Live News »

वन्यजीव प्रेमियों को प्रदेश के बजट से काफी उम्मीदें, राजस्थान को भी टाइगर स्टेट घोषित करने की मांग

वन्यजीव प्रेमियों को प्रदेश के बजट से काफी उम्मीदें, राजस्थान को भी टाइगर स्टेट घोषित करने की मांग

जयपुर: मध्य प्रदेश की तर्ज पर राजस्थान को भी टाइगर स्टेट घोषित करने की मांग ने जोर पकड़ लिया है. मेवाड़, मारवाड़ बेल्ट के कुंभलगढ़ को नया टाइगर रिजर्व घोषित करने जैसी अहम मांगों को लेकर वन्यजीव प्रेमियों को प्रदेश के बजट से काफी उम्मीदें हैं. वन्यजीव प्रेमी आस लगाए बैठे हैं कि मुख्यमंत्री कल पेश होने वाले बजट में वन और वन्य जीव संरक्षण की दिशा में अहम घोषणाएं करेंगे. 

Budget 2020: गहलोत सरकार के बजट पर टिकी प्रदेशवासियों की निगाहें, सभी वर्गों की उम्मीदें परवान पर

कुंभलगढ़ को जल्द टाइगर रिज़र्व घोषित किये जाने की मांग: 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल राज्य का बजट पेश करेंगे. सभी वर्गों का ध्यान रखने वाले सीएम अशोक गहलोत से वन्यजीव एवं पर्यावरण प्रेमी भी कई आशाएं लगाए हुए हैं. प्रदेश में घटते हुए वनों एवं इनकी सघनता में कमी को लेकर जहां भीलवाड़ा के प्रकृति प्रेमी बाबू लाल जाजू नें ग्रीन बजट की मांग की है. वहीं वर्षों से मेवाड़-मारवाड़ बेल्ट के कुंभलगढ़ रावली टॉडगढ़ में टाइगर को पुनः बसाने के संघर्षरत वन्यजीव विशेषज्ञ अनिल रोजर्स नें कुंभलगढ़ को जल्द टाइगर रिज़र्व घोषित किये जाने की मांग की है.

VIDEO: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट को दिया अंतिम रूप, वित्त विभाग अधिकारियों के साथ किया फाइनल

रणथंभौर से 26 बाघ गायब होने का मामला विधानसभा में भी गूंजा: 
गौरतलब है फिलहाल रणथंभौर से 26 बाघ गायब होने का मामला विधानसभा में भी गूंजा था साथ ही साथ ऐसे कई बाघ हैं जो रणथंभौर से बाहर नई टेरेटरी की तलाश में भटक रहे हैं. प्रदेश के चौथे प्रस्तवित कुंभलगढ़ टाइगर रिज़र्व को लेकर अनिल रोजर्स व कुंभलगढ़ होटल एसोसिएशन वन मंत्री एवं विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी से मिलकर भी सरकार का ध्यान आकर्षित करवा चुके हैं. उधर बाबू लाल जाजू नें बताया कि प्रदेश का वन्य क्षेत्र जो पहले लगभग 39 हज़ार 500 हेक्टेयर था वो घट कर मात्र 32 हज़ार हेक्टेयर रह गया है. वहीं वन सघनता जो 0.8 थी वो घट कर 0.2 रह गयी है. वन्यजीव प्रेमियों नें प्रदेश में वाइल्डलाइफ रेस्क्यू के लिए यूनिवर्सल सरकारी हेल्पलाइन की भी मांग की. साथ ही प्रदेश से जुलिफ्लोरा और इनवेसिव वीडस को भी कारगर ढंग से हटाने की मांग की. 

