दूर है अभी दिवाली, फिर भी नहीं मिल रही सीटें खाली

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/08/10 01:52

जयपुर। दिवाली में अभी करीब तीन माह का समय बाकी है, लेकिन ट्रेनों में सीटें फुल हो चुकी हैं। लम्बी दूरी की कई ट्रेनों में वेटिंग 100 के आस-पास पहुंच चुकी है। वहीं कुछ में तो टिकट भी बुक नहीं हो रही है। धार्मिक स्थलों के लिए भी दिवाली पर जोरदार मारामारी रहेगी। आखिर क्यों फुल हो रही है ट्रेनों में अभी से सीटें और क्या है सीटें मिलने की संभावाना, जानते हैं इस स्पेशल रिपोर्ट में...

दिवाली पर हर कोई अपने घर लौटना चाहता है। दीपों के इस पर्व को अपनों के बीच मनाने के लिए लोग अपनी सीट कन्फर्म कर लेना चाहते हैं। ऐसे में लोग अभी से सीट बुक कर लेना चाहते हैं, लेकिन दलालों के आगे आम यात्री बेबस नजर आ रहे हैं। दिवाली पर कई ट्रेनों में सीटें अभी से बुक कर ली गई हैं। यहां तक कि कई ट्रेनों में तो वेटिंग 100 से भी ऊपर पहुंचने लगी है।

ट्रेनों में सीट की बुकिंग यात्रा की तारीख से 4 माह पहले शुरू हो जाती है। ऐसे में दलालों ने रेलवे अधिकारियाें के साथ मिलीभगत कर दिवाली से पहले जाने और बाद में आने की सीटें बुक कर ली हैं। हालांकि रेलवे प्रशासन दलालों का दखल नहीं होने और पूर्ण पारदर्शिता का दावा करता है, लेकिन आम यात्रियों को ऑनलाइन सर्च करने या रेलवे स्टेशन पहुंचने पर वेटिंग बताई जा रही है।

सबसे ज्यादा वेटिंग कोलकाता, पटना और लखनऊ जाने वाली ट्रेनों में देखने को मिल रही है। इन ट्रेनों में स्लीपर क्लास की वेटिंग अभी 50 से 110 के बीच चल रही है। इसी तरह धार्मिक स्थलों पर जाने वाली ट्रेनों में भी सीट नहीं मिल रही है। मां वैष्णों देवी के दर्शनों के लिए जम्मू की बात करें या फिर हरिद्वार और वाराणसी जैसे धार्मिक स्थलों की, सभी के लिए ट्रेनों में सीट उपलब्ध नहीं है।

दरअसल, इतनी लंबी वेटिंग आने पर सीट का कन्फर्म होना संभव नहीं है। दिवाली के लिए ट्रेन में यदि अभी से सीट बुक की जाती है और टिकट पर वेटिंग 50 तक मिलती है तो इसके कन्फर्म होने की संभावना है। लेकिन 50 से ज्यादा यदि वेटिंग मिलती है तो टिकट का कन्फर्म होना संभव नहीं है। ऐसे में रेलवे प्रशासन को यात्रियों को सीट मुहैया कराने के लिए अतिरिक्त इंतजाम करने होंगे।

जिन ट्रेनों में लंबी वेटिंग चल रही है, या तो उनमें अतिरिक्त डिब्बे रेलवे प्रशासन को जोड़ने होंगे। या फिर नवरात्रि से दिवाली के बीच की अवधि में लखनऊ, पटना, कोलकाता शहरों के लिए कुछ स्पेशल ट्रेनें भी संचालित करनी होंगी। ऐसे में जरूरत इस बात की है कि रेलवे प्रशासन यात्रियों की परेशानी को देखते हुए दिवाली पर अतिरिक्त इंतजाम करें।

3 नवंबर को दिवाली से पहले किस शहर के लिए कितनी वेटिंग :

शहर

ट्रेन संख्या और नाम

  स्लीपर में वेटिंग

कोलकाता

12988 अजमेर-सियालदाह

112

कोलकाता

12308 जोधपुर-हावड़ा

100

लखनऊ

19601 उदयपुर-न्यूजलपाईगुडी

114

लखनऊ

19269 पोरबंदर मोतिहारी

102 बुकिंग रिग्रेट

पटना

12396 जियारत एक्सप्रेस

67

पटना

12316 अनन्या एक्सप्रेस

100

हैदराबाद

19713 जयपुर-सिकंदराबाद

आरएसी 5

अहमदाबाद

12916 आश्रम एक्सप्रेस

1

जम्मू

12413 पूजा एक्सप्रेस

12

हरिद्वार

19031 हरिद्वार मेल

26

वाराणसी

14864 मरुधर एक्सप्रेस

79

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Big Fight Live | \'सियासी गलियारों में आज क़यामत की रात | 10 DEC, 2018

मतगणना से पहले सुरक्षा व्यवस्थाओं को लेकर एडिशनल डीसीपी से खास बातचीत
रिजर्व बैंक के गर्वनर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा
विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर आज आ सकता है बड़ा फैसला
संसद सत्र हंगामेदार रहने के आसार
प्रधानमंत्री कार्यालय के PRO जगदीश ठक्कर का निधन
धौलपुर जेल से कैदी का वीडियो वायरल
मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन
loading...
">
loading...