कोलंबो श्रीलंका श्रृंखला में IPL का आत्मविश्वास लेकर उतरेंगे युवा: भुवनेश्वर

श्रीलंका श्रृंखला में IPL का आत्मविश्वास लेकर उतरेंगे युवा: भुवनेश्वर

श्रीलंका श्रृंखला में IPL का आत्मविश्वास लेकर उतरेंगे युवा: भुवनेश्वर

कोलंबो: श्रीलंका दौरे पर गयी भारतीय सीमित ओवरों की टीम में भले ही छह खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्हें अंतरराष्ट्रीय मैच (International Matches) खेलने का अनुभव नहीं है लेकिन उप कप्तान भुवनेश्वर कुमार (Vice Captain Bhuvneshwar Kumar) ने कहा कि कम अनुभवी होना कोई मसला नहीं है और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के कारण पूरी टीम आत्मविश्वास से भरी है.

शिखर धवन की अगुवाई में कम अनुभवी टीम भेजी श्रीलंका:
कप्तान विराट कोहली और सीमित ओवरों की टीम के उप कप्तान रोहित शर्मा के टेस्ट श्रृंखला के लिये इंग्लैंड में होने के कारण भारत ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की अगुवाई में कम अनुभवी टीम श्रीलंका भेजी है. भारतीय टीम में देवदत्त पडिक्कल, चेतन सकारिया, नितीश राणा, कृष्णप्पा गौतम, रुतुराज गायकवाड़ और वरुण चक्रवर्ती को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का अनुभव नहीं है, लेकिन इन सभी ने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया जिसके दम पर उन्हें राष्ट्रीय टीम में जगह मिली.

अपनी टीमों के लिये अच्छा प्रदर्शन किया: भुवनेश्वर 
भुवनेश्वर ने स्टार स्पोर्ट के एक कार्यक्रम में कहा कि हमारे पास अच्छे खिलाड़ी हैं और उन्हें आईपीएल का अनुभव है. वे भले ही युवा है लेकिन उनके पास आईपीएल का अनुभव है. वे लंबे समय से टी20 में खेल रहे हैं और उन्होंने अपनी टीमों के लिये अच्छा प्रदर्शन किया है. उन्होंने कहा कि इसलिये यह टीम के लिये लाभदायक स्थिति है कि वे आईपीएल से मिले आत्मविश्वास के साथ यहां खेलने के लिये उतरेंगे. वे युवा और प्रतिभाशाली हैं. टीम में अनुभवी खिलाड़ी भी हैं और यह अच्छा दौरा होगा.  

अच्छे प्रदर्शन से खिलाड़ियों का बढ़ता है मनोबजल:
भुवनेश्वर ने कहा कि युवा खिलाड़ी जो अपने पहले दौरे पर आये हैं और जिन्होंने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करके टीम में जगह बनाई है यदि वे यहां अच्छा प्रदर्शन करेंगे तो इससे उनका मनोबल काफी बढ़ेगा. यह सीनियर तेज गेंदबाज पिछले साल के आईपीएल के दौरान मांसपेशियों में खिंचाव के कारण बाहर हो गया था और फिर आस्ट्रेलिया दौरे पर भी नहीं जा पाया था. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखला में वापसी की.

इंग्लैंड श्रृंखला से पहले मैं घरेलू क्रिकेट में खेला:
भुवनेश्वर ने कहा कि जब मैं पूरी तरह फिट हो गया था तो घरेलू क्रिकेट चल रहा था. इसलिए मेरा ध्यान फिट रहने और वापसी करने पर था और इसके बाद मैंने मैचों के लिये तैयारियां शुरू कर दी. उन्होंने कहा कि इंग्लैंड श्रृंखला से पहले मैं घरेलू क्रिकेट में खेला. इससे मुझे जरूरी मैच अभ्यास का मौका मिला. घरेलू क्रिकेट खेलते हुए किसी को भी चीजों को हल्के से नहीं लेना चाहिए और यह मुझे भारत की तरफ से खेलने और फिट रहने के लिये प्रेरित करता है.  

और पढ़ें