Live News »

पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर रची पति की हत्या की साजिश, घटना के बाद ग्रामीणों में विरोध

पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर रची पति की हत्या की साजिश, घटना के बाद ग्रामीणों में विरोध

सादुलपुर(चूरू): ठीमाउ गांव के पास पत्नी ने प्रेमी से मिलकर जीप की टक्कर से अपने पति की हत्या कर दी. घटना के बाद हमीरवास पुलिस मय जाब्ते के साथ मौके पर पहुंची और घटना स्थल का मौका निरीक्षण कर शव को राजकीय रेफरल अस्पताल के मोर्चरी रूम में रखवाया गया. जानकारी के अनुसार थानाधिकारी तेजवंतसिंह ने बताया कि मंड्रेला थानान्तर्गत गांव बजावा सुरा निवासी कुलवंतसिंह ने मामला दर्ज करवाकर बताया कि उसके भतीजे मंजीत की शादी पांच वर्ष पूर्व गांव डींगली निवासी होशियार सिंह की पुत्री बबीता के साथ हुई थी. लेकिन शादी से पहले गांव बुढ़ावास निवासी आरोपी नरेश के साथ बबीता के अवैध संबंध थे जो शादी के बाद भी जारी रहे. जिसके चलते बबीता को समझाया भी गया लेकिन संबंध जारी रहे. 

नरेश और बबीता ने षड़यंत्र रचकर मंजीत की हत्या की: 
इसी बात को लेकर मंजीत और बबीता के बीच झगड़ा हो गया तथा बबीता नाराज होकर अपने पीहर डींगली चली गई. 15-20 दिन के बाद राजीनामा किया गया तथा बबीता ससुराल आ गई. लेकिन बबीता के नरेश से संबंध फिर भी जारी रहे. 25 नवंबर को मंजीत की मोटरसाइकिल प्रदीप लेकर गया, तो आरोपी नरेश ने जीप से पीछा किया. लेकिन प्रदीप को देखकर आरोपी ने कहा कि आज तो बच गया है. अगर मंजीत होता तो उसे खत्म कर देता. सोमवार शाम को मंजीत थिरपाली बड़ी में स्थित अपने मुर्गा फार्म से गांव आ रहा था तो गांव कुलरिया बास एवं ठिमाऊ के बीच नरेश उसे जीप लेकर मिला तथा जीप से टक्कर मारकर नरेश की हत्या कर दी. आरोप लगाया कि नरेश और बबीता ने षड़यंत्र रचकर मंजीत की हत्या की है. मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा दिया है.  

घटना के बाद ग्रामीणों ने किया विरोध प्रदर्शन: 
घटना के बाद ग्रामीण शव लेकर राजकीय रेफरल अस्पताल पहुंचे तथा अस्पताल के बाहर धरने पर बैठ गए. ग्रामीणों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शव लेने से इनकार कर दिया. साथ ही मौके पर पुलिस अधीक्षक को बुलाने की मांग की. प्रदर्शन के बाद पूर्व सांसद रामसिंह कस्वा व एसपी भरत राज मौके पर पहुंचे तथा पूर्व सांसद रामसिंह कस्वा ने एसपी भरत राज से वार्ता की तथा 2 दिन में आरोपियों की गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया इसके बाद ग्रामीण पोस्टमार्टम करवाने को राजी हुए. 

षड्यंत्र पूर्वक की गई हत्या:  
पूर्व सांसद रामसिंह कस्वा ने कहा कि ठिमाउ बड़ी गांव के ग्रामीण मेरे से मिलने के लिए आए थे. ठिमाउ बड़ी गांव के एक नौजवान युवक की गाड़ी से मारकर हत्या कर दी गई है और यह षड्यंत्र पूर्वक हत्या की है. मृतक की पत्नी ने उसे मिलीभगत करके उसको सूचना दी. सूचना के आधार पर मुलजिम गाड़ी लेकर आया उसको टक्कर मार दी. गांव में भ्रम फैला दिया कि पुलिस उसको एक्सीडेंट का रूप लेगी. मैंने ग्रामीणों को आश्वासन दे दिया कि हमारी पुलिस ऐसा नहीं करेगी. अब मौके पर एसपी भरत राज हमीरवास थानाधिकारी तेजवंत सिंह आए हैं मेरे से वार्ता की है. सभी ने आश्वासन दिया है कि आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा अब ग्रामीणों से समझौता हो गया है और पोस्टमार्टम किया जा रहा है. 

आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग: 
हमीरवास थानाधिकारी तेजवंत सिंह ने कहा कि मृतक की पत्नी बबीता अपने प्रेमी से षड्यंत्र रचकर उसकी हत्या करवाई गई है. कल परिजनों की यह मांग थी की आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए. इस पर आज अधिकारियों द्वारा मृतक के परिजनों को आश्वासन दिया की जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा. 
 

और पढ़ें

Most Related Stories

सीएमएचओ से मारपीट करने के आरोप में पांच गिरफ्तार

सीएमएचओ से मारपीट करने के आरोप में पांच गिरफ्तार

सादुलपुर(चूरू): तारानगर सड़क पर स्थित टोल नाके पर सीएमएचओ डा. मनमोहन गुप्ता के साथ मारपीट करने तथा गालीगलोच करने के आरोप में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. थानाधिकारी गुरभूपेन्द्रसिंह ने बताया कि कुचामन सिटी निवासी महेन्द्रसिंह, डाबड़ी झुंझुनूं निवासी केसरीसिंह व सुरेन्द्र शर्मा, गजानंद शर्मा तथा इसराज खां को गिरफ्तार किया है. उन्होंने बताया कि आरोपी से पूछताछ कर मंगलवार को न्यायालय में पेश कर पुलिस रिमांड लेंगे. 

{related} 

सीएमएचओ डा. मनमोहन गुप्ता ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था तथा बताया कि वह सरकारी कार्य से तारानगर-साहवा की ओर से जा रहे थे. जिस पर टोल बूथ कर्मचारियों ने उनको रोका, तो डॉक्टर ने बताया कि हमें राज्य सरकार की ओर से टोल में छूट है. जिस पर कर्मचारी बदतमीजी पर उतारू हो गए तथा गालीगलोच कर गुप्ता व उनके चालक के साथ लाठियों एवं सरियों से मारपीट की. 

चूरू ACB ने एक बार फिर की कार्रवाई, 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते डॉ. संदीप अग्रवाल गिरफ्तार

चूरू ACB ने एक बार फिर की कार्रवाई, 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते डॉ. संदीप अग्रवाल गिरफ्तार

चूरू: प्रदेश के चूरू जिले के अंदर एक के बाद एक लगातार ACB रिश्वतखोरों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर रही है, जिसके चलते जिले के भ्रष्ट अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है. आज फिर से एसीबी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मेडिकल कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर को ट्रैप किया है.

मरीज का ऑपरेशन करने की एवज में मांगी थी रिश्वत:
जानकारी के मुताबिक गाजसर निवासी विकास अपनी माता के ऑपरेशन कराने के लिए डॉ संदीप अग्रवाल के पास आया था. डॉ संदीप अग्रवाल ने एक ऑपरेशन की एवज में 10 हजार रुपए की रिश्वत की मांग की थी. जिस पर परिवादी ने ACB से शिकायत कर दी.

{related}

ACB के ASP आनंद प्रकाश स्वामी ने की कार्रवाई:
एसीबी ने शिकायत का सत्यापन कर जाल बिछाकर डॉ. संदीप अग्रवाल को ट्रैप किया हैं. इस कार्रवाई के अंदर कंपाउंड राजेंद्र जाट को भी एसीबी ने दबोचा है. इस पूरी कार्रवाई के अंदर मुख्य भूमिका एसीबी के एएसपी आनंद प्रकाश स्वामी की रही. यह कार्यवाही DIG विष्णुकांत के निर्देश पर हुई है.

