Live News »

विवादित बयानों के चलते गिरिराज सिंह को बीजेपी अध्यक्ष ने किया तलब, दी हिदायत

विवादित बयानों के चलते गिरिराज सिंह को बीजेपी अध्यक्ष ने किया तलब, दी हिदायत

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को उनके विवादित बयानों के चलते बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कड़ी चेतावनी दी है. इसके साथ ही भविष्य में ऐसे विवादित बयान देने से बचने की नसीहत दी है. सूत्रों के मुताबिक जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को बेवजह बयानबाजी से बचने को कहा है. हाल ही में गिरिराज सिंह ने देवबंद को लेकर विवादित बयान दिया था.

केजरीवाल के शपथग्रहण समारोह का अन्ना हजारे को नहीं मिला आमंत्रण 

नरेंद्र मोदी को भगवान बताया था:
बेगूसराय के मुस्लिम बहुत इलाके में शुक्रवार को गिरिराज सिंह ने खुली जीप में सवारी की थी और भीड़ के साथ चलते हुए "भारतवंशी तेरा मेरा रिश्ता क्या, जय श्री राम जय श्री राम" का नारा लगाया था. इसके साथ ही अपने भाषण में गिरिराज सिंह ने नरेंद्र मोदी को भगवान बताया था. इसके अलावा उन्होंने भारत माता पर उंगली उठाने वालों की आंखे निकाल लेने की बात कही थी. 

चोरों ने उड़ाई कुमार विश्वास की फॉर्च्यूनर कार, घर के बाहर खड़ी थी

देवबंद को बताया था आतंकवाद की गंगोत्री: 
हाल ही में दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद भी गिरिराज सिंह ने कई विवादित बयान दिए थे. उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में सीएए के समर्थन में गिरिराज सिंह ने कहा था कि देवबंद आतंकवाद की गंगोत्री है. हाफिज सईद समेत बड़े-बड़े आतंकवादी यह सारे यहीं से निकले हैं.

डोनाल्ड ट्रंप ने किया ट्वीट, कहा-भारत यात्रा को लेकर हूं मैं बेहद उत्साहित 

शाहीन बाग अब सिर्फ आंदोलन नहीं:
दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान भी गिरिराज सिंह ने कहा था कि शाहीन बाग अब सिर्फ आंदोलन नहीं रह गया है, यहां सुसाइड बंबर का जत्था बनाया जा रहा है. देश की राजधानी में देश के खिलाफ साजिश हो रही है. गिरिराज सिंह ने कहा था कि शाहीन बाग आंदोलन के पीछे CAA का दर्द नहीं हैं उसके पीछे 370 और राम मंदिर का दर्द हैं जो अब निकल रहा है.

और पढ़ें

Most Related Stories

सिंगर कनिका कपूर अस्पताल से हुई डिस्चार्ज, छठी रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद किया डिस्चार्ज

सिंगर कनिका कपूर अस्पताल से हुई डिस्चार्ज, छठी रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद किया डिस्चार्ज

लखनऊ: बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर को अस्पताल से छुट्टी मिल गई. गायिका कनिका कपूर की छठवीं रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन्‍हें अस्पताल से छुट्टी दे ​दी गई. फिलहाल कनिका कपूर को 14 दिनों तक अपने घर में क्‍वारेंटाइन रहने के निर्देश दिए गए है. इससे पहले बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर की पांचवीं रिपोर्ट भी नेगेटिव आई थी. कनिका कपूर का लखनऊ के अस्पताल में इलाज चल रहा था. 

सीएम गहलोत के निर्देश, लॉकडाउन और कर्फ्यू की सख्ती से कराये पालना, अफवाह फैलाने पर हो कार्रवाई

लंदन से 9 मार्च को लौटी थी कनिका:
आपको बता दें कि बॉलीवुड गायिका 9 मार्च को लंदन से मुंबई पहुंची थी. उन्होंने मुंबई आने के बाद खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की बात छुपाई थी. लेकिन तबियत खराब होने के बाद उन्होनें 20 मार्च को खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की बात सार्वजनिक की. 

हनुमान मंदिर में चोरी की वारदात, अज्ञात चोर ने 2 दानपात्र और 13 चांदी के छत्र चुराए

लापरवाही बरतने के लगे आरोप:
इसके बाद उनपर खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर छुपाने और लापरवाही बरतने के आरोप लगने लगे थे. हालांकि, कनिका कपूर का कहना है कि जब वे भारत वापस लौटी. जब देश में सेल्फ आईसोलेशन जैसी कोई व्यवस्था लागू नहीं हुई थी. इसके बाद लगातार 4 कोरोना टेस्ट में वो संक्रमण से पॉजिटिव पाई गई थीं.

