Live News »

लिस्ट का पोस्टमार्टम : कांग्रेस ने मरे हुए शख्स को ही बना डाला ब्लॉक अध्यक्ष
लिस्ट का पोस्टमार्टम : कांग्रेस ने मरे हुए शख्स को ही बना डाला ब्लॉक अध्यक्ष

बीकानेर (लक्ष्मण राघव)। रविवार को प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा ब्लॉक अध्यक्षों की घोषणा की गई है, जिसमें कांग्रेस ने 400 से अधिक ब्लॉक अध्यक्षों की लिस्ट जारी की है। कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्षों की इस जम्बो लिस्ट में कांग्रेस की एक बड़ी चूक भी सामने आई है, जिसमें बीकानेर में एक मृत व्यक्ति को ही कांग्रेस का अध्यक्ष बना डाला। पेश है एक विशेष रिपोर्ट...

प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा जारी की गई ब्लॉक अध्यक्षों की नियुक्ति में आज एक बड़ी चूक हुई बीकानेर पश्चिम में ब्लॉक बी में कांग्रेस ने विजय आचार्य गट्टू महाराज को ब्लॉक अध्यक्ष घोषित कर दिया, जिनका देहांत हो चुका है। ऐसे में कांग्रेस के इस लिस्ट को लेकर खासी चर्चा हो गई। फर्स्ट इंडिया न्यूज़ ने जैसे ही खबर को ब्रेक किया, उसके बाद से ही प्रदेश की सियासत में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया।

भाजपा शहर जिला अध्यक्ष सत्यप्रकाश आचार्य ने चुटकी लेते हुए कहा कि जिस कांग्रेस को अपने कुनबे का ही ध्यान नहीं है, वह जनता की क्या चिंता करेगी। गौरतलब है कि विजय आचार्य इंडियन आइडल रहे स्वर्गीय संदीप आचार्य के पिता ​थे। पूरे मामले को लेकर जब पड़ताल की गई तो सामने आया कि उनकी मृत्यु हो चुकी है।

इस मसले पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने जवाब देते हुए कहा कि, 'हां, दिक्कत हुई है, लेकिन हम जल्द ही नया नाम घोषित कर देंगे।' पायलट ने कहा कि जल्द ही नया नाम घोषित कर दिया जाएगा। अब चाहे जो भी सफाई दी जाए, मानवीय भूल करार दिया जाए, लेकिन निश्चित तौर पर कांग्रेस की इस गलती को लेकर अब सियासत शुरू हो गई है। कांग्रेस के वर्तमान राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने कहा भी था  कि हर गलती कीमत मांगती है, सवाल यह है कि यह गलती किस स्तर पर हुई।

चर्चा इस बात की भी है कि क्या कांग्रेस में गुटबाजी के चलते ऐसा हुआ है? बीकानेर शहर कांग्रेस अध्यक्ष ने क्या इस बात को ध्यान में नहीं रखा कि आखिर यह कैसे हुआ। हालांकि पूरे मामले में सचिन पायलट ने संजीदगी दिखाते हुए कहा है कि हम जल्द ही नए नाम घोषित कर देंगे, पर कहते हैं राजनीति में मानवीय भूल का कोई स्थान नहीं है। ऐसे में भाजपाई अब कांग्रेस की लिस्ट पर सवाल खड़ा कर रहे हैं। कांग्रेस की इस भूल पर केन्द्रीय राज्य मंत्री अर्जुन मेघवाल ने भी अचरज जताया है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in