क्षतिग्रस्त हुई सेली बांध की मोरी, कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा

FirstIndia Correspondent Published Date 2016/12/16 15:32

देसूरी (पाली)। पाली जिले के देसूरी उपखंड मुख्यालय स्थित पेयजल के रूप में पहचाने जाने वाले सेली बांध की मोरी की दीवार क्षतिग्रस्त हो गई है, जिसके चलते कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सेली बांध की मोरी के ऊपर का भाग क्षतिग्रस्त हुआ है। 


सेली बांध से किसानों को पहली पाण का खेतों में पानी दिया गया था, उस दौरान सेली बांध की मोरी क्षतिग्रस्त हुई थी, जिसको लेकर आज तक मोरी को दुरुस्त नहीं करवाया गया। यही नहीं सेली बांध से निकलने वाली सीमेंट निर्मित नहर भी जग़ह जगह टूटी पड़ी है। बांध से पहली पाण किसानों को देने से पूर्व सेली बांध उपभोक्ता संगम अध्यक्ष बाबूलाल माली ने स्वयं अपने निजी खर्च पर इन नहरों को ठीक करवाया था।


अध्यक्ष बाबूलाल माली ने बताया कि विभाग को बार—बार अवगत कराने के बाद भी विभाग मोरी व नहरों को ठीक नहीं करवा रहा है। किसानों को सिर्फ आश्वासन ही मिल रहे हैं। गेहूं और चने की फसलों को दूसरी पाण देने के दौरान मोरी के क्षतिग्रस्त होने की वजह से हादसा हो सकता है।


वहीं किसानों कहना कि मोरी की दीवार क्षतिग्रस्त है। दूसरी पाण का पानी छोड़ने के दौरान बांध की मोरी के गिरने से हादसा होने का उन्हें भय सता रहा है। साथ ही किसानों ने बताया कि विभाग बार—बार नहरों को ठीक करने के टेंडर पास होने पर करवा देंगे। यह खोखला वादा करके पल्ला झाड़ रहा है।

 

Pali Desuri Rajasthan Sally Dam Farmers Crop Sally Dam Consumer Association

  
First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

जानिए कुछ ऐसे चमत्कारी उपाय जिनसे होगा आपका जीवन सरल

पीसीसी में विधायक दल की बैठक आज, शाम तक होगा मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान
5 राज्यों में कांग्रेस को मिली बढ़त पर राहुल बोले...
धौलपुर जेल से कैदी का वीडियो वायरल
Big Fight Live | \'सियासी गलियारों में आज क़यामत की रात | 10 DEC, 2018
मतगणना से पहले सुरक्षा व्यवस्थाओं को लेकर एडिशनल डीसीपी से खास बातचीत
रिजर्व बैंक के गर्वनर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा
विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर आज आ सकता है बड़ा फैसला
loading...
">
loading...