संक्रमण से जान गंवाने वालों के परिजनों को राहत राशि देने के लिए जिलों में समिति बनाएं : योगी

संक्रमण से जान गंवाने वालों के परिजनों को राहत राशि देने के लिए जिलों में समिति बनाएं : योगी

 संक्रमण से जान गंवाने वालों के परिजनों को राहत राशि देने के लिए जिलों में समिति बनाएं : योगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कोरोना वायरस संक्रमण के कारण जान गंवाने वाले लोगों के परिजन को राहत राशि वितरित करने के लिए जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में समिति गठित करने और विस्तृत दिशानिर्देश जारी करने के आदेश दिए. रविवार को यहां जारी एक सरकारी बयान के अनुसार मुख्‍यमंत्री ने कोविड-19 प्रबंधन के लिए गठित टीम को निर्देश दिया कि संक्रमण के कारण असमय काल-कवलित हुए लोगों के परिजनों को अब 50 हजार रुपये राहत राशि के तौर पर दिए जाएंगे.

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि एक भी पात्र परिवार इस राहत राशि से वंचित न रहे. इस संबंध में विस्तृत दिशानिर्देश यथाशीघ्र जारी कर दिए जांए और जिलों में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में एक समिति गठित की जाए.बयान के अनुसार प्रदेश के कुल 75 जिलों में से इस समय 42 जिले कोविड-19 संक्रमण से मुक्त हो गये हैं जबकि 16 जिलों में सिर्फ एक-एक मरीज है. राज्‍य में अब उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 119 रह गई है.

अपर मुख्‍य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल ने रविवार को जारी एक बयान में यह जानकारी दी. बयान के अनुसार राज्य के कानपुर नगर, लखीमपुर-खीरी, जौनपुर, बलिया, देवरिया, बाराबंकी, अयोध्या, सोनभद्र, अमरोहा, चन्दौली, प्रतापगढ़, कुशीनगर, उन्नाव, बदायूं, सुल्तानपुर, बिजनौर, इटावा, हरदोई, शामली, ललितपुर, हापुड़, सीतापुर, गोंडा, रामपुर, बस्ती, बहराइच, मीरजापुर, फर्रुखाबाद, मैनपुरी, एटा, बागपत, मऊ, संतकबीरनगर, चित्रकूट, फतेहपुर, कानपुर देहात, हमीरपुर, कौशाम्बी, श्रावस्ती, महोबा, कासगंज और हाथरस जिलों में कोविड का एक भी मरीज नहीं है. ये जिले कोविड-19 संक्रमण से मुक्त हैं.

और पढ़ें