मुंबई इस बार ईद पर बॉक्स ऑफिस रहा गुलज़ार मगर बॉलीवुड को नहीं मिली ईदी

इस बार ईद पर बॉक्स ऑफिस रहा गुलज़ार मगर बॉलीवुड को नहीं मिली ईदी

इस बार ईद पर बॉक्स ऑफिस रहा गुलज़ार मगर बॉलीवुड को नहीं मिली ईदी

मुंबई : इस बार Box Office पर Ramzaan और Eid के मौके पर कुल 600 करोड़ का बिजनेस किया जो पिछले साल की अपेक्षा कई गुना ज्यादा है. 2020 और 2021 में Eid पर कोई फिल्म रिलीज नहीं हुई थी. मगर 2019 में ईद पर कुल बॉक्स ऑफिस कलेक्शन (Box Office Collection) 200 करोड़ था जिसमें सलमान खान (Salman Khan) की भारत, स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2 शामिल थी.

मगर इस बार ये कलेक्शन 2019 की अपेक्षा 3 गुना ज्यादा है. लेकिन सबसे अचरज की बात है कि इस कलेक्शन में हिंदी फिल्म का कंट्रीब्यूशन बहुत ही कम है. इस सफलता का मुख्य कारण आरआरआर (RRR) और केजीएफ 2 (KGF2) जैसी फिल्में है. केजीएफ 2 अकेले का कलेक्शन 375 करोड़ है.ये नंबर बताने के लिए काफी है सिनेमा जगत (Bollywood) किस तरफ आगे बढ़ रहा है.

बॉलीवुड हमेशा से रमजान (Ramdan) में फिल्मों को रिलीज करने से बचाता आया है मगर ईद पर हर साल बड़े स्टार या बैनर की फिल्म की रिलीज होती थी और ये सफलता की गारंटी होती थी. बॉलीवुड का मानना था ईद (Eid), दिवाली (Diwali), क्रिसमस (Christmas)और न्यू ईयर (New Year) पर बड़ी फिल्में रिलीज होती थी और उनके निर्माता इस बात को मान कर चलते थे कि उनकी फिल्म बड़ी हिट साबित होगी ऐसा होता भी था.

लेकिन इस बार बॉलीवुड के लिए ये ईद (Eid) फीकी ही साबित हुई. न रमजान के बीच रिलीज हुई शाहिद कपूर की फिल्म जर्सी (Jersey)और जॉन अब्राहम की फिल्म अटैक(Attack) कुछ खास नहीं कर पायी और न ही ईद पर रिलीज हुई रनवे 34(Runway34) और हीरोपंती 2.(Heropanti2)

अब दर्शकों को फिल्म का कंटेंट पसंद आता है वो ही अब सबसे बड़ा हीरो है आज के दौर का न कि कोई स्टार कास्ट , आरआरआर, केजीएफ 2, पुष्पा और कश्मीर फाइल्स की सफलता यही दर्शाती है अच्छी फिल्में हमेशा चलती है उसके लिए न किसी बड़े सुपर स्टार की जरूरत है और न ही किसी बड़े त्योहार की.

और पढ़ें