चूरू: पराली चारे से भरे ओवरलोड ट्रक ने ले ली 4 युवको की जान, चालक फरार

चूरू: पराली चारे से भरे ओवरलोड ट्रक ने ले ली 4 युवको की जान, चालक फरार

तारानगर(चूरू): गत रात्रि के करीब 1 बजे तारानगर से सरदारशहर रोड पर बालिया स्टैण्ड पर पराली चारे से भरे हुए ओवरलोड ट्रक व बाइक की टक्कर होने से 4 बाइक सवारों की मौके पर ही मौत हो गई. मिली जानकारी के अनुसार मृतक विक्रम कस्वां, मांगीलाल कस्वां, गोलू कस्वां, सुरेश कस्वां निवासी ढाणा कस्वां उम्र सभी की लगभग 20 से 22 वर्ष के थे जो अविवाहित बताये जा रहे हैं जो रात्री में ढाणा कस्वां से तारानगर बाइक पर आ रहे थे तो वहीं पराली चारे से भरा ओवरलोड ट्रक तारानगर से सरदारशहर की तरफ जा रहा था, बालिया बस स्टैण्ड पर आमने सामने की टक्कर में चारों युवकों को ट्रक ने कुचल दिया. टक्कर जबरदस्त बताई जा रही है, दुर्घटना के बाद शव बूरी तरह से कुचल गये थे. घटना के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया. घटना की जानकारी मिलने पर चारों युवकों का शव पुलिस ने मोर्चरी में रखवाया और पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौप दिया. पुलिस ने ट्रक व बाइक को जब्त कर मामले की जांच कर रही है. 

{related}

पराली से भरे ओवरलोड ट्रक यमराज से कम नहीं: 
हरियाणा, पंजाब की तरफ से आने वाले पराली चारे से भरे हुए ओवरलोड ट्रक यमराज से कम नजर नहीं आते. ये ट्रक पूरी सड़क को घेर कर चलते है जिससे चालक को दांयी बांया व पीछे की साइड से आ रहे वाहन नजर नहीं आने के कारण उक्त हादसो को अंजाम दे देते हैं. तारानगर से रोजाना सैंकड़ों की संख्या में एैसे ट्रक गुजरते है जो ओवलोड के साथ साथ अपनी बॉडी के बाहर झूल बनाकर पराली चारा भरा रखते हैं जिनके कारण सामने से आने वाले चालक के लिये साइड लेना भी मुश्किल हो जाता है तो वहीं पीछे वाले वाहन भी जल्दी से इन ओवरलोड वाहनों को ओवरटेक नहीं कर सकते. 

चूरू: गर्भवती महिला की मौत पर बवाल जारी, अभी तक शव का नहीं हुआ अंतिम संस्कार

चूरू: जिले के रामपुरा में शनिवार को साढे आठ महीने की गर्भवती महिला रचना की गलत इंजेक्शन लगाने से मौत के बाद हालात तनावपूर्ण है. मौत होने के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए और शव को लेकर अस्पताल के सामने धरने पर बैठे गए. अभी तक मृतका के शव का अंतिम संस्कार नहीं हो पाया है. शव रामपुरा गांव के अस्पताल की मोर्चरी के डी फ्रीज में रखा हुआ है. प्रसूता की मौत के मामले में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत करते हुए कहा कि इस मामले में लापरवाही बरती गई है. 

शांतिपूर्ण था आन्दोलन,बेवजह हुआ टकराव:
इसके साथ ही उन्होंने स्थानीय विधायक और प्रशासन पर निशाना भी साधते हुए कहा कि आंदोलन शांतिपूर्ण था, टकराव बेवजह टकराव हुआ है. उपनेता प्रतिपक्ष ने सरकार और जिले के आलाधिकारियों पर निशाना साधा. 

हमारी संवेदना मृतका के परिजनों के साथ: 
दूसरी ओर प्रसूता की मौत के मामले में कलेक्टर प्रदीप गवांडे, SP परिस देशमुख ने फर्स्ट इंडिया से बात करते हुए कहा कि हमारी संवेदना मृतकों के साथ है. हमने वाजिब मांगें मान ली है. लोकतंत्र में मर्यादाओं का पालन करना जरूरी है. शव की भी मर्यादा होती है इसलिए हमारी अपील है कि शव का समय पर अंतिम संस्कार हो. IG प्रफुल्ल कुमार भी लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं. 

