वीडियो- लोग लगे रहे कतारों में, इस बैंक में पिछले दरवाजे से बदले जा रहे थे नोट

Lovely Wadhwa Published Date 2016/12/12 12:20

जयपुर। जयपुर में शुक्रवार दोपहर शुरु हुई आयकर विभाग की छापेमार कार्रवाई सोमवार को भी जारी रही। आयकर विभाग की टीमों ने शुक्रवार को इनटीग्रल कोपरेटिव बैंक और सेंट विल्फ्रेड कॉलेज के खिलाफ कार्रवाई शुरु की थी इस दौरान जाँच टीमों को मौक़े से नई करेंसी में मिले 1 करोड़ 38 लाख रुपये.. दो हज़ार के नोटों की करेंसी हाथ लगी।वही टीम को बैंक का कैश बैलेंस पुरानी करेंसी में मिला। जबकि नये नोटों की करेंसी का कोई रिकार्ड बैंक में नही मिला है। 

 


कार्रवाई की शुरुआत के बाद से ही बैंक का चीफ कैशव बड़ाया फरार है। आयकर टीमों को जाँच के दौरान बड़े स्तर पर बैंकिंग अनियमित्ताए भी मिली है जैसे विडरॉल लिमिट से ज़्यादा हुई है पैसे की निकासी और निजी हित के लिए करेंसी एक्सेंज करने जैसे सबूत हाथ लगे है। वही आयकर विभाग अब ये केस ईडी और कोपरेटिव बैंक रेग्यूलेटरी बॉडी और आरबीआई को भी रैफर कर रहा है वही तीन ठिकानो पर अभी भी छापे की कार्रवाई लगातार जारी है।आयकर सूत्रों का माने तो कार्रवाई के दौरान और भी कई बड़े ख़ुलासे हो सकते है। 

 

 

 

JaipurRajasthanBig ScamDemonetizationIntegral Cooperative BankJaipur 

  
First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in