युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा, टीम इंडिया को जिताए दो वर्ल्ड कप

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/06/10 01:48

मुंबई: भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार खिलाड़ी युवराज सिंह ने मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. युवराज सिंह ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास की घोषणा की है. युवराज ने अपने करियर की शुरुआत सौरव गांगुली की कप्तानी में साल 2000 में नैरोबी में की थी. तब केन्या के खिलाफ पदार्पण वनडे मुकाबले में उनकी बैटिंग नहीं आई थी. युवी ने अपना आखिरी वनडे दो साल पहले 30 जून 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था. 

युवी ने जिताए हैं टीम इंडिया को दो वर्ल्ड कप
युवराज ने 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप में 6 मैचों में 148 रन बनाए और मैन ऑफ द सीरीज रहे. इसी टूर्नामेंट में उन्होंने इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की छह गेंदों पर छह छक्के जड़े थे. युवराज सिंह ने कैंसर से जुझते हुए भारत को 2011 के विश्व कप को जिताने में अहम भूमिका निभाई थी. वह प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बने थे. 

युवराज सिंह 2019 क्रिकेट वर्ल्ड कप में खेलना चाहते थे
युवराज सिंह 2019 क्रिकेट वर्ल्ड कप में खेलना चाहते थे. लेकिन खराब फॉर्म और फिटनेस के कारण उनका यह सपना अधूरा रह गया. युवराज सिंह टीम इंडिया के ऐसे चुनिंदा खिलाड़ियों में से रहे, जिन्होंने वनडे और टी-20 में जबरदस्त सफलता हासिल की. हालांकि टेस्ट में उनका प्रदर्शन औसत रहा. 

युवी ने देश के लिए 304 वनडे खेलकर 8701 रन बनाए
युवी ने देश के लिए 304 वनडे खेलकर 8701 रन बनाए. उन्होंने 14 शतक भी जड़े. वनडे क्रिकेट में युवराज के नाम 111 विकेट भी हैं. वहीं टी-20 क्रिकेट में युवराज ने 58 मैच खेलकर 117 रन बनाए. इस प्रारूप में उनके नाम 8 अर्धशतक हैं. टी-20 में उन्होंने 28 विकेट चटकाए हैं. टेस्ट क्रिकेट में युवराज का बल्ला खामोश रहा है. उन्होंने 40 टेस्ट खेलकर 1900 रन बनाए. इनमें 3 शतक भी शामिल हैं.

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in