{related}

मामले को राजनीतिक रंग देने का किया जा रहा प्रयास: 
इससे पहले आज मिली जानकारी की अनुसार यहां राजगढ विधायक कृष्णा पूनियां के पहुंचने के बाद हालात बिगड गये और वहां पुलिस पर पथराव शुरू हो गया. विधायक कृष्णा पूनियां का कहना है कि मामले को राजनीतिक रंग देने का प्रयास करते हुए उन पर पूर्व विधायक मनोज न्यांगली के सर्मथकों ने पथराव किया. पत्थरबाजी के दौरान पुलिस की गाड़ी में तोड़ -फोड की गयी, पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए आंसु गैस के गोले दागे और भीड को तीतर बीतर किया. पत्थराव में राजगढ सीआई सहित दो पुलिसकर्मी व एक ग्रामीण महिला घायल हो गये. बाद में मामला शान्त होने के बाद विधानसभा उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड धरनास्थल पर पहुंचे और परिजनों के साथ धरने पर बैठ गये. इसके बाद जिला कलक्टर प्रदीप के गांवडे और उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड के साथ परिजनों की वार्ता हुई लेकिन वह विफल रही. 

शनिवार से चल रहा है धरना:
मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को महिला की मौत के बाद से शनिवार की सुबह करीब 8:30 बजे से परिजनों ने अपनी नाराजगी जताना शुरू की. इसके बाद परिजनों ने ग्रामीणों के साथ आरोपी डॉक्टर को सस्पेंड करने, पूरे स्टाफ को हटाने, 108 एंबुलेंस की व्यवस्था करने, मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने और पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग को लेकर धरना शुरू किया था. 

कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर युवती से एक सप्ताह तक गैंगरेप, मामला दर्ज

कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर युवती से एक सप्ताह तक गैंगरेप, मामला दर्ज

सादुलपुर(चूरू): कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर बलात्कार करने एवं वीडियो फिल्म एवं फोटो खींचकर बदनाम करने की धमकी देने के आरोप में पुलिस ने मामला दर्ज किया है. 

एक कमरे पर ले जाकर बलात्कार किया: 
प्राप्त पुलिस सूत्रों के अनुसार नवां गांव निवासी पीड़िता ने मामला दर्ज करवाकर बताया कि 24 सितंबर को गांव से राजगढ़ में एसएससी का फार्म भरवाने के लिए बस स्टैण्ड आई थी. दोपहर एक बजे लगभग विक्रम मिला. जो पांच साल पहले कोटा में खेल प्रतियोगिता में गया हुआ था जहां उससे परिचय हुआ था. फार्म भराने की बात पर विक्रम ने कहा कि सारा काम करवा देगा एवं कार में बैठाकर विक्रम व तीन अन्य लड़के थे एक कमरे में ले जाकर बलात्कार किया.

{related} 

नशीला पदार्थ पिलाकर जबरदस्ती बलात्कार किया:
इसके साथ ही जबरदस्ती वीडियो फिल्म बनाई, फोटो खींची, डराया-धमकाया तथा परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी तथा जबरदस्ती खिला-पिलाकर बेहोश कर दिया. रात्रि को होश आया, तो उसके पास पांच लड़के बैठे थे तथा पता चला कि वह जयपुर के एक होटल में है. आरोप लगाया कि पांचों लड़कों ने कोल्ड ड्रिंक्स में नशीला पदार्थ पिलाकर उसके साथ जबरदस्ती बलात्कार किया. 

वीडियो व फोटो सार्वजनिक कर बदनाम करने की धमकी दी:
अगले दिन मुकेश गुर्जर नाम का लड़का आया, जो लगभग एक सप्ताह तक डरा-धमकाकर नशा देकर बलात्कार करता रहा तथ वीडियो फिल्म व फोटो सार्वजनिक कर बदनाम करने की धमकी दी. एक अक्टूबर को पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से मुक्त करवाया. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.


 

सादुलपुर में पत्नी ने की पति की गला घोंटकर हत्या, गृह क्लेश बताई जा रही हत्या की वजह

सादुलपुर में पत्नी ने की पति की गला घोंटकर हत्या, गृह क्लेश बताई जा रही हत्या की वजह

सादुलपुर(चूरू): हमीरवास थाना क्षेत्र के साखण ताल गांव में एक पत्नी ने अपने पति की रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी. वही घटना के बाद पत्नी ने शव को ठिकाने लगाने के लिए शव को दो दिन तक बेड के अन्दर छुपा रखा. घटना की सूचना हमीरवास पुलिस को मिलने पर हमीरवास पुलिस मय जाब्ते के साथ मौके पर पहुंची ओर शव को बाहर निकाला.

