Budget 2019: किसान और युवाओं के हित में अंतरिम बजट!

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/01 07:54

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों से पहले मोदी सरकार जनता को लुभाने की पुरजोर कोशिश में लगी है। केंद्र सरकार आज अंतरिम बजट पेश करने जा रही है। रेल मंत्री पीयूष गोयल 1 फरवरी को बजट पेश करेंगे। सूत्रों के मुताबिक, इस बजट में किसानों और बेरोजगारों पर विशेष बात की जाएगी। बतादें,किसान अपनी मांगों के पूरी नहीं होने की वजह से सरकार से नाराज चल रहे हैं। वहीं प्रतियोगी परीक्षाओं का समय पर परिणाम नहीं आने, बार-बार घोटाले होने और तय समय पर भर्तीयां नहीं निकालने से प्रतियोगी विद्यार्थी केंद्र सरकार से खफा चल रही है, सरकार उन्हें रिझाने का पूरा प्रयास करेगी।

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक शुक्रवार को पेश होने वाले अंतरिम बजट में ग्रामीण क्षेत्र के लिए 1.3 ट्रिलियन रुपये यानी 18.25 अरब डॉलर का प्रावधान किया जा सकता है। पिछले बार ग्रामीण क्षेत्र के लिए 1.12 ट्रिलियन रुपये के बजट का प्रावधान किया गया था। वित्तमंत्री पीयूष गोयल लोकसभा में अपने बजट भाषण के दौरान ग्रामीण बजट को बढ़ाने की घोषणा कर सकते हैं। वर्तमान में मोदी सरकार पर ग्रामीण क्षेत्रों के विकास में जोर देने का दबाव है। आपको बता दें कि देश की दो तिहाई ग्रामीण क्षेत्र में ही रहती है।

जानकारी के मुताबिक साल 2019-20 के वित्त वर्ष में रोजगार गारंटी कार्यक्रम के लिए 600 अरब रुपये आवंटित कर सकती है, जो पिछले वित्त वर्ष से 9 फीसदी ज्यादा होगा। इसके अलावा ग्रामीण विकास मंत्रालय रोजगार गारंटी के तहत मजदूरी में करीब 70 फीसदी की बढ़ोत्तरी करने की भी योजना में हैं। पिछले साल एक संसदीय पैनल ने ग्रामीण विकास मंत्रालय से मजदूरी में वृद्धि करने को कहा था। इसके अलावा सरकार एक अन्य योजना के तहत 300 अरब रुपये आवंटित कर सकती है, जो पहले से तीन गुना ज्यादा होगा। इससे करीब तीन करोड़ गरीबों को फायदा होगा, जिसमें विधवा महिलाएं और दिव्यांग भी शामिल हैं।
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in