जयपुर Fire In Sariska: गर्मी का वन और वन्यजीवों पर टूटा कहर ! सरिस्का के टहला क्षेत्र में आग बुझाने का प्रयास जारी

Fire In Sariska: गर्मी का वन और वन्यजीवों पर टूटा कहर ! सरिस्का के टहला क्षेत्र में आग बुझाने का प्रयास जारी

जयपुर: सरिस्का बाघ अभयारण्य के वन क्षेत्र के एक और हिस्से में रविवार शाम आग लग गई. इस बार जंगल के टहला क्षेत्र में आग लगी है. आग लगने की सूचना के बाद से ही लगातार जहाज और उमरी क्षेत्र में दमकलों से आग बुझाने के प्रयास किया जा रहा है. लेकिन कल के मुकाबले आज आज हालात नियंत्रण में है. एफडी आरएन मीणा, डीएफओ सुदर्शन शर्मा मौके पर मौजूद है. वहीं वनकर्मी, नेचर गाइड, एनजीओ कर्मी, आपदा प्रबंधन टीम कर रेस्क्यू कर रही है. इस बार भी आग दो से तीन वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैली हुई है. हालांकि आज शाम तक आग पर काबू पाए जाने की उम्मीद की जा रही है. 

आपको बता दें कि गर्मी का वन और वन्यजीवों पर कहर टूटा है! इसी के चलते सभी पीसीसीएफ हॉफ व एनटीसीए को अलर्ट किया गया है. इस समय सरिस्का सहित देश के 52 टाइगर रिजर्व में से 9 में 56 स्थानों पर आग लगने की जानकारी सामने आई है. सबसे ज्यादा मेलघाट में 27स्थानों पर आग की सूचना है. पलामू 13, सरिस्का 4, बांधवगढ़, सतपुड़ा, अचानकमार में 3-3 जगह, इंद्रावती, पन्ना, दांदेली-अंशी में एक-एक स्थान पर आग लगी है. इन सभी टागइर रिजर्व में लाखों की संख्या में वन्यजीव हैं. गर्मी बढ़ने के साथ अन्य रिजर्व में भी आग की घटना हो सकती है. ऐसे में वन विभाग की टीमों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं. 

आग बुझाने में लगे थे हेलीकॉप्टर: 
गौरतलब है कि पांच दिन पहले भी सरिस्का के जंगल में आग लगी थी. इसके चलते प्रशासन को सेना के दो हेलीकॉप्टर मंगाने पड़े थे. 48 घंटे में दो हेलीकॉप्टरों से प्रशासन ने आग पर काबू पाया गया था. साथ ही ग्रामीणों ने भी आग बुझाने में प्रशासन का पूरा सहयोग किया था. 

और पढ़ें