बाड़मेर प्रेम-प्रसंग के चलते आत्महत्या की घटनाओं से कांप उठा थार! दामाद-सास ने फंदा लगाया, दो नाबालिग पेड़ पर झूले; टांके में कूदी विवाहिता

प्रेम-प्रसंग के चलते आत्महत्या की घटनाओं से कांप उठा थार! दामाद-सास ने फंदा लगाया, दो नाबालिग पेड़ पर झूले; टांके में कूदी विवाहिता

प्रेम-प्रसंग के चलते आत्महत्या की घटनाओं से कांप उठा थार! दामाद-सास ने फंदा लगाया, दो नाबालिग पेड़ पर झूले; टांके में कूदी विवाहिता

बाड़मेर: मंगलवार को पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर (Barmer) जिले में तीन अलग-अलग आत्महत्या (suicide) की घटनाओं ने हर किसी को झकझोर कर दिया है. बाड़मेर जिले के तीन अलग-अलग थाना क्षेत्रों में दो सामूहिक आत्महत्या की घटनाओं व एक महिला द्वारा टांके में कूदकर आत्महत्या करने की घटना सामने आई है जिसमें 2 महिलाओं एक नाबालिक लड़की तथा दो युवकों ने अपनी इहलीला समाप्त कर दी है. 

जानकारी के अनुसार बाड़मेर के ग्रामीण थाना क्षेत्र के लंगेरा फांटा के पास सास व उसके सगे दामाद ने एक पेड़ पर अपने कपड़ों से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली तो रामसर थाना क्षेत्र के बसरा गांव में एक नाबालिग लड़की व एक नाबालिग लड़के ने एक पेड़ पर एक साथ फांसी का फंदा लगाकर इहलीला समाप्त कर दी है. 

दूसरी तरफ सदर थाना क्षेत्र के हाथीतला गांव में बीती रात को एक महिला ने अपने घर के बाहर बने पानी के टांके में अपने मासूम बच्चे के साथ कूदकर आत्महत्या कर ली कूदने की आवाज आने के बाद आसपास के लोगों ने मासूम बच्चे को पानी के टांके से सुरक्षित बाहर निकाल दिया जबकि महिला ने दम तोड़ दिया. 

सास और दामाद के बीच प्रेम-प्रसंग हो गया:
फिलहाल अलग-अलग थानों की पुलिस ने सभी मृतक के शव जिला अस्पताल स्थित मोर्चरी में रखवाए हैं और परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर अग्रिम कार्यवाही में जुट गए हैं. जानकारी के अनुसार बाड़मेर के सरणू गांव के पास खरण्टिया निवासी दरिया देवी की पुत्री का विवाह 1 वर्ष पूर्व केरावा निवासी होताराम के साथ किया था और उसके बाद सास और दामाद के बीच प्रेम-प्रसंग हो गया जिसको लेकर कई बार सामाजिक स्तर पर और परिवार के लोगों ने दोनों को समझाइश की लेकिन दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग जारी रहा. 

सास और दामाद ने खेजड़ी के पेड़ पर अपने ही कपड़ों से फांसी का फंदा लगाया:
इसके बाद बीते दिन सास और दामाद दोनों खरन्तिया गांव से एक साथ बाड़मेर की तरफ निकले थे और बीती रात उन्होंने बाड़मेर जिला मुख्यालय से 5 किलोमीटर दूर ग्रामीण थाना क्षेत्र के लंगेरा फांटा के पास एक खेजड़ी के पेड़ पर अपने ही कपड़ों से फांसी का फंदा लगा दिया. जिसके बाद सुबह जब आसपास के लोगों ने दोनों को पेड़ पर लटकते देखा तो ग्रामीण पुलिस को इतना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों के सहयोग से दोनों के शव नीचे उतारकर जिला अस्पताल स्थित मोर्चरी में रखवा आए हैं. परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस अग्रिम कार्यवाही के लिए जुट गई हैं और आत्महत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है. 

बसरा गांव में एक पेड़ पर एक नाबालिग लड़के और लड़की का शव लटक मिला:
वहीं दूसरी तरफ रामसर पुलिस को आज सवेरे सूचना मिली कि बसरा गांव में एक पेड़ पर एक नाबालिग लड़के और लड़की का शव लटक रहा है जिस पर रामसर पुलिस मौके पर पहुंची और परिजनों को बुलाकर दोनों के सब नीचे उतारकर जिला अस्पताल स्थित मोर्चरी में रखवा पुलिस का कहना है कि दोनों एक ही जाति के हैं और पड़ोसी हैं. दोनों की उम्र लगभग 16 वर्ष है. परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस अग्रिम कार्यवाही करेगी. आसपास के लोगों का कहना है कि दोनों के बीच में पिछले कुछ समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. फिलहाल पुलिस पूरे मामले को लेकर जांच में जुटी हुई है. 

हाथीतला गांव में देर रात एक विवाहिता पानी के टांके में कूद गई:
इसके अलावा बाड़मेर के सदर थाना क्षेत्र के हाथीतला गांव में देर रात एक विवाहिता ने अपने घर के बाहर बने पानी के टांके में मासूम बच्चे के साथ कूद गई जिसके बाद आसपास के लोगों ने खुद ने की आवाज सुनने पर मासूम बच्चे को सुरक्षित बाहर निकाल दिया और विवाहिता की डूबने से मौत हो गई. ऐसा बताया जा रहा है कि विवाहिता का पति बाहर मजदूरी करता था देर रात को करीब 12:00 बजे अपने घर पहुंचा तो पत्नी किसी अन्य व्यक्ति के साथ संदिग्ध अवस्था में दिखी. पति जब उस व्यक्ति के पीछे भागा तो पीछे से पत्नी ने बच्चे के साथ पानी के टांके में छलांग लगा दी. फिलहाल सदर पुलिस पूरे मामले को लेकर जांच कर रही है. बाड़मेर जिले की तीन आत्महत्या की अलग-अलग घटनाओं से जिले भर में शोक की लहर है और हर कोई स्तब्ध है. 

और पढ़ें