जयपुर जयपुर एयरपोर्ट पर घटा फ्लाइट संचालन, कम यात्रीभार के चलते एयरलाइंस के लिए संकट

जयपुर एयरपोर्ट पर घटा फ्लाइट संचालन, कम यात्रीभार के चलते एयरलाइंस के लिए संकट

जयपुर एयरपोर्ट पर घटा फ्लाइट संचालन, कम यात्रीभार के चलते एयरलाइंस के लिए संकट

जयपुर: राजधानी जयपुर के सांगानेर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (jaipur airport) पर इन दिनों फ्लाइट संचालन (flight operations) में कमी देखी जा रही है. एयरपोर्ट पर इन दिनों रोज औसतन 50 फ्लाइट ही संचालित हो रही हैं. जबकि 2 माह पहले अप्रैल में रोज औसतन 55 फ्लाइट चल रही थीं. दरअसल घरेलू फ्लाइट संचालन में कमी आई है. इसके पीछे यात्रीभार की कमी को प्रमुख कारण माना जा रहा है. 

एयरलाइंस से जुड़े सूत्रों की मानें तो एविएशन टरबाइन फ्यूल यानी विमानों के ईंधन की दरें अधिक होने से हवाई यात्रा करना महंगा पड़ रहा है. लगभग सभी एयरलाइंस ने किराया दरें बढ़ाई हुई हैं. जिससे यात्रीभार में अपेक्षाकृत रूप से कमी देखने को मिल रही है. यात्रीभार घटने की वजह से ही एयरलाइंस फ्लाइट रद्द कर रही हैं. फ्लाइट रद्द करने में एयर एशिया एयरलाइन सबसे आगे है. एयर एशिया की औसतन रोजाना 3 फ्लाइट रद्द होती हैं. स्पाइसजेट और अलायंस एयर की फ्लाइट भी कई बार रद्द हो जाती हैं. यहां तक कि देश की सबसे बड़ी विमानन कम्पनी इंडिगो भी फ्लाइट संचालन को नियमित नहीं रख पा रही है.

कम यात्रीभार के चलते रद्द हो रही हैं फ्लाइट:
- रात में इंडिगो की गोवा, एयर इंडिया की कोलकाता फ्लाइट कई बार होती रद्द
- एयर एशिया की मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद, दिल्ली की फ्लाइट होती अक्सर रद्द
- स्पाइसजेट की फ्लाइट सबसे ज्यादा रहती हैं लेट, हालांकि रद्द का आंकड़ा कम
- स्पाइसजेट की अमृतसर की फ्लाइट रहती है कई बार रद्द
- अलायंस एयर की दिल्ली की 2 में से एक फ्लाइट रोज औसतन रहती रद्द
- गो फर्स्ट की अहमदाबाद की फ्लाइट भी नियमित नहीं
- इंडिगो की सूरत, चंडीगढ़, इंदौर की फ्लाइट रहती कभी-कभी रद्द

और पढ़ें