ठंड के साथ ही मेहमान परिंदो की संख्या में भी खासा इजाफा

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/01/04 02:56

उदयपुर। नए साल के स्वागत के साथ ही झीलों की नगरी उदयपुर में देशी—विदेशी प्रवासित पक्षी सर्दी के मौसम में यहां की आबो हवा का लुत्फ उठाने बडी संख्या में पहुंच रहे है। इस बार उदयपुर जिले में ठंड के साथ ही मेहमान परिंदो की संख्या में भी खासा इजाफा हुआ है। उदयपुर के आस—पास के सभी जलाशयों पर दिनभर इन परिंदो की चहक के साथ ही हर दिन नई प्रजाति देखी जा रही है। जलीय वनस्पति और भरपूर आहार के चलते ये परिंदे यही अपना डेरा डाले हुए है। 

झीलो का शहर उदयपुर इन दिनों देशी—विदेशी परिदों की चहचहाअट से आबाद है। हजारो किलोमीटर की उडान भरकर अपने शीतकालीन प्रवास पर आये ये मेहमान परिंदे झीलों की शोभा बढाने के साथ ही यहां के पक्षी प्रेमियों के लिए आकर्षण का केंद्र बने हुए है। लेकसिटी आने वाले इन परिंदो में मुख्य रूप से चायना, मंगोलिया,साईबेरिया सेंट्रल एशिया सेंट्रल यूरोप से हजार हजार किलोमीटर का कठिन फासला तय करके यहां आये है। जानकारो की माने तो ये विदेशी मेहमान परिंदे शीतकालीन समय को गुजारने के साथ ही प्रजनन के लिए भी यहां आते है। 

खासतौर पर शहर से 45 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बर्ड विलेज के नाम से मशहूर मेनार गांव में सबसे ज्यादा संख्या इन विदेशी मेहमानो की है। मेनार आने वाले इन परिंदो की हिफाजत के लिए पक्षी मित्रों की टीम बनाई गई है जो किसी भी सूरत में इन परिंदो का शिकार नहीं होने देती है। ये विदेशी मेहमान झीलो और तालाबो में भोजन के लिए एक ही झुंड में मछलियों का शिकार करते है, लेकिन मुख्य रूप से इन्हें मुर्रा प्रजाति की मछलियां काफी पसंद आती है। 

मेहमान परिंदो के झीलो के शहर में आने पर वन विभाग के अधिकारी भी अलग—अलग प्रजातियों के परिंदो की गिनती करने में जुट गए है। आपको बता दे कि मिड—विंटर वॉटर फॉल सेन्सस 2019 के तहत जिले के करीब 17 जलीय स्थानों पर कल से इन परिंदो की गिनती शुरू होगी जिसमें वन विभाग से जुडे अधिकारियों के साथ ही पक्षी प्रेमी विशेषज्ञ और पक्षी मित्र भाग लेंगे। सर्वे के दौरान जीपीएस,बायनोकुलर, टेलिस्कॉप सहित कई आवश्यक उपकारणों की सहायता से परिंदो की गिनती की जाएगी और पूरे जिले से आंकडे जुटाये जाएंगे।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in