जयपुर महानवमी पर आज ऐसे करे मां सिद्धिदात्री की पूजा, भक्तों पर बरसेगी मां की कृपा

महानवमी पर आज ऐसे करे मां सिद्धिदात्री की पूजा, भक्तों पर बरसेगी मां की कृपा

महानवमी पर आज ऐसे करे मां सिद्धिदात्री की पूजा, भक्तों पर बरसेगी मां की कृपा

जयपुर: शारदीय नवरात्रि की नवमी तिथि को आज सिद्धिदात्री की उपासना की जाती है जो कि देवी का पूर्ण स्वरुप है. मां सिद्धिदात्री का वाहन सिंह है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार नवमी के दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा करने से व्यक्ति को सभी देवियों की पूजा का फल मिल सकता है. महानवमी पर शक्ति पूजा भी की जाती है जिसको करने से निश्चित रूप से विजय की प्राप्ति होती है. 

ऐसे करें मां सिद्धिदात्री की उपासना: 
प्रातः काल समय मां के समक्ष दीपक जलाकर मां को नौ कमल के फूल अर्पित करें. इसके बाद मां को नौ तरह के खाद्य पदार्थ भी अर्पित करें. फिर मां के मंत्र "ॐ ह्रीं दुर्गाय नमः" का जाप करें. अर्पित किये हुए कमल के फूल को लाल वस्त्र में लपेट कर रखें. खाद्य पदार्थों को पहले निर्धनों को भोजन कराएं. इसके बाद स्वयं भोजन करें. 

मां सिद्धदाद्धत्री का पूजा मंत्र: 
सिद्धगन्‍धर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि,
सेव्यमाना सदा भूयात सिद्धिदा सिद्धिदायिनी।

पूजन का महत्व: 
महानवमी के दिन छोटी बच्चियों को मां दुर्गा का स्वरूप मानकर उनकी पूजा की जाती है. नवरात्रि का यह दिन बेहद शुभ माना जाता है. ऐसी मान्यता है कि इस दिन पूजा-पाठ करने से भक्तों पर मां अपनी कृपा बरसाती हैं. 
 

और पढ़ें