत्र में जाने का सुनहरा अवसर मिलेगा. वो बच्चे देश में पहली बार अपनी बाल राजनीति के लिए इतिहास बनेंगे. इसीलिए ये देशभर के बच्चों के लिए सबसे बड़ा और सुनहरा मौका है.
 

और पढ़ें