पर्यावरण को हो रहे नुकसान को लेकर प्रदूषण नियंत्रण मंडल बोर्ड में हुई अहम बैठक

वन्यकर्मियों को सुरक्षा उपकरण उपलब्ध करवाने की मांग: 
इसके साथ ही प्रदेश के सभी जिलों की रेसक्यू टीम को सुरक्षा उपकरण, वन्य क्षेत्र में लगी आग से निपटने के लिए बेहतर फायर सेफ़्टी सिस्टम विकसित करने, आग बुझाने में लगे वन्यकर्मियों को सुरक्षा उपकरण सहित आग बुझाने के बेहतर संसाधन उपलब्ध करवाने की मांग की. साथ ही वन्यजीव प्रेमियों नें प्रदेश में अत्यधिक बजरी खनन से घड़ियाल के प्रजनन में आ रही दिक्कतों की ओर भी प्रदेश सरकार का ध्यान आकर्षित किया. इसी तरीके से मध्यप्रदेश की तर्ज़ पर राजस्थान को भी टाइगर स्टेट बनाने की मांग वन्यजीव प्रेमियों द्वारा की गई. कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि वन्यजीव प्रेमियों को सुबे के मुखिया से वन्य जीव और वन क्षेत्र के संरक्षण की दिशा में कुछ अहम घोषणाओं की उम्मीद है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

कोरोना के खिलाफ जंग में एक साथ कांग्रेस सत्ता-संगठन, पायलट ने की कोरोना के लिए उठाए कदमों की सराहना

जयपुर: कोरोना वायरस को लेकर प्रदेश सरकार गंभीर है. कोरोना वायरस की रोकथाम और बचाव के लिए सोमवार को भी सीएमआर में बैठक हुई, जिसमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी मौजूद रहे है. पायलट ने सीएम गहलोत द्वारा कोरोना के लिए उठाए कदमों की सराहना की. बैठक में कोरोना संक्रमण के हालातों पर चर्चा हुई. बैठक में चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा भी मौजूद रहे.

किसानों को राहत:
सीएम गहलोत ने महामारी कोरोना को देखते हुए प्रदेश के किसानों को राहत ​दी है. 3 लाख तक कर्ज लेने वाले किसानों के लिए कर्ज अदायगी की सीमा बढ़ा दी गई है. सीएम गहलोत ने किसानों के कर्ज अदायगी का समय सीमा बढ़ा दी है. 

Lockdown: गंभीर बीमारी वाले मेडिकल पेंशनर्स बिना एनएसी निजी मेडिकल स्टोर से खरीद सकेंगे दवा

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक खत्म:
चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि किसानों,गरीबों व बाहर से आने वाले लोगों पर बैठक में चर्चा हुई. चिकित्सा मंत्री ने कहा कि सभी मंत्रियों ने अपनी राय दी है, सरकार पूरी तरह संवेदनशील है.  

Coronavirus Updates: जोधपुर में आज 11 पॉजिटिव मरीज आए सामने, देश में अब तक 33 लोगों की मौत

जयपुर शहर की सीमाएं की सील:
पूरे प्रदेशभर में कोरोना से बचाव के लिए लॉकडाउन है. ऐसे में जयपुर शहर के तमाम प्रवेश मार्गों पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. बाहरी राज्यों से पलायन कर आ रहे मजदूरों के लिए शैल्टर होम स्थापित किए गए है. लॉक डाउन का उल्लंघन करने पर 224 वाहन जब्त, 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. 

Lockdown: गंभीर बीमारी वाले मेडिकल पेंशनर्स बिना एनएसी निजी मेडिकल स्टोर से खरीद सकेंगे दवा

Lockdown: गंभीर बीमारी वाले मेडिकल पेंशनर्स बिना एनएसी निजी मेडिकल स्टोर से खरीद सकेंगे दवा

जयपुर: लॉक डाउन में गंभीर बीमारियों वाले रोगियों के लिए दवा के लिए दर दर भटकना नहीं पड़ेगा. इसके लिए उन्हें अब कॉनफेड व उपभोक्ता संघ की एनएसी की जरूरत नहीं होगी. हाई  ब्लड प्रेशर, ह्रदय रोग, मधुमेह, किडनी व कैंसर जैसी बीमारियों वाले मेडिकल पेंशनर्स अब बिना कॉनफेड व उपभोक्ता संघ की एनएसी लिए भी प्राइवेट मेडिकल स्टोर से आवश्यक दवाएं खरीद सकेंगे. 

