बाड़मेर बाड़मेर: पिता ने कन्यादान में दिए 75 लाख, बेटी ने उठाया ऐसा कदम कि देशभर में हो रही वाहवाही

बाड़मेर: पिता ने कन्यादान में दिए 75 लाख, बेटी ने उठाया ऐसा कदम कि देशभर में हो रही वाहवाही

बाड़मेर: पिता ने कन्यादान में दिए 75 लाख, बेटी ने उठाया ऐसा कदम कि देशभर में हो रही वाहवाही

बाड़मेर: जिले की एक बेटी ने अपनी शादी में पिता से दहेज ना लेकर उन्ही पैसों को बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए छात्रावास निर्माण में लगाने की सराहनीय पहल की है जिसके बाद देशभर में बेटी अंजलि की प्रशंसा की जा रही हैं. 

दरअसल, 21 नवंबर को बाड़मेर के युवा उद्यमी किशोरसिंह कानोड़ की बेटी अंजलीसिंह का विवाह प्रवीणसिंह के साथ हुआ. इस दौरान पिता ने अपनी बेटी को दहेज में एक करोड़ रुपए देने चाहे लेकिन बेटी ने पैसे लेने से इनकार कर दिया और यही पैसे बाड़मेर जिला मुख्यालय पर बन रहे बालिका छात्रावास के निर्माण में लगाने के लिए पिता को कहा.

पिता ने कन्यादान में दिए 75 लाख

अंजली सिंह का कहना है कि पश्चिमी राजस्थान में जिस प्रकार से आज भी हमारी सोसाइटी में बालिका शिक्षा को लेकर लोगों की मानसिकता में बदलाव नहीं हुआ है. मेरी पढ़ाई के दौरान भी मेरे पिताजी को कई प्रकार के ताने सुनने पड़े थे मैं चाहती हूं कि जिस प्रकार से मैंने पढ़ाई की है उसी प्रकार हमारे समाज की हर बेटी पढ़ाई कर पाए. इसलिए मेरे दोनों परिवारों की यह पहल है जिन्होंने मेरी बात को स्वीकार किया. 

बेटी के कहने पर 75 लाख रुपए छात्रावास के निर्माण में लगाए जा रहे:
गौरतलब है कि युवा उद्यमी किशोरसिंह कानोड़ द्वारा पूर्व में बालिका छात्रावास के निर्माण के लिए 1 करोड़ रुपए भेंट किए गए थे लेकिन अब बेटी की शादी के दौरान बेटी के कहने पर 75 लाख रुपए और इस छात्रावास के निर्माण में लगाए जा रहे हैं.

और पढ़ें