प्रतापगढ़: चचेरे भाई ने ही की थी मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या, पुलिस ने 48 घंटे में ही किया वारदात का खुलासा

प्रतापगढ़: चचेरे भाई ने ही की थी मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या, पुलिस ने 48 घंटे में ही किया वारदात का खुलासा

प्रतापगढ़: चचेरे भाई ने ही की थी मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या, पुलिस ने 48 घंटे में ही किया वारदात का खुलासा

प्रतापगढ़: जिले के छोटी सादड़ी थाना क्षेत्र के मेघपुरा गांव में 2 दिन पहले एक मासूम का अपहरण कर उसके साथ रेप और हत्या करने के मामले में पुलिस ने 48 घंटे में ही वारदात का खुलासा करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी मृतका का ही चचेरा भाई है. मामले को लेकर सोमवार को आई जी बिनीता ठाकुर खुद छोटी सादड़ी पहुंची और घटनास्थल पर जाकर मौका मुआयना किया.

वारदात के समय घर में मासूम की मां और उसकी दो बहनें भी सोई हुई थी: 
आईजी रेंज उदयपुर बिबनीता ठाकुर सोमवार को मासूम के साथ बलात्कार और हत्या के मामले को लेकर स्वयं मेघपुरा गांव पहुंची. यहां पर घटनास्थल का मुआयना कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. शाम को बिनीता ठाकुर ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 28 नवंबर को छोटी सादड़ी थाने में मेघपुरा निवासी एक व्यक्ति ने मामला दर्ज करवाया था कि उसका भाई बकरियां खरीदने के लिए मारवाड़ गया हुआ है. पीछे से 27 नवंबर की रात उसके घर से 8 साल की मासूम बेटी को अज्ञात व्यक्ति उठाकर ले गया है. वारदात के समय घर में मासूम की मां और उसकी दो बहनें भी सोई हुई थी. उनके द्वारा आसपास तलाश भी किया गया लेकिन उसकी कोई जानकारी नहीं मिली है. पुलिस ने मामला दर्ज कर उच्चाधिकारियों को सूचना दी थी.

बालिका के गुप्तांग और शरीर पर खून लगा हुआ था: 
मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी चुनाराम जाट ने प्रकरण को महिला यौन उत्पीड़न प्रकोष्ठ को सौंपा था. पुलिस को  जांच के दौरान मेघपुरा गांव में ही एक सूखे कुएं में बालिका का शव मिलने की सूचना मिली. पुलिस टीम ने ग्रामीणों की मदद से शव को बाहर निकलवाया तो बालिका के गुप्तांग और शरीर पर खून लगा हुआ था जिससे उसके साथ रेप करने और उसके बाद हत्या करने की बात सामने आई. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी इस बात की पुष्टि हुई. 

चचेरा भाई घटनाक्रम के बाद से ही गायब है और छिपता फिर रहा था: 
जांच के दौरान घटनास्थल का एफएसएल टीम द्वारा मुआयना किया गया मुखबिर की सूचना और डॉग स्क्वायड की भी मदद ली गई. इस दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि मासूम का चचेरा भाई घटनाक्रम के बाद से ही गायब है और छिपता फिर रहा है. अंतिम संस्कार के दौरान भी वह शामिल नहीं हुआ. इस पर पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की आज वह अपने घर पर ही मिल गया. जिससे मनोवैज्ञानिक तरीके से पूछताछ की गई तो उसने वारदात करना कबूल कर लिया. पूछताछ में उसने मासूम के साथ रेप करने उसके बाद गला दबाकर हत्या करने के साथ उसके शव को कुएं में फेंकने की बात कुबूल की. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

और पढ़ें