Coronavirus Updates: जोधपुर में आज 11 पॉजिटिव मरीज आए सामने, देश में अब तक 33 लोगों की मौत

मरीजों को नहीं उठानी पड़ेगी परेशानी:
कोरोना लॉक डाउन के चलते इन मरीजों को परेशानी नहीं उठानी पड़े इसके लिए राज्य सरकार ने इन्हें 31 मई तक एनएसी से छूट दे दी है. इसमें मेडिकल पेंशनर्स को मान्यता प्राप्त मेडिकल एटेंडेंट के जरिए ही अपना प्रिसक्रिप्शन लिखवाना होगा. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश में 25 मार्च से 14 अप्रेल तक के लिए संपूर्ण लॉक डाउन के आदेश हैं. जरूरत मंद लोगों को इसकी वजह से परेशानी नहीं हो इसके लिए सरकार समय-समय पर आदेश जारी कर रही है.

कोरोना महामारी से संबंधित किसी भी सहायता के लिए इन महत्वपूर्ण दूरभाष नंबरों पर करें संपर्क

Coronavirus Updates: जोधपुर में आज 11 पॉजिटिव मरीज आए सामने, देश में अब तक 33 लोगों की मौत

Coronavirus Updates: जोधपुर में आज 11 पॉजिटिव मरीज आए सामने, देश में अब तक 33 लोगों की मौत

जयपुर: कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक और जहां लगातार चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग की टीमों के अलावा एसएन मेडिकल कॉलेज की पूरी टीम रात और दिन जुटी हुई है लेकिन अब जिस तरह के हालात बन रहे हैं वह काफी चिंताजनक है. जोधपुर में केवल आज में सुबह से लेकर अब तक कोरोना वायरस के 11 मरीज पॉजिटिव के रूप में सामने आए हैं. जोधपुर के जीत कॉलेज में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती एक युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद अन्य सभी आइसोलेशन में भर्ती लोगो की रिपोर्ट भी खंगाली जा रही है. जिस युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है वह पिछले दिनों इंग्लैंड से जोधपुर आया था.

कोरोना महामारी से संबंधित किसी भी सहायता के लिए इन महत्वपूर्ण दूरभाष नंबरों पर करें संपर्क 

जैसलमेर में लाए गए 9 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई: 
इस युवक को जीत कॉलेज से एमडीएम अस्पताल मेंआइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट करने के साथ इलाज किया जा रहा है तो वहीं ईरान से जैसलमेर में लाए गए 9 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है तो वहीं ईरान से जोधपुर लाए गए एक लद्दाख निवासी व्यक्ति की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर जी एल मीणा ने जीत कॉलेज में आइसोलेटेड किये गए युवक की रिपोर्ट के आने की पुष्टि की और कहा कि लोगों को और अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है. 

VIDEO- Coronavirus Updates: प्रदेश में आज 10 नए पॉजिटिव मरीज आए सामने, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 69 पहुंचा 

कोरोना से 33 लोगों की मौत: 
वहीं देशभर में अब तक 1199 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. पिछले 24 घंटे में कोरोना से भारत में 4 लोगों की मौत हुई है. वहीं देशभर में अब तक कोरोना से 33 लोगों की मौत हो गई है. वहीं राहत वाली खबर यह है कि 110 कोरोना पॉजिटिव मरीज रिकवर हो गए है. 
 

कोरोना महामारी से संबंधित किसी भी सहायता के लिए इन महत्वपूर्ण दूरभाष नंबरों पर करें संपर्क

कोरोना महामारी से संबंधित किसी भी सहायता के लिए इन महत्वपूर्ण दूरभाष नंबरों पर करें संपर्क

जयपुर: राजस्थान सरकार लॉकडाउन के दौरान हर जिले में राशन, भोजन सामग्री और चिकित्सा सुविधा पहुंचाने के लिए समुचित व्यवस्था कर रही है. लॉकडाउन के दौरान लोग आवश्यक वस्तुओं के लिए घर से बाहर नहीं निकले इसके लिए राजस्थान सरकार ने कोरोना महामारी संबंधी महत्वपूर्ण दूरभाष नंबर जारी जारी किए है.  