सीएम गहलोत के निर्देश, लॉकडाउन और कर्फ्यू की सख्ती से कराये पालना, अफवाह फैलाने पर हो कार्रवाई

सीएम गहलोत के निर्देश, लॉकडाउन और कर्फ्यू की सख्ती से कराये पालना, अफवाह फैलाने पर हो कार्रवाई

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए राज्य में लाॅकडाउन एवं कर्फ्यू की सख्ती से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए लोगों का घरों में रहना जरूरी है. गहलोत ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए गृह विभाग एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ राज्य में लाॅकडाउन एवं कर्फ्यू की स्थिति की समीक्षा की. गहलोत ने निर्देश दिए कि सोशल मीडिया तथा अन्य माध्यमों से फैलाई जा रही अफवाहों एवं गलत सूचनाओं पर पुलिस अधिकारी प्रभावी अंकुश लगाएं. ऐसा करने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई अमल में लाएं. राज्य के विभिन्न जिलों के 34 थाना इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया है. साथ ही सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचनाएं देने के मामलों में 50 से अधिक मुकदमे दर्ज किए गए हैं और 300 से अधिक लोगों पर कार्रवाई की गई है. 

हनुमान मंदिर में चोरी की वारदात, अज्ञात चोर ने 2 दानपात्र और 13 चांदी के छत्र चुराए

सीएम गहलोत ने की पुलिसकर्मियों की तारीफ: 
वीडियो कांफ्रेंस के दौरान अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजीव स्वरूप, पुलिस महानिदेशक  भूपेन्द्र सिंह, महानिदेशक कानून-व्यवस्था  एमएल लाठर, एडीजी क्राइम  बीएल सोनी, एडीजी इंटेलीजेंस उमेश मिश्रा, एडीजी एसओजी अनिल पालीवाल आदि वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को वस्तुस्थिति से अवगत कराया. अपनी-अपनी रेंज का दौरा कर लौटे प्रभारी अतिरिक्त पुलिस महानिदेशकों ने मुख्यमंत्री को लाॅकडाउन और कर्फ्यूग्रस्त इलाकों की जानकारी दी. वहीं मुख्यमंत्री गहलोत ने पुलिसकर्मियों की तारीफ करते हुए कहा कि विकट समय में पुलिसकर्मी सड़क पर खड़े रहकर मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी को अंजाम दे रहे हैं.

स्वास्थ्यकर्मियों की पुख्ता सुरक्षा करने के निर्देश:
साथ ही अन्य व्यवस्थाओं तथा मानवीय कार्यों में भी सहयोग दे रहे हैं जो कि प्रशंसनीय है. इस दौरान मुख्यमंत्री ने इस महामारी के रोगियों का उपचार कर रहे चिकित्सकों एवं स्क्रीनिंग कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों की पुख्ता सुरक्षा करने के निर्देश दिए. गहलोत ने इसके साथ ही कोर ग्रुप और क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से चर्चा कर कोरोना की स्थिति की समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने आईसोलेशन, चिकित्सा उपकरणों की उपलब्धता, राशन एवं खाद्य सामग्री पहुंचाने, प्रवासी कामगारों के लिए बनाए गए शिविरों में आवश्यक व्यवस्थाओं, गर्भवती महिलाओं के सुरक्षित प्रसव आदि के बारे तमाम इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. उन्होंने फसल कटाई, मंडियों में कृषि जिंसों की खरीद-फरोख्त प्रारंभ करने आदि के बारे में चर्चा की.

Coronavirus Updates: कोरोना का कहर, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 274, कोटा में एक मरीज की मौत 

भीलवाड़ा में किए गए उपायों की सराहना की:
उधर मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने मुख्यमंत्री को बताया कि केन्द्रीय कैबिनेट सचिव द्वारा रविवार को ली गई वीडियो कांफ्रेंसिंग में कोरोना से बचाव के लिए भीलवाड़ा में किए गए उपायों की सराहना की गई है. केन्द्रीय कैबिनेट सचिव ने भीलवाड़ा माॅडल को पूरे देश में लागू करने के संकेत दिए हैं. वार रूम प्रभारी सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव अभय कुमार ने क्वारेंटाइन में रह रहे लोगों की ट्रेकिंग के लिए तैयार डैश बोर्ड के बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इससे ऐसे लोगों की गतिविधियों की ट्रेकिंग सुनिश्चित की जा रही है.

