कांग्रेस में भाजपा की तरह मन की बात जनता पर थोपी नहीं जाती : सीएम गहलोत

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/08 03:18

जालोर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज सांचोर के पथमेड़ा गोधाम पहुंचे, जहां उन्होंने बाढ़ प्रभावित गोशाला क्षेत्र का अवलोकन किया। सीएम गहलोत ने यहां बीमार गोवंश के उपचार व्यवस्था देखकर सराहना की और कहा कि गोमाता की ऐसी सेवा मैंने पहली बार देखी है। उन्होंने यहां खुद अपने हाथों से गोवंशों को गुड़ भी खिलाया और कहा कि गाय माता की सेवा करें उन्हें आवारा नहीं छोड़ें। बता दें कि पिछले साल यहां बाढ़ के चलते कई गोवंश की मौत हो गई थी। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ मंत्री हरीश चौधरी, सुखराम विश्नोई, उदयलाल आंजना भी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने जालोर दौरे के तहत आज सुंधा माता के दर्शन भी किए। गहलोत ने यहां मीडिया से बातचीत में ​कहा कि जब भी हम किसी मंदिर अथवा धार्मिक स्थल पर जाते हैं, तो मन में यही कामना रहती है कि प्रदेश में हमेशा खुशहाली रहे और हर 'प्राणी मात्र का कल्याण हो। वहीं पावापुडी में आयोजित दिव्यांगों के कार्यक्रम उन्होंने कहा कि इस तरह के कैंप पूरे संभाग में लगाए हैं, आज सिरोही के अंदर यह शिविर आयोजित हो रहा है। मुझे खुशी है कि ये कैंप कामयाब हो रहे हैं, जिससे दिव्यांगों का भला होता है। उन्हें बिना किसी चार्ज के ट्राई साइकिल दी जाती है और आर्टिफिशल पैर इत्यादी लगाने का काम होता है।

इन सबसे इतर सीएम गहलोत ने आने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर कहा कि जालोर विधानसभा में हम कुछ कारणों से नहीं जीत पाए, लेकिन लोकसभा चुनाव में यह सीट कांग्रेस की झोली में ही आएगी। मुझे विश्वास है कि जालोर-सिरोही की इस बार जनता का आर्शीवाद मिलेगा। वहीं उन्होंने भाजपा के जालोर जिलाध्यक्ष के आरोप पर कहा कि हम भाजपा की बातों में आएंगे तो शासन कैसे करेंगे। भाजपा को इस तरह की बात कहनी भी चाहिए, इस तरह की बात कहकर वे खुद वैभव गहलोत का नाम चमका रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस का एक ही एजेंडा रहता है कि लोकतंत्र में किसी से किसी की दुश्मनी नहीं होती। सबको अपनी-अपनी बात को जनता के सामने रखना चाहिए, आखिर जनता ही हमारी माई-बाप होती है। हमें प्यार, सद्भाव व आपसी भाइचारे के साथ राजनीति करनी चाहिए। हमारी सरकार जनता की बात सुनकर ही फैसले लेती है। राहुल गांधी भी यही चाहते हैं कि जनता की तकलीफ को सुन कर उन्हें दूर किया जाए और विभिन्न वर्गों की राय जानकर फैसले लिए जाए। कांग्रेस में भाजपा की तरह मन की बात लोगों पर थोपा नहीं जाता है।

आने वाले लोकसभा चुनावों को लेकर उम्मीदवार तय किए जाने के बारे सीएम गहलोत ने कहा कि कांग्रेस में कोई भी उम्मीदवार जनता पर थोपा नहीं जाएगा। कार्यकर्ताओं एवं आमजन की सोच के अनुसार ही पार्टी इस बारे में फैसला लेगी। चाहे कोई भी संभाग हो कांग्रेस जनता और कार्यकर्ताओं की बात सुनती आई है और जनता, कार्यकर्ताओं व नेताओं की भावना के अनुरूप ही फैसले किए जाएंगे।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in