मर्डर होने की सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची मौके पर:
थानाधिकारी सुभाषचंद्र ने बताया कि आज पुलिस को साखण ताल गांव में मर्डर होने की सुचना मिली थी. जब मौके पर पहुंचा तो जानकारी मिली कि निर्मलसिंह नाम का एक लड़का है जो अपनी ढाणी में रहता है. 

{related}

गृह क्लेश बताई जा रही हत्या की वजह:
निर्मलसिंह की पत्नी नीरज के साथ आपस मे कहासुनी चल रही थी इसी को लेकर निर्मलसिंह की पत्नी ने निर्मलसिंह के गले मे रस्सी डालकर उसकी हत्या कर दी. जानकारी के अनुसार निर्मलसिंह की पत्नी नीरज ने दो दिन पूर्व उसकी हत्या की थी और शव को ठिकाने लगाने के लिए शव को बेड के अन्दर ठिकाने लगा दिया.

चूरू के राजलदेसर में ACB की बड़ी कार्रवाई, जोधपुर डिस्कॉम के JEN और तकनीकी सहायक ट्रैप 

जयपुर: राजस्थान के चूरू जिले  के राजलदेसर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की बड़ी कार्रवाई की है. एसीबी ने कार्रवाई करते हुए जोधपुर डिस्कॉम के JEN और तकनीकी सहायक को ट्रैप किया गया. आरोपी ने एक लाख की घूस लेते ACB ने रंगेहाथों गिरफ्तार किया है.

{related}

परिवादी को VCR की धमकी देकर मांगी थी घूस:
एसीबी ने JEN सुखराम मीणा और हरिओम शर्मा को ट्रैप किया है. परिवादी को VCR की धमकी देकर घूस मांगी थी. ASP आनंद प्रकाश स्वामी ने कार्रवाई को अंजाम दिया. DG आलोक त्रिपाठी और DIG विष्णुकांत के निर्देश पर कार्रवाई हुई है. 

7 सितम्बर को नहीं खुलेंगे चूरू के सालासर बालाजी मंदिर के पट, दर्शनार्थियों के लिए 31 अक्टूबर तक बंद रहेंगे पट 

7 सितम्बर को नहीं खुलेंगे चूरू के सालासर बालाजी मंदिर के पट, दर्शनार्थियों के लिए 31 अक्टूबर तक बंद रहेंगे पट 

सुजानगढ़ (चूरू): चूरू के सालासर बालाजी मंदिर से इस वक्त बड़ी खबर आ रही है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा आगामी 07 सिंतबर से मन्दिर खोलने के निर्णय के बाद आज चूरू जिला प्रशासन और पुजारी परिवार की संयुक्त बैठक आयोजित हुई. बैठक में कलेक्टर प्रदीप के गांवड़े ने पुजारी परिवार के समक्ष जिले में और राजस्थान में बढ़ते कोरोना ग्राफ को देखते हुए मन्दिर को 31  अक्टूबर तक बन्द रखने का निर्णय लिया है. जिसके बाद पुजारी परिवार ने जिला प्रशासन के प्रस्ताव पर मन्दिर बन्द रखने के निर्णय को मंजूर किया.

{related}

अब 1 नवम्बर के बाद ही दर्शनार्थियों के लिए खुलेगा मंदिर:
अब 1 नवम्बर के बाद ही यात्रियों को दर्शन करवाए जाएंगे. एसपी परिश देशमुख ने बताया कि 7 सितम्बर को पहले मन्दिर खोलने को लेकर चर्चा हुई थी, जिसके बाद कई यात्रियों में भ्रांति पैदा है. उसे देखते हुए 7 सितम्बर को सालासर आने वाले श्रद्धालुओं को जिले की सीमाओं पर रोका जाएगा और उनसे समझाइश कर पुनः भेजा जाएगा. 

घर पर ही पूजा अर्चना करने की अपील:
सालासर बालाजी मंदिर के भंवरलाल पुजारी ने 31 अक्टूबर तक श्रद्धालुओं से घर में ही पूजा अर्चना करने की अपील की है. बैठक में चूरू सीएमएचओ भंवरलाल सर्वा, एडीएम रामरतन सोकरिया, यशोदानन्दन पुजारी, महावीर पुजारी, मिठनलाल पुजारी, आत्माराम पुजारी बैठक में मौजूद रहे.