सरकार ने अपनी अपील में कहा है कि यह देखा जा रहा है कि कुछ सामाजिक संस्थाएं, व्यक्तियों के समूह वंचित लोगों को भोजन और राशन सामग्री पहुंचाने के लिए ग्रुप्स या समूह में जा रहे हैं. वंचित लोगों की मदद करना अच्छा कार्य है. जो सराहनीय है. परन्तु इस महामारी के समय यह बिल्कुल उचित नहीं है कि लोग समूह में बाहर निकले. ऐसे में लॉकडाउन के दौरान किसी भी प्रशासनिक मदद के लिए निम्न नंबरों पर संपर्क करें......

छवि
 

प्रदेशवासियों के हौसले के आगे घुटने टेकेगा कोरोना- चिकित्सा मंत्री

प्रदेशवासियों के हौसले के आगे घुटने टेकेगा कोरोना- चिकित्सा मंत्री

जयपुर: चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने प्रदेशवासियों को राजस्थान दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वीरों की धरा राजस्थान ने कभी झुकना नहीं सीखा.  प्रदेशवासियों के हौसले और सजगता के आगे कोरोना को भी घुटने टेकने होंगे. यह महामारी भी प्रदेश में ज्यादा दिन नहीं टिक पाएगी. उन्होंने कहा कि आमजन अपने-अपने घरों में लॉकडाउन की पालना कर स्थापना दिवस पर प्रदेश को बेहतरीन उपहार दे सकते हैं.   

VIDEO- Coronavirus Updates: प्रदेश में आज 10 नए पॉजिटिव मरीज आए सामने, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 69 पहुंचा 

कोरोना रोकथाम को लेकर सूबे की सरकार युद्ध स्तर पर जुटी हुई: 
कोरोना रोकथाम को लेकर सूबे की सरकार युद्ध स्तर पर जुटी हुई है. चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि प्रदेश में कोरोना के कुचक्र को तोड़ने के लिए चिकित्सा विभाग की एक्टिव सर्विलांस टीम के 26793 दलों ने राज्य के 71 लाख 51 हजार से ज्यादा परिवारों के 2 करोड़ 92 लाख 41 हजार सदस्यों की व्यक्तिगत स्क्रीनिंग की है. इसके अलावा पैसिव सर्विलांस यानी कि ओपीडी में 27 लाख 8745 रोगियों की स्क्रीनिंग की गई है. इस कदम से न केवल बढ़ते कोरोना के संक्रमण पर रोक लगेगी बल्कि भविष्य के लिए योजना बनाई जा सकेगी. उन्होंने बताया कि पॉजीटिव आए मरीजों के संपर्क में आए 1600 लोगों की ट्रेसिंग कर उनके सैंपल लिए गए हैं और प्रदेश के जिलों में 194 लोग अभी आइसोलेशन में भर्ती हैं. डॉ. शर्मा ने दावा किया कि राज्य में स्थिति काफी हद तक काबू में है. 

भीलवाड़ा में कोरोना महामारी को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई:
इस मौके पर डॉ. शर्मा ने भीलवाड़ा के प्रशासन और चिकित्सा टीम को बधाई देते हुए कहा कि जिस ढंग से सर्विलांस टीम ने वहां के एक-एक आदमी की स्क्रीनिंग करने का काम किया है, वह काबिलेतारीफ है. इस स्क्रीनिंग ने भीलवाड़ा में कोरोना महामारी को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. डॉ. शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए हमारे पास पर्याप्त संसाधन उपलब्ध हैं. वेंटिलेटर्स की तादात भी आज की जरूरत के अनुसार काफी है, भविष्य के हिसाब से और आरएमएससीएल के द्वारा खरीद प्रक्रिया चालू है. राज्य की आवश्यकता के अनुसार जितने चाहिए होंगे उतने खरीदे जा सकेंगे. राज्य में कोविड-19 को लेकर अन्य विभागों की जो टास्क फोर्स बनी हैं, उनकी बराबर मॉनिटरिंग की जा रही है. 

