Live News »

JLF 2020: अभिनेत्री नंदिता दास ने किया सीएए और एनआरसी का विरोध, कहा- दोनों कानूनों में एक बेहद खतरनाक रिश्ता

JLF 2020: अभिनेत्री नंदिता दास ने किया सीएए और एनआरसी का विरोध, कहा- दोनों कानूनों में एक बेहद खतरनाक रिश्ता

जयपुर: राजस्थान की राजधानी में जयपुर लिट्रेचर फेस्टिवल-2020 के पहले दिन अभिनेत्री नंदिता दास ने पत्रकारों से बातचीत में खुलकर सीएए और एनआरसी का विरोध किया. JLF में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए नंदिता ने कहा, 'भारत एक सेक्युलर कंट्री है, लेकिन देश में आज बहुत समस्याएं हैं. उन्होंने कहा- दोनों कानूनों में एक बेहद खतरनाक रिश्ता है. 

दिल्ली की तरह शाहीन बाग हर जगह बन रहे: 
उन्होंने कहा कि यह ऐसा कानून है, जिसके जरिए आपसे भारतीय होने का सूबत मांगा जा रहा है. देश में ऐसा पहली बार हो रहा है, जब धर्म के नाम पर लोगों को विभाजित किया जा रहा है. दिल्ली की तरह शाहीन बाग हर जगह बन रहे हैं. देश में बेरोजगारी इतनी बढ़ गई है, जो पहली कभी नहीं थी. आर्थिक हालत में बद्तर होते जा रहे हैं. छात्रों ने इसकी शुरुआत की है. इसके खिलाफ सभी को आवाज उठानी चाहिए. उन्होंने कहा कि मतभेद होना अलग बात है, लेकिन सभी को अपनी बात रखने का अधिकार है.

सभी को बोलने का अधिकार: 
अभिनेत्री नंदिता दास ने कहा कि फिल्मी जगत के लोग भी पहली बार इस तरह के कानून के खिलाफ बोलने लगे हैं. सभी को बोलने का अधिकार है. नसीरूद्दीन शाह और अनुपम खेर के बीच बयान देने से बचती नजर आईं नंदिता ने कहा चीखने चिल्लाने से कोई काम नहीं होगा. मैं अपनी बात कहूंगी, जो मुझे बोलने की आजादी है. यह संदेश देने का वक़्त नहीं बल्कि सोचने का वक़्त है कि किस तरह का समाज चाहते हैं. आज मंटो होते तो शायद वे भी दुखी होते. 70 साल बाद भी हमें वैसे ही बांटने की कोशिश हो रही है. 

देशभर को एक प्रोटेस्ट में जानबूझकर झोंक दिया गया:
नंदिता दास ने कहा कि देशभर को एक प्रोटेस्ट में जानबूझकर झोंक दिया गया है, इस पर भी प्रधानमंत्री को फुरसत नहीं कि वो जाकर लोगों से बात करें. नागरिक के तौर पर देश में हर किसी को केंद्र सरकार के किसी भी फैसले के खिलाफ बात करने का अधिकार है, विरोध का अधिकार है. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in