चक्रवाती तूफान ‘वायु’ ने धारण किया रौद्र रूप, हजारों लोगों को पहुंचाया सुरक्षित स्थानों पर, कई ट्रेनें रद्द

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/06/12 03:55

अहमदाबाद: चक्रवाती तूफान ‘वायु’ तेजी से गुजरात के तट की ओर बढ़ रहा है. अभी इसका असर मुंबई में दिखना शुरू हुआ है. मुंबई में तेज हवाओं के साथ बारिश होने से पेड़ गिर रहे हैं. ऐसे में गुजरात में सतर्कता और कड़ी कर दी गई है. PM मोदी ने भी ट्वीट कर राज्य सरकार को हर संभव मदद देने की बात कही है. गुजरात में NDRF की 51 टीमों को तैनात किया गया है, जो हर चुनौती का सामना करने को तैयार हैं. मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात वायु बुधवार देर रात या गुरुवार सुबह गुजरात के तट से टकरा सकता है. इस दौरान इसकी रफ्तार 75 किमी से लेकर अधिकतम 135 किमी प्रति घंटा तक रह सकती है. इस चक्रवाती तूफान के तांडव से निपटने के लिए सरकार ने पूरी तरह से कमर कस ली है. 

चक्रवात पड़ोसी राज्य गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ क्षेत्रों की ओर लगातार बढ़ रहा है
चक्रवात ‘वायु’ के ‘बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान’ में बदल जाने के कारण महाराष्ट्र में मुंबई और पड़ोस के कुछ तटीय इलाकों में बुधवार सुबह तेज हवाएं चलीं. भारतीय मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवात पड़ोसी राज्य गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ क्षेत्रों की ओर लगातार बढ़ रहा है. मौसम विभाग के अनुसार ‘‘चक्रवात वायु बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है.

राहत-बचाव कार्य जारी
भारतीय वायु सेना के एक अधिकारी के मुताबिक पश्चिमी तट पर रह रहे लोगों को एहतियाती तौर पर निकालने में आईएएफ की मदद करने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की टीमें गुजरात पहुंचनी शुरू हो गई है. हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. राज्य सरकार ने कहा कि राहत-बचाव टीम करीबी तीन लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने में जुटी है.

भारतीय सेना आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार
भारतीय तटरक्षक बल, नौसेना, सेना और वायु सेना की इकाइयों को आपात स्थिति के लिए तैयार रखा गया है और निगरानी विमान और हेलीकॉप्टर हवाई सुरक्षा के लिए अभियान चला रहे हैं. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को चक्रवात से निपटने की तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को लोगों की सुरक्षा के लिए हर संभव कदम उठाने का निर्देश दिया.

ट्रेनों पर असर
तूफान ‘वायु’ को देखते हुए आज शाम से 6 बजे से कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. पश्चिम रेलवे के मुताबिक, वेरावल, ओखा, पोरबंदर, भावनगर, भुज और गांधीधाम स्टेशनों के लिए 14 जून तक ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. साथ ही हर स्टेशन से एक स्पेशल ट्रेन का इंतजाम किया गया है.

संबंधित कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द 
हाल में राज्य चक्रवात फोनी से बुरी तरह प्रभावित हुआ है. ऐसे में मुख्यमंत्री ने सभी संबंधित कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी हैं और उन्हें ड्यूटी पर आने का निर्देश दिया गया है. कल मंत्रिमंडल की बैठक के बाद सभी मंत्री राहत और बचाव अभियान का जायजा लेने के लिये विभिन्न जिलों में जायेंगे.

10 जिलों के स्कूलों और कॉलेजों में 13 और 14 जून को दो दिन की छुट्टी की घोषणा
चक्रवात वायु के मद्देनजर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पूरे राज्य में 13 से 15 जून तक 3 दिवसीय शाला प्रवेशोत्सव (स्कूल उत्सव का स्वागत) रद्द कर दिया है. वहीं जहां चक्रवात का असर देखा जा सकता है उन 10 जिलों के स्कूलों और कॉलेजों में 13 और 14 जून को दो दिन की छुट्टी की घोषणा की है. वहीं वलसाड में बारिश ने भी दस्तक दे दी है.

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in