नई दिल्ली Coronavirus Cases: देश में कोरोना संक्रमण ने पकड़ी रफ्तार, 24 घंटे में 37379 नए केस, ओमिक्रोन के मामले बढ़कर हुए 1892

Coronavirus Cases: देश में कोरोना संक्रमण ने पकड़ी रफ्तार, 24 घंटे में 37379 नए केस, ओमिक्रोन के मामले बढ़कर हुए 1892

Coronavirus Cases: देश में कोरोना संक्रमण ने पकड़ी रफ्तार, 24 घंटे में 37379 नए केस, ओमिक्रोन के मामले बढ़कर हुए 1892

नई दिल्ली: देश के 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ के अब तक 1,892 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 766 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं या विदेश चले गए हैं.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार को अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक नये स्वरूप के महाराष्ट्र में सबसे अधिक 568 मामले सामने आए और इसके बाद दिल्ली में 382, केरल में 185, राजस्थान में 174, गुजरात में 152, और तमिलनाडु में 121 मामले सामने आए हैं.

मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, भारत में एक दिन में कोविड-19 के 33,379 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,49,60,261 हो गई है जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 1,71,830 पर पहुंच गई है. आंकड़ों के मुताबिक 124 और संक्रमितों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,82,017 हो गई है. उपचाराधीन मामले संक्रमण के कुल मामलों का 0.49 प्रतिशत हैं जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.13 प्रतिशत है. पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 26,248 मामलों की वृद्धि दर्ज की गई है.

संक्रमण की दैनिक दर 3.24 प्रतिशत और साप्ताहिक दर 2.05 प्रतिशत दर्ज:
मंत्रालय के अनुसार, संक्रमण की दैनिक दर 3.24 प्रतिशत और साप्ताहिक दर 2.05 प्रतिशत दर्ज की गई. देश में अब तक कुल 3,43,06,414 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 से मृत्यु दर 1.38 प्रतिशत है. राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत कोविड-19 रोधी टीकों की अब तक 146.70 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है.

देश में 2020 में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी. वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे. देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ के पार तथा चार मई 2021 को दो करोड़ के पार और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार चले गए थे. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें