close ads


चीन ने लगाई मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के प्रस्ताव पर रोक

चीन ने लगाई मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के प्रस्ताव पर रोक

नई दिल्ली। जैश सरगना मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकी घोषित करने की कोशिशों को चीन ने फिर से नाकाम कर दिया है। चीन ने मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के प्रस्ताव पर वीटो लगा दिया । इसके साथ ही ये प्रस्ताव रद्द हो गया है । फ्रांस, अमेरिका और ब्रिटेन द्वारा मसूद के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में लाए गए प्रस्ताव के खिलाफ बुधवार को वीटो लगा दिया। पिछले दस साल में यह चौथा मौका है, जब चीन ने अपने स्वार्थ के चलते मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचाया है। 

सूत्रों की माने तो चीन इस बात पर अड़ा हुआ है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद और मसूद अजहर का आपस में कोई लिंक नहीं है। चीन की दलील है कि पहले भी मसूद के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले। इधर भारत ने अमेरिका, फ्रांस के साथ पुलवामा आतंकी हमले के कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज़ शेयर किये हैं, ताकि मसूद के खिलाफ़ संयुक्त राष्ट्र में पुख्ता सबूत पेश किये जा सकें। भारत को अमेरिका का ज़बरदस्त साथ मिला है।

चीन के नापाक मंसूबों का पता समिति की बैठक से ठीक पहले ही लग गया था, जब उसने पुलवामा समेत कई आतंकी हमलों के गुनहगार मसूद के खिलाफ भारत से और सुबूत की मांग की थी। उसे प्रस्ताव को रोकने के लिए चीन ने पैंतरा चलते हुए कहा था कि इस मुद्दे का ऐसा समाधान होना चाहिए, जो सभी पक्षों को स्वीकार्य हो। 


 

और पढ़ें