कोरोना के खिलाफ जंग में उतरी देश की न्यायपालिका भी, आर्थिक सहायता के साथ बांट रहे खाना 

प्रदेश में मजदूरों का पलायन सबसे बड़ी चिंता का कारण:
डॉ. शर्मा ने बताया कि प्रदेश में मजदूरों का पलायन सबसे बड़ी चिंता का कारण है. दो दिन पहले भारत सरकार से मिले निर्देशों के अनुसार मजदूरों को साधन करके उनके राज्यों में भेजा जा रहा है. भारत सरकार के ही नए निर्देशों के अनुसार इन्हें जहां हैं वहीं रखें जाएं. इस बारे में सभी जिला कलक्टर्स को कहा गया है कि इनके आवास, भोजन और स्क्रीनिंग की व्यवस्था की जाए, ताकि कोरोना का प्रकोप राज्य में फैल नहीं पाए. 

VIDEO- Coronavirus Updates: प्रदेश में आज 10 नए पॉजिटिव मरीज आए सामने, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 69 पहुंचा

जयपुर: प्रदेश में कोरोना वायरस की बढ़ती दस्तक से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है. प्रदेश में आज 10 नए पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं. ऐसे में अब राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 69 पहुंच गया है. इस आंकड़े में ईरान से आए 7 पॉजिटिव विस्थापित मरीज भी शामिल है. पिछले 12 घंटे में जयपुर में दो और भीलवाड़ा में एक पॉजिटिव मरीज सामने आया है. रामगंज इलाके में ही सामने आए दोनों पॉजिटिव मरीज है. कोरोना पॉजिटिव हनीफ की मां-बेटा कोरोना पॉजिटिव आए है. 

कोरोना के खिलाफ जंग में उतरी देश की न्यायपालिका भी, आर्थिक सहायता के साथ बांट रहे खाना 

भीलवाड़ा में एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आया:
इसके अलावा भीलवाड़ा में एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आया है. यह मरीज बांगड़ हॉस्पिटल की OPD में इलाज के लिए आया था. ACS मेडिकल रोहित कुमार सिंह ने पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि की है. बता दें कि राजस्थान में अब तक 4837 मरीजों की जांच हुई है इसमें से 4322 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है जबकि 453 सैम्पल प्रक्रियाधीन है. 

मेरठ में एक ही परिवार के 13 लोग कोरोना पॉजिटिव, 35 लोगों की रिपोर्ट अभी आना बाकी 

देश में 30 से अधिक लोग अबतक अपनी जान गंवा चुके:
वहीं अगर देशभर की बात करें तो सोमवार सुबह तक देश में कोरोना वायरस पीड़ितों की संख्या 1100 के पार कर गई है, जबकि 30 से अधिक लोग अबतक अपनी जान गंवा चुके हैं. रविवार को दिल्ली-एनसीआर में कोरोना वायरस के दर्जनों भर पॉजिटिव मामले सामने आए, जिसके बाद हड़कंप मच गया. इसके साथ ही कश्मीर रीजन में सोमवार को चार नए कोरोना पॉजिटिव के केस सामने आए हैं, इनमें शोपियां-श्रीनगर में दो-दो केस दर्ज हुए हैं. 

कोरोना के खिलाफ जंग में उतरी देश की न्यायपालिका भी, आर्थिक सहायता के साथ बांट रहे खाना

कोरोना के खिलाफ जंग में उतरी देश की न्यायपालिका भी, आर्थिक सहायता के साथ बांट रहे खाना

जयपुर: देश और प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है. इसको देखते हुए जहां केन्द्र और राज्य सरकारे अपने प्रयास कर रही है वही अब न्यायपालिका भी कोरोना की जंग में शामिल हो गयी है. मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति के निर्देश पर राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के नेतृत्व में जज खुद भी सड़कों पर आकर लोगों की मदद कर रहे हैं. रालसा के एक्जीक्यूटीव चैयरेन जस्टिस संगीत लोढा खुद प्रदेशभर में किय जा रहे प्रयासों की डेटूडे मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

