एक तरफ जश्न, तो दूसरी तरफ 'अंतिम विदाई' में बिलख उठे सैनिक परिवार

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/03/02 06:34

नई दिल्ली। वाघा-अटारी बार्डर पर शुक्रवार को जब पूरा देश वायुसेना के जवान अभिनंदन को इंतजार कर रहा था, तो वहीं दूसरी और देशसेवा करते हुए अपनी जान न्योछावर करने वाले कुछ वीर सैनिकों को अंतिम विदाई भी दी जा रही थी। बतादें, जम्मू कश्मीर के बडगाव में हुए हेलिकॉप्टर क्रैश में दो पायलट और चार अन्य वायुसेना अफसरों की मौत हो गई थी। इनमें सिद्धार्थ वशिष्ठ भी शामिल थे। वहीं, इसी हादसे में शहीद हुए 33 साल के रहे पायलट निनाद मंडावगने का अंतिम संस्कार भी शुक्रवार को ही नासिक में किया गया।

जहां बहुत लोग कल अभिनंदन का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे, तो कोई इस वतन को अलविदा कर रहा था। काफी इमोशनल पल थे वो, जब चंडीगढ़ में वायुसेना के स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ वशिष्ठ का अंतिम संस्कार किया जा रहा था। इस दौरान उनकी पत्नी आरती वर्दी में थी और काफी इमोशनल हो गई थी। आरती खुद भी वायुसेना में स्क्वाड्रन लीडर हैं।  

इन वायुसैनिकों का अंतिम संस्कार मिलिट्री सम्मान के साथ किया गया। वहीं, इसी हादसे में शहीद हुए सार्जेंट विक्रांत सेहरावत का अंतिम संस्कार हरियाणा के झज्जर जिले के बधानी गांव में किया गया। हरियाणा सरकार ने मृतक के परिजनों को 50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की बात कही।

गौरतलब है कि जम्मु कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए। इसके बाद भारतीय वायुसेना ने पाक आतंकियों पर एयरस्ट्राइक करके करीब 200 से 300 आतंकियों को ढेर कर दिया। लड़ाई यहीं नहीं रुकी एयर स्ट्राइक के अगले दिन पाकिस्तानी विमान भारतीय सीमा में आ घुसे। भारतीय वायुसेना ने उसे ध्वस्त कर दिया, लेकिन ऐसा करते हुए हमारे कई जवान शहीद हो गए। हाल भी दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति है, लगातार सीजफायर का उल्लंघन पाक की और से किया जा रहा है। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in