तपती धूप में योगी चेतननाथ पंचधुणी तपस्या में लीन

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/05/22 01:58

नागौर : जिले के डीडवाना स्थित प्रसिद्ध जोगमण्डी में विश्व शांति की कामना को लेकर योगी चेतननाथ पंचधुणी तपस्या में लीन है. ज्येष्ठ माह की तपती दोपहरी में धूप में योगी आग के पांच धुणो के बीच बैठकर तपस्या कर रहे है .  

डीडवाना का जोगमण्डी धुणा जहां गोरखनाथ के शिष्य राजा भृतहरि ने 2000 वर्ष पहले तपस्या की थी और विश्व शांति की कामना को लेकर यहां तपस्या की थी. उसके बाद लगातार अनवरत योगी यहां आकर तपस्या करते रहे है. अब यहां योगी चेतननाथ ने जोगमण्डी में अपना धुणा रमाया है और जोगमण्डी में चेतननाथ पंचधुणी तपस्या कर रहे है. 

पारा चालीस डिग्री पार निकल रहा है
गर्मी का मौसम है और इन दिनों पारा चालीस डिग्री के पार निकल रहा है ऐसे में आम आदमी का जीना मुहाल है और गर्मी से बचने के लिए तरह तरह का जतन भी करता है. वहीं योगी चेतननाथ का इस कड़ाके की धूप में हठयोग के साथ विश्व शांति के लिए पंचधूणी तपस्या कर रहे है ताकि विश्व शांति कायम रहे. 

चालीस दिन तक चलेगी योगी चेतननाथ की पंचधुणी तपस्या 
विश्व शांति के लिए किया जा रहा यह यज्ञ और तपस्या के दौरान योगी चेतननाथ मौनव्रत भी रखेंगे, योगी का हठयोग देश प्रदेश और क्षेत्र में शांति के लिए किया जा रहा है. हठयोग से गुरु गोरक्षनाथ से योगी कामना करते है कि क्षेत्र में सुख शांति और समृद्धि आये देश की जनता सुख शांति से रहे. 

देश की सुख शांति और समृद्धि के लिए तपस्या
भारत साधु संत और योगीयो का देश है और यहां देश में समय समय पर सुख शांति और समृद्धि के लिए साधु संत और योगी अपना योगदान देते आये है. डीडवाना के योगी का विश्व शांति के लिए किया जा रहा पंचधुणी तपस्या यकीनन ज्येष्ठ की तपती दोपहरी में योगी का देश और समाज के लिए त्याग ही है. 

....नरपत ज़ोया संवाददाता 1st इंडिया न्यूज नागौर 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in