सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच कामकाजी रिश्ता जरूरी: गुलाम नबी आजाद

सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच कामकाजी रिश्ता जरूरी: गुलाम नबी आजाद

जयपुर: जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद ने सोमवार को कहा कि सत्तापक्ष व विपक्ष के बीच कामकाजी रिश्ता बहुत जरूरी है.
आजाद यहां राजस्थान विधानसभा में 'संसदीय प्रणाली और जन अपेक्षाएं' विषय पर एक संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि सत्तारूढ व विपक्ष दल के बीच कामकाजी रिश्ता (वर्किंग रिलेशनशिप) जरूरी है. आपके (विपक्ष व सत्तापक्ष के) बीच इतनी आपसी समझ हो कि कोई अच्छा काम हो तो आपको समर्थन मिले.

वर्किंग रिलेशन बनाने की बहुत ज्यादा जरूरत:
आजाद ने बिना किसी का जिक्र किए कहा, ‘‘लेकिन इतनी दूरियां अगर खीचेंगे तो अच्छे काम को भी कोई समर्थन नहीं मिलेगा. यह दोनों तरफ से हो सकता है. एक वर्किंग रिलेशन बनाने की बहुत ज्यादा जरूरत है.’’ इस संगोष्ठी का आयोजन राष्ट्रमंडल संसदीय संघ की राजस्थान शाखा ने किया था. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने विधायकों से कहा कि वे अपने संस्थान की गरिम बनाए रखें, नियमों की जानकारी रखें और सीखते रहें और लोगों का विश्वास हासिल करें.

देश में अच्छे आदमियों की कमी नहीं:
पूर्व केंद्रीय मंत्री आजाद ने कहा, ‘‘अच्छे आदमी हर जगह हैं, हर पार्टी में हैं ... देश में अच्छे आदमियों की कमी नहीं. उन अच्छे आदमियों की कद्र करनी चाहिए और उन जैसा बनने की कोशिश करनी चाहिए. अच्छे जनप्रतिनिधियों की कमी नहीं. उन जनप्रतिनिधियों जैसा बनने का प्रयास हमें करना होगा.’’ इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष डा सी पी जोशी ने आजाद का स्वागत किया.

और पढ़ें