Coronavirus Updates: राजस्थान में 266 हुई पॉजिटिव मरीजों की संख्या, देशभर में 3500 से ज्यादा पहुंचा आंकड़ा

Coronavirus Updates: राजस्थान में 266 हुई पॉजिटिव मरीजों की संख्या, देशभर में 3500 से ज्यादा पहुंचा आंकड़ा

जयपुर: प्रदेश में लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है. रविवार को एक ही दिन में रिकॉर्ड 60 मरीज सामने आए. इनमें अकेले जयपुर के रामगंज में 39 मरीज मिले. इससे भी चिंता की बात यह है कि जयपुर के एसएमएस मेडिकल कॉलेज की कैंटीन में काम करने वाला रामगंज निवासी एक युवक भी पॉजिटिव आया है. ऐसे में डॉक्टर और रेजीडेंट में भय का माहौल हो गया. प्रदेश में अब 266 रोगी हो गए हैं. 

Coronavirus Updates: दीये, मोमबत्ती और टॉर्च वाली रोशनी से जगमग हुआ देश, पीएम की अपील पर लोगों ने 9 मिनट तक मनाई 'दिवाली' 

देशभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3500 से ज्यादा:
वहीं देशभर में भी लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है. भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या अब तक 3500 से ज्यादा हो गई है. वहीं अब तक 83 लोगों की मौत हो चुकी है. अच्छी बात यहै है कि 274 मरीजों का इलाज सफल हो गया है.

मोदी कैबिनेट की बैठक आज:
इसी बीच पीएम मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कैबिनेट की बैठक में भाग लेंगे. इस दौरान कोरोना के एक्शन प्लान पर चर्चा होगी. साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण स्कीम की समीक्षा भी की जाएगी. देश के अलग-अलग जिलों के अलग-अलग जिलों के जिलाधिकारियों से मिले फीडबैक को भी केंद्रीय मंत्री, पीएम के सामने रखेंगे. 

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा

दुनियाभर में 13 लाख से अधिक लोग संक्रमित:
दुनियाभर में अब तक कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 13 लाख से अधिक हो गई है. इसके साथ ही मरने वालों का आंकड़ा 60 हजार के करीब पहुंच गया है. दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका इस वायरस से बुरी तरह प्रभावित है. यहां स्थिति बद से बदतर होती जा रही है. अमेरिका में अब तक नौ हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. यहां संक्रमण के मामले तीन लाख से ज्यादा हो गए हैं.

Coronavirus Updates: दीये, मोमबत्ती और टॉर्च वाली रोशनी से जगमग हुआ देश, पीएम की अपील पर लोगों ने 9 मिनट तक मनाई 'दिवाली'

Coronavirus Updates: दीये, मोमबत्ती और टॉर्च वाली रोशनी से जगमग हुआ देश, पीएम की अपील पर लोगों ने 9 मिनट तक मनाई 'दिवाली'

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर आज देशभर में लोगों ने घरों की लाइट बंद कर दीया, मोमबत्ती और फ़्लैश लाइट जलाकर एकजुटता का बड़ा संदेश दिया. इस दौरान आतिशबाजी भी हुई और लोगों ने सोशल मीडिया पर खबू फोटो शेयर किए. एक बार तो ऐसा लग रहा था कि जैसे आज दीपोत्सव का त्योहार हो. पीएम मोदी ने कोरोना से मुकाबला कर रहे योद्धाओं का मनोबल बढ़ाने के लिए पीएम मोदी ने शुक्रवार को यह अपील की थी. 

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा

देश में कई जगह बेहतरीन तस्वीरें देखने को मिली:
प्रधानमंत्री की अपील पर देशभर में कोरोना से चल रही जंग के दौरान देश के सभी छोटे-बड़े शहरों के साथ गांवों में एक बेहतरीन तस्वीर देखने को मिली. इस दौरान बीजेपी के कई दिग्गज नेताओं ने मोमबत्ती और दीए जलाकर प्रधानमंत्री मोदी की अपील का समर्थन किया.

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने भी दीए जलाए:
कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने दीए जलाए. वहीं, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर सहित कई बीजेपी नेताओं ने दीप जलाकर एकजुटता का संदेश दिया.

15 अप्रैल से चलेंगी ट्रेनें! रेलवे प्रशासन ने शुरू की संचालन की तैयारी

योगी आदित्यनाथ ने मोमबत्ती से दीए जलाकर ओम की आकृति:
वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मोमबत्ती से दीए जलाकर ओम की आकृति बनाई थी. वो 9 बजे से पहले ही घर के बाहर आकर दीए जलाने के लिए इंतजार कर रहे थे. हाथ में दीए की थाली लेकर अपनी बेटी के साथ बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी भी घर के बाहर दिखे. 

