भैरोसिंह शेखावत के परिजनों को खाली करना होगा सरकारी बंगला, एडीएम के आदेश पर अदालत ने लगायी मुहर

भैरोसिंह शेखावत के परिजनों को खाली करना होगा सरकारी बंगला, एडीएम के आदेश पर अदालत ने लगायी मुहर

भैरोसिंह शेखावत के परिजनों को खाली करना होगा सरकारी बंगला, एडीएम के आदेश पर अदालत ने लगायी मुहर

जयपुर: पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत के परिजनों को सिविल लाइन स्थित बंगला संख्या 14 खाली करना होगा. जयपुर एडीएम-2 पुरुषोत्तम शर्मा द्वारा दिये गये आदेश पर मुहर लगाते हुए एडीजे 15 की अदालत ने विक्रमादित्यसिंह की अपील को खारिज कर दिया है. इसके साथ ही जज कुंतल जैन ने फैसले के खिलाफ अपील करने तक आदेश की क्रियान्विती पर रोक लगाने को लेकर दायर प्रार्थना पत्र भी खारिज कर दिया गया है. राज्य का सार्वजनिक निर्माण विभाग विधिअनुसार बंगला खाली करने की कार्यवाही कर सकता है.

कई बार नोटिस दिए गए पर बंगला खाली नहीं हुआ: 
गौरतलब है कि सरकार ने सिविल लाइंस स्थित बंगला नंबर 14 पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत को आवंटित किया था. उनके निधन के बाद उनकी पत्नी सूरज कंवर को यह आवास दिया गया. उनका भी निधन हो गया. इसके बाद परिवार को कई बार नोटिस दिए गए पर बंगला खाली नहीं हुआ. एडीएम-2 पुरुषोत्तम शर्मा ने 9 अक्टूबर 2019 को पीडब्ल्यूडी के 2017 में दायर किए गए प्रार्थना पत्र आदेश देते हुए परिजनों को बंगला खाली करने को कहा था. पूर्व उपराष्ट्रपति के दत्तक पुत्र विक्रमादित्य ने एडीएम के आदेश के खिलाफ जिला न्यायायल में अपील पेश कर चुनौति दी. एडीजे 15 की अदालत ने फैसला सुनाते हुए विक्रमादित्य की अपील को खारिज करते हुए बंगला खाली करने के आदेश दिये है. गौरतलब है कि राज्य में नई सरकार बनने के बाद यह बंगला विधानसभा के मुख्य सचेतक डॉ.महेश जोशी को आवंटित किया गया है. 

और पढ़ें