जयपुर Rajasthan: पूनिया और देवनानी ने जताई मध्यावधि चुनाव की संभावना, कांग्रेस ने किया पलटवार

Rajasthan: पूनिया और देवनानी ने जताई मध्यावधि चुनाव की संभावना, कांग्रेस ने किया पलटवार

Rajasthan: पूनिया और देवनानी ने जताई मध्यावधि चुनाव की संभावना, कांग्रेस ने किया  पलटवार

जयपुर: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने बयान देते हुए कहा है कि प्रदेश में अभी भी मध्यावधि चुनाव की संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता है. उन्होंने बजट घोषणा घोषणाओं को मध्यावधि चुनाव से जोड़कर ही पेश करने वाला करार दिया है. कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पूनिया ने शायराना अंदाज़ में कहा...ये बात तो करते हैं आंसुओं में चिराग जलाने की, लेकिन इनके दीपक तो अभी टिमटिमाने लगे हैं. उधर कांग्रेस ने बीजेपी नेताओं की दलीलों को सिरे से नकार दिया. सदन के बाहर आरोप-प्रत्यारोप नजर आए.

वहीं बीजेपी नेताओं के लेटर बम को लेकर भी सतीश पूनिया विधानसभा के बाहर मीडिया से रूबरू होकर बोले कि संगठन में इतना बड़ा मसला नहीं था कि पत्र लिखना पड़े. व्यक्तिगत रूप से विधायक अपनी बात कह सकते थे. पूनिया ने यह भी कहा बीजेपी विधायक दल में जल्द ही सचेतक पद पर नियुक्ति हो जाएगी. पूनिया ने कहा अभी भी राजस्थान में मध्यावधि चुनाव की संभावना बन रही है.

दिल्ली की तर्ज पर जयपुर में कॉन्स्टिट्यूशन क्लब की घोषणा और मुख्यमंत्री के उस चुटकी भरे बयान पर कि जयपुर में कॉन्स्टिट्यूशन क्लब खुल जाएगा तो दिल्ली नहीं जाना पड़ेगा, पूनिया ने तंज कसते हुए कहा- हम दिल्ली भी जाएंगे... दिन में भी जाएंगे और कई बार रात में भी जाते हैं. संगठन का मसला होता है तो जाना ही पड़ता है. मुख्यमंत्री से पूछ कर हम दिल्ली नहीं जाएंगे.

वासुदेव देवनानी ने भी कहा- राजनीति संभावनाओं का खेल 
वहीं बीजेपी विधायक वासुदेव देवनानी ने भी मीडिया से रूबरू होकर कहा कि मध्यावधि चुनाव की संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता, क्योंकि राजस्थान में हालात ऐसे ही हैं. जब मीडिया ने पूछा कि क्या पुदुचेरी जैसे हालात राजस्थान में बन रहे हैं, तो उन्होंने कहा दो राज्यों को जोड़ करके नहीं देखना चाहिए. क्योंकि हर जगह परिस्थितियां अलग अलग होती हैं. लेकिन मध्यावधि चुनाव की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है. भाजपा विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा बजट को देखेंगे तो यह चुनाव जैसा ही है. इससे मध्यावधि चुनाव का जैसा ही एहसास हो रहा है. इसलिए ही इस बजट में चुनाव जैसी घोषणाएं की गई हैं, लेकिन इसमें कहीं भी वित्तीय प्रावधान नहीं किया गया है .वासुदेव देवनानी ने कहा कि राजनीति संभावनाओं का खेल है. मैंने पहले भी कहा था ये सरकार 5 साल नहीं चलेगी.

टीकाराम जूली बोले - विपक्ष मुगालते में न रहे
दूसरी ओर बीजेपी विधायकों की ओर बजट के बहाने मध्यावधि चुनाव की हवा बनाये जाने और विपक्ष की ओर से लगाए आरोपों पर श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली बोले कि विपक्ष मुगालते में न रहे. यह अशोक गहलोत सरकार है, जो मजबूत है. विपक्ष केवल मुद्दों को उछालने में माहिर है. राजस्थान में ऐसे कोई हालात नहीं हैं. 

खिलाड़ी लाल बैरवा ने कहा - भाजपा दिन में सपने देखने लगी 
वहीं कांग्रेस विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा ने भी मध्यावधि चुनाव की किसी प्रकार की संभावनाओं से इनकार किया. उन्होंने कहा भाजपा दिन में सपने देखने लगी है. बीजेपी ख्याली पुलाव पकाना बंद करें. इनके मन में बहुत दिनों से यही चल रहा है, लेकिन यह सरकार कल भी थी, आज भी है और आगे भी रहेगी. आने वाली सरकार भी कांग्रेस की ही बनेगी. जयपुर के आदर्श नगर से आने वाले कांग्रेस विधायक रफीक खान ने भी कहा बीजेपी लोकतंत्र के खिलाफ काम कर रही है. 

अभी चुनाव की बात दूर की कौड़ी:
बीजेपी के आरोप के बीच कांग्रेस नेताओं ने कहा कि राजस्थान के लिए साफ तौर पर बीजेपी में कह दिया गया है कि राजस्थान मत जाना क्योंकि वहां पर अशोक गहलोत है. राजस्थान में बीजेपी की रणनीति फेल हो गई है, अभी चुनाव की बात दूर की कौड़ी है. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए नरेश,ऐश्वर्य के साथ योगेश शर्मा की रिपोर्ट

और पढ़ें