Rajasthan Corona Update: एक दिन में 47 नए मामले सामने आए, 254 हुई पॉजिटिव मरीजों की संख्या

जयपुर: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है. प्रदेश में आज 47 नए केस सामने आए है. जिसमें 39 केस जयपुर में सामने आए हैं. वहीं इससे पहले आज अलसुबह कोरोना पॉजिटिव रामगंज निवासी 82 वर्षीय बुजुर्ग ने SMS अस्पताल में दम तोड़ दिया है. हालांकि बुजुर्ग की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट उसकी मौत के बाद सामने आई है. वहीं प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस की वजह से 5 लोगों की मौत हो चुकी है.

Coronavirus Updates: देशभर में 3300 से अधिक लोग हुए संक्रमित, देशभर में 274 जिले प्रभावित- स्वास्थ्य मंत्रालय

राजस्थान में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 254:
आज दौसा में 2 संक्रमित पाए गए है. इसके अलावा झुंझुनूं, नागौर और टोंक में भी एक-एक केस पॉजिटिव मिला है. इसके अलावा जोधपुर में ईरान से आए तीन लोग संक्रमित मिले हैं. जिसके बाद राजस्थान में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 254 पहुंच गई.

प्रदेश के 20 जिलों में कोरोना वायरस अपने पैर पसार चुका:
प्रदेश के 20 जिलों में कोरोना वायरस अपने पैर पसार चुका है. सबसे ज्यादा मामले राजधानी जयपुर में मिले हैं. यहां अब तक 94 (2 इटली के नागरिक) पॉजिटिव सामने आए हैं. वहीं इसके बाद जोधपुर में 48 (इसमें 31 ईरान से आए) दूसरे नंबर पर है.  भीलवाड़ा में सरकार के प्रयासों के चलते स्थिती नियंत्रण में आ गई है, वहां पर 27 पॉजिटिव के साथ मरीजों की संख्या स्थिर बनी हुई है. 

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा

देशभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 79:
देश में कोरोना वायरस के हालात को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने नियमित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि देश में कल से लेकर आज तक कोरोना वायरस के 472 नए मामले सामने आए हैं. वहीं देशभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 79 हो गई है, जबकि 3300 से अधिक लोग संक्रमित हैं. उन्होंने बताया कि कल से लेकर आज तक में कोरोना से 11 लोगों की मौत हुई है. 267 लोग इस वायरस से ठीक हुए है, जिन्हें इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.

Coronavirus Updates: देशभर में 3300 से अधिक लोग हुए संक्रमित, देशभर में 274 जिले प्रभावित- स्वास्थ्य मंत्रालय

Coronavirus Updates: देशभर में 3300 से अधिक लोग हुए संक्रमित, देशभर में 274 जिले प्रभावित- स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के हालात को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने नियमित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि देश में कल से लेकर आज तक कोरोना वायरस के 472 नए मामले सामने आए हैं. वहीं देशभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 79 हो गई है, जबकि 3300 से अधिक लोग संक्रमित हैं. उन्होंने बताया कि कल से लेकर आज तक में कोरोना से 11 लोगों की मौत हुई है. 267 लोग इस वायरस से ठीक हुए है, जिन्हें इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा 

कोरोना वायरस से देश के 274 जिले प्रभावित: 
अग्रवाल ने बताया कि कोरोना वायरस से देश के 274 जिले प्रभावित है. इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने सार्वजनिक स्थान पर थूकने से कोरोना फैलने की आशंका जताई है. आयुष्मान योजना के तहत कोरोना का फ्री टेस्ट और इलाज होगा. लव अग्रवाल ने कहा कि कृषि क्षेत्र में लॉकडाउन में छूट दी गई है. लव अग्रवाल ने कहा कि सोशल डिस्टेंनसिंग और लॉकडाउन की दवा है.

तब्लीगी की घटना नहीं हुई होती तो नहीं बढ़ते मामले:
उन्होंने बताया कि अगर तब्लीगी की घटना नहीं हुई होती तो केस 7.1 दिनों में दुगुना होता, जबकि अभी 4.1 दिनों में दुगुना हो रहा है. आज कैबिनेट सचिव ने देश के सभी जिलाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए बैठक कर ज़िलाधिकारियों से अपने अपने जिलों में आपात प्रबंधन योजना बनाने को कहा है. 

