भारत बचाओ रैली: सरकार सिर्फ कुछ लोगों का स्वार्थ पूरा कर रही- सचिन पायलट

भारत बचाओ रैली: सरकार सिर्फ कुछ लोगों का स्वार्थ पूरा कर रही- सचिन पायलट

भारत बचाओ रैली: सरकार सिर्फ कुछ लोगों का स्वार्थ पूरा कर रही- सचिन पायलट

नई दिल्ली: कांग्रेस की भारत बचाओ रैली में आज राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि आज संदेश रामलीला मैदान से निकलकर पूरे देश में जाना चाहिए. सरकार जो संविधान के खिलाफ काम कर रही है उसके खिलाफ आप सबको एक साथ मिलकर एकजुटता से आगे बढ़ना पड़ेगा. आज ठीक समय था. चुनाव के बाद जनता को उम्मीद थी कि महंगाई कम होगी, रोजगार बढ़ेगा. लेकिन सरकार ने उम्मीदों पर चोट की. सरकार सिर्फ कुछ लोगों का स्वार्थ पूरा कर रही है.

बीजेपी के 6 सालों के राज के बाद जीडीपी पाताल पर: 
वहीं इससे पहले प्रियंका ने कहा ये देश एक आंदोलन से उभरा है. बीजेपी के 6 सालों के राज के बाद जीडीपी पाताल पर है. छोटा व्यापारी नाखुश है. बीजेपी है तो 4 करोड़ नौकरियां नष्ट हैं. फिर भी हर बस स्टॉप हर इश्तेहार में मोदी मुमकिन है. भाजपा है 100 रुपये प्याज़ मुमकिन है. 4 करोड़ नौकरी नष्ट होना मुमकिन है. 15000 किसानों की आत्महत्या मुमकिन है. भाजपा है जो कानून देश के खिलाफ है मुमकिन है. भाजपा है तो हमारे पीएसयू का बिकना मुमकिन है.

नागरिकता संशोधन कानून विभाजन की वजह बनेगा:
भारत बचाओ रैली में प्रियंका गांधी ने मंच से कहा कि नागरिकता संशोधन कानून विभाजन की वजह बनेगा. आवाज नहीं उठाई तो विभाजन होगा. देश प्यारा है तो आवाज उठाएं. प्रियंका ने अपने भाषण में उन्नाव की घटना को याद दिलाते हुए पीड़ित परिवार का दुखड़ा सुनाया. 

प्रियंका ने याद दिलाई उन्नाव की घटना: 
उन्होंने कहा कि जब मैंने एक छोटी सी बच्ची से पूछा कि बड़ी होकर तुम क्या बनोगी तो पहले तो उसने कुछ नहीं किया लेकिन बाद में उसने कहा कि जो वकील से बड़ा होता है. यानी वह जज बनना चाहती है. उसके पिता को देख कर मुझे आपने पिता की याद आई है. इस देश मे जो हो रहा है उसे रोकने का हमारा कर्तव्य है जो आज अन्याय के खिलाफ नहीं लड़ेंगे, वो इतिहास में कायर कहलाएंगे.

और पढ़ें