बहरोड़, अलवर Alwar: घूंघट नहीं निकालने को लेकर पत्नी से हुई लड़ाई, पिता ने 3 साल की बेटी को पटक कर मार डाला

Alwar: घूंघट नहीं निकालने को लेकर पत्नी से हुई लड़ाई, पिता ने 3 साल की बेटी को पटक कर मार डाला

Alwar: घूंघट नहीं निकालने को लेकर पत्नी से हुई लड़ाई, पिता ने 3 साल की बेटी को पटक कर मार डाला

बहरोड़(अलवर): बहरोड़ थाना क्षेत्र के गांव गादोज में एक कलयुगी पिता ने पत्नी के द्वारा घूंघट नहीं निकालने की बात को लेकर हुए विवाद में अपनी 3 साल की मासूम बेटी प्रियांशी की फेंककर हत्या कर जान ले ली. परिजनों ने गुपचुप अंतिम संस्कार भी कर दिया. लेकिन मासूम की मां का कलेजा बेटी के लिए पुकारता रहा. पीहर पक्ष के आने के बाद मां मृतक बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए पुलिस थाने पहुंची और हत्यारे पति के खिलाफ मामला दर्ज करवाया. 

हरियाणा की रेवाड़ी में मॉडल टाउन थाना क्षेत्र निवासी मोनिका ने रिपोर्ट दर्ज करवाई की उसकी शादी 2013 में गांव गादोज निवासी प्रदीप के साथ हुई थी. वह 12वीं तक पढ़ा लिखा है और फैक्ट्री में काम करता है. मोनिका के 2 बेटियां थी. बड़ी बेटी 6 साल की और छोटी बेटी 3 साल की. दहेज की मांग लो लेकर पति-पत्नी में अक्सर दहेज में कार की मांग को लेकर झगड़ा हुआ करता था. पीहर वालो ने घर में कलह खत्म करने के लिए छोटी बेटी के जन्म पर आयोजित हुए हुआ पूजन में क्विड कार भी दे दी. 

परिजनों ने गुपचुप अंतिम संस्कार भी कर दिया: 
मोनिका ने पुलिस को बताया कि वह घर में घूंघट करती है. लेकिन जब घूंघट कम होता है तो पति प्रदीप झगड़ा करता है. मंलगवार कि रात भी यही हुआ. हत्या के आरोपी पिता ने पहले 3 साल की मासूम को थप्पड़ मारा और जब मां मोनिका ने विरोध किया तो मासूम को फेंक दिया. जिससे उसकी मौत हो गई. परिजनों ने गुपचुप अंतिम संस्कार भी कर दिया. हत्यारा पिता फरार है. मां ने पुलिस में पहुंच रिपोर्ट दर्ज करवाई और मासूम को न्याय दिलाने की मांग की. 

और पढ़ें