15 अप्रैल से चलेंगी ट्रेनें! रेलवे प्रशासन ने शुरू की संचालन की तैयारी 

27,661 राहत शिविरों में 12.5 लाख लोगों ने शरण ली:
प्रेस कॉन्फ्रेंस में गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया कि 27,661 राहत शिविर और आश्रय गृह पूरे भारत में सभी राज्यों में स्थापित किए गए हैं. इनमें से 23,924 सरकार द्वारा और 3,737 गैर-सरकारी संगठनों द्वारा तैयार किया गया है. उन्होंने बताया कि इनमें 12.5 लाख लोगों ने शरण ली हुई हैं. 19,460 खाद्य शिविर भी स्थापित किए गए हैं. इनमें से 9,951 सरकार द्वारा और 9,509 गैर-सरकारी संगठनों द्वारा तैयार किया गया है. संयुक्त सचिव ने बताया कि 75 लाख से अधिक लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है.


 

Coronavirus Updates: पीएम मोदी ने की प्रणब, सोनिया, मनमोहन समेत देश के कई बड़े नेताओं बात

Coronavirus Updates: पीएम मोदी ने की प्रणब, सोनिया, मनमोहन समेत देश के कई बड़े नेताओं बात

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मुलायम सिंह, अखिलेश यादव और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत देश के कई बड़े नेताओं से बात की है. 

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा 

पीएम अलग-अलग लोगों के लगातार चर्चा कर रहे: 
कोरोना महामारी पर सरकार की तैयारियों को लेकर पीएम अलग-अलग लोगों के लगातार चर्चा कर रहे हैं. इसी के चलते आज पूर्व राष्ट्रपति, पूर्व प्रधानमंत्री और अलग-अलग पार्टी के नेताओं से बात की. देश फिलहाल कोरोना वायरस की महामारी से कैसे जूझ रहा है और सरकार की इसको लेकर किस तरही की तैयारियां है, इस पर बात की गई. 

15 अप्रैल से चलेंगी ट्रेनें! रेलवे प्रशासन ने शुरू की संचालन की तैयारी 

प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से भी की थी बात:
इससे पहले पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से भी 2 अप्रैल को बात की थी. इस दौरान राज्यों ने केंद्र सरकार से मेडिकल किट, बकाया पैसे के साथ ही आर्थिक मदद की मांग की थी. इसके बाद प्रधानमंत्री ने देश के अलग-अलग खेलों से संबंधित दिग्गज 40 खिलाड़ियों से कोरोना वायरस को लेकर चर्चा की थी. 

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा

मेलबर्न: संक्रामक महामारी कोरोना वायरस का ऑस्ट्रेलियाई शोधकर्ताओं ने इलाज ढूंढ़ निकालने का दावा किया है. शोधकर्ताओं दवा बनाने की शुरुआती तरकीब खोजने की बात कही है. इसके साथ ही उन्होंने दावा किया कि एक परजीवी रोधी दवा (एंटी पेरासिटिक्स ड्रग) 48 घंटे के भीतर कोशिकाओं में विकसित किए गए कोरोना वायरस को मार सकती है. उन्होंने बताया कि यह परजीवी रोधी दवा दुनियाभर में पहले से ही मौजदू है. 

VIDEO: कोरोना संकट के चलते राजस्थान में टूरिज्म इंडस्ट्री को 500 करोड़ रुपए से अधिक का नुकसान  

एक खुराक 48 घंटों तक सभी वायरल आरएनए को हटा सकती है:
अध्ययन के मुताबिक एंटीवायरल रिसर्च नामक पत्रिका में प्रकाशित दवा इवरमेक्टिन ने वायरस, सार्स-सीओवी-2 को 48 घंटे के भीतर सेल कल्चर में बढ़ने से रोक दिया. इसके साथ ही शोधकर्ताओं ने बताया कि यह प्रारंभिक शोध कोविड-19 के लिए एक नई नैदानिक चिकित्सा पद्धति के विकास और विस्तृत परीक्षण का पड़ाव बन सकता है. जानकारी में सामने आया कि इस दवा की एक खुराक भी निश्चित रूप से 48 घंटों तक सभी वायरल आरएनए को हटा सकती है. इतना ही नहीं इसमें 24 घंटे में ही काफी कमी आई है. 

15 अप्रैल से चलेंगी ट्रेनें! रेलवे प्रशासन ने शुरू की संचालन की तैयारी 

परिणामों से शोधकर्ताओं में उत्साह:
जानकारी के अनुसार संभावित दवा के रूप में इस्तेमाल होने वाली इवरमेक्टिन के परिणामों से शोधकर्ताओं में उत्साह है. हालांकि, शोधकर्ताओं ने कहा कि अब यह पता लगाने की जरूरत है कि क्या आप इसे मनुष्यों में इस्तेमाल कर सकते हैं या नहीं और मनुष्यों में यह कितनी प्रभावी होगी. 


 

Open Covid-19