गर्भवती का पेट चीर ऑपरेशन करने की बजाय आपस में भिड़ गए डॉक्टर्स, नवजात की मौत

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/08/30 10:25

जोधपुर | जोधपुर संभाग के सबसे बड़े महिला चिकित्सालय उम्मेद अस्पताल में ऑपरेशन थियेटर में बेहोश पड़ी एक महिला का ऑपरेशन करने के बजाय दो डॉक्टर आपस में भिड़ गए। महिला का ऑपरेशन प्राथमिकता से किया जाना था, लेकिन ऑपरेशन टेबल पर बेहोश पड़ी महिला को छोड़ मरीज के लिए भगवान समझे जाने वाले डॉक्टर काफी देर तक एक-दूसरे से उलझते रहे। ऑपरेशन में विलम्ब होने के कारण नवजात बच्ची की मौत हो गई दोनों के बीच इस तरह तकरार का वीडियो वायरल हो जाने के बाद सहायक आचार्य डा. अशोक नैनीवाल को निलम्बित कर दिया गया है वही प्रोफेसर डा. एमएल टाक से इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगा गया है।

उम्मेद अस्पताल में भर्ती एक गर्भवती महिला के पेट में ही बच्चे की धड़कन बंद हो गई हो गई। आनन-फानन में उसे ऑपरेशन थियेटर में पहुंचाया गया।महिला की जान बचाने के लिए उसका हाथों हाथ ऑपरेशन कर पेट से बच्चा बाहर निकालना जरूरी था नही तो बच्चे के साथ महिला की मौत हो जाने की आशंका थी। ऑपरेशन थियेटर के डॉक्टरों ने उस दौरान एक अन्य महिला का ऑपरेशन पूरा किया ही था, कि यह केस पहुंच गया। ऐसे में एनेसथैसिया के डॉक्टर एमएल टाक ने गायनी के डॉ. अशोक नैनीवाल से महिला को बेहोश करने के लिए कुछ जानकारी मांगी।

 

 

इस पर डॉ. नैनीवाल भड़क गए और जोर-जोर से बोलने लगे। उनका आरोप था कि डॉ. टाक काम करना ही नहीं चाहते, जबकि डॉ. टाक उनसे महिला से जुड़ी कुछ जानकारी मांग रहे थे ताकि उसके अनुसार बेहोश करने की दवा दी जा सके। दोनों डॉक्टरों के बीच जोरदार तकरार होती रही और अन्य डॉक्टर व कर्मचारी तमाशा देखते रहे। दोनो चिकित्सकों ने एक दूसरे पर अपशब्द बोलने का आरोप लगाया है।

इस बीच किसी कर्मचारी ने दोनों के बीच हुई तकरार का वीडियो बना सोशल मीडिया पर जारी कर दिया। वीडियो जारी होते ही हंगमा मच गया।बाद में अस्पताल अधीक्षक डॉ. रंजना देसाई अस्पताल पंहुची ओर पूरे मामले की जानकारी ली। डाॅ रजंना देसाई ने बताया कि उन्होने इस संबंध मे सभी कर्मचारियों से बात कर पूरी तथ्यात्मक रिपोर्ट काॅलेज प्राचार्य को सौंप दी है और उन्होने इस संबंध मे एक टीम का गठन कर मामलें की जांच के आदेश दिए है।

हालांकि पूरे घटनाक्रम के बाद देर रात राज्य सरकार ने सहायक आचार्य डाॅ अनिल नैनीवाल को निलम्बित कर दिया है और पूरे मामलें की जांच के हाईपावर कमेटी का गठन किया है। लेकिन इस घटनाक्रम ने पूरे चिकित्सकीय प्रोफेशन को शर्मसार कर दिया है वही चिकित्सकों की आपस की लडाई में एक नौनिहाल ने अपनी जांन गवां दी इसके लिए आखिर कौन जिम्मेदार है|

 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

जानिए गुस्से को कम करने के दिव्य मंत्र और आज के चमत्कारी टोटके|Good Luck Tips

AICC महासचिव और राजस्थान प्रभारी Avinash Pande से बेबाक बातचीत | Exclusive Interview
Big Fight Live | \'\'कमल\' के कुनबे में कलह !\' | 22 JAN, 2018
बीजेपी से बागी होकर नए मेयर बने विष्णु लाटा
ममता के गढ़ में शाह की हुंकार
EVM हैकिंग को लेकर विवाद, राहुल गांधी पर भाजपा का बड़ा हमला
15वें प्रवासी भारतीय दिवस पर PM Modi का नमो मंत्र
जानिए सर्वार्थसिद्धि योग में किये जाने वाले महा टोटकों के बारे में
loading...
">
loading...