मेरठ में एक ही परिवार के 13 लोग कोरोना पॉजिटिव, 35 लोगों की रिपोर्ट अभी आना बाकी 

अलग अलग जिलों में खाना वितरण किया जा रहा: 
गुजरात और मध्यप्रदेश से राजस्थान होकर बिहार यूपी जाने वाले प्रवासी मजदूरों को उदयपुर से लेकर प्रदेश के अलग अलग जिलों में खाना वितरण किया जा रहा है. वहीं कई शहरों में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मजदूरो की मदद कर रहे हैं. उदयपुर जिला प्राधिकरण ने भी पिछले तीन दिनो में हजारो मजदूरों को राहत पहुंचायी है. इसके साथ ही प्रदेश की जेलों से लेकर वृद्धाश्रम, बाल सुधारगृहो, नारी निकेतन में मौजुद बच्चों और महिलाओं को भी सहायता पहुंचा रहा है. 

वकील राकेश द्विवेदी ने एक करोड़ की राशि की सहायता दी: 
वहीं सुप्रीम कोर्ट—हाईकोर्ट के सभी गैजेटेड अधिकारी अपनी तीन दिन की तनख्वाह देंगे. इसके साथ नॉन-गैजेटेड अधिकारी दो दिन की तनख्वाह प्रधानमंत्री राहत कोष में देंगे. वहीं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी अपनी एक दिन की तनख्वाह पीएम फंड में देंगे. सुप्रीम कोर्ट जस्टिस एन वी रमन्ना ने भी तीन लाख की राशि पीएम फंड में दी है. वहीं सुप्रीम कोर्ट के ही वकील राकेश द्विवेदी ने एक करोड़ की राशि की सहायता दी है. इसके अलावा जस्टिस एस रविन्द्र भट्ट खुद प्रवासी मजदूरों के लिए खाने का वितरण वितरण कर रहे हैं. 

VIDEO: राजस्थान में कोरोना की बढ़ती जा रही दस्तक, रामगंज में दो और पॉजिटिव मिलने की सूचना 

दिल्ली हाईकोर्ट के सभी जज प्रधानमंत्री फंड में 10—10 हजार की राशि दे रहे:
इसके साथ ही दिल्ली हाईकोर्ट के सभी जज प्रधानमंत्री फंड में 10—10 हजार की राशि दे रहे हैं. वहीं राजस्थान के 1300 न्यायिक अधिकारियों ने भी अपना 5 दिन का वेतन दिया है. इसके अलावा महाधिवक्ता से लेकर सभी अतिरिक्त महाधिवक्ताओ ने एक माह की रिटेनरशीप दी है. 
 

गर्म पानी पीने से दूर होंगी कई बीमारियां, नियमित करें सेवन

गर्म पानी पीने से दूर होंगी कई बीमारियां, नियमित करें सेवन

जयपुर: सुबह उठते ही गर्म पानी पीने से हम कई बीमारियों से बच सकते हैं. इस समय महामारी बन चुका कोरोना वायरस से बचने के लिए भी डॉक्टर यही सलाह दे रहे हैं. डॉक्टरों के अनुसार गर्म पानी पीने के कई फायदे होते हैं. गर्म पानी पीने से मूत्र के जरिए जहरीले तत्व बाहर निकल जाते हैं. नींबू और शहद मिलाकर भी इस पानी का सेवन किया जा सकता है. तो आइए हम आपको गर्म पानी पीने के कुछ फायदें बता रहे हैं...

VIDEO: राजस्थान में कोरोना की बढ़ती जा रही दस्तक, रामगंज में दो और पॉजिटिव मिलने की सूचना 

- गर्म पानी पीने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि पेट आसानी से साफ हो जाता है.

- गर्म पानी पाचन क्रिया को आसान बनाता है.

- गर्म पानी का नियमित सेवन किया जाए तो नाक और मुंह पर होने वाले किसी भी अटैक से बचा जा सकता है.

-  वजन कम करने का बेहतरीन उपाय है गर्म पानी में नींबू और शहद मिलाकर सेवन करना.

- गर्म पानी महिलाओं को पीरियड्स में होने वाली ऐंठन का भी इलाज करता है. 

- गर्म पानी का सेवन करने से मोटोपा कम होता है. 

 Coronavirus Updates: प्रदेश में बढ़ती जा रही कोरोना की दस्तक, कुल मरीजों की संख्या हुई